Tuesday, February 7, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

बॉल टेंपरिंग विवाद 2016: ‘अधिकारियों ने ड्रेसिंग रूम में घुसकर’…David Warner के मैनेजर ने किया बड़ा खुलासा….

David Warner: ऑस्ट्रेलिया टीम फिलहाल वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच खेल रही है। इस बीच साल 2016 में हुए बॉल टेंपरिंग विवाद ने एक बार फिर जोर पकड़ा है। इस मामले में ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम के पूर्व कप्तान डेविड वार्नर के मैनेजर ने चौंकाने वाला खुलासा किया है।

वार्नर के मैनेजर एर्सकिन ने एक इंटरव्यू में दावा किया है कि ‘6 साल पहले साउथ अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन टेस्ट मैच के दौरान बॉल टैम्परिंग का वाकया क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अधिकारियों के दबाव के कारण हुआ था, इसमें खिलाड़ियों की ज्यादा गलती नहीं है।’

और पढ़िए – PAK vs ENG: दूसरे टेस्ट मैच में पहले गेंदबाजी करेगा पाकिस्तान, टीम में हुए कई बड़े बदलाव

मीडिया में चल रही खबरों की मानें तो वार्नर के मैनेजर एर्सकिन ने अपने बयान में कहा कि ‘मैच के दौरान क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के दो एग्जीक्यूटिव ड्रेसिंग रूम में आए थे। वे चाहते थे कि ऑस्ट्रेलिया की टीम हर हाल में मैच जीते। इस पर वार्नर ने कहा कि यह तभी हो सकता है जब गेंद रिवर्स स्विंग हो और गेंद तभी रिवर्स स्विंग हो सकती है जब उसके साथ छेड़छाड़ की जाए।

अधिकारियों ने बॉल को टैम्पर करने को कहा

मैनेजर एर्सकिन ने आगे कहा कि ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अधिकारियों ने फिर खिलाड़ियों से बॉल को टैम्पर करने को कहा। क्योंकि वे हर हाल में जीत हासिल करना चाहते थे। इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम ने बॉल को खराब करने का फैसला किया।’ ये पूरी घटना टीवी कैमरे में कैद हो गई थी, इसके बाद इस मामले में आरोपी खिलाड़ियों पर बैन लगा था।

इन खिलाड़ियों पर गिरी थी गाज, वार्नर पर लगा था लाइफटाइम लीडरशिप बैन

आपको बता दें कि बॉल टेंपरिंग मामले में तत्कालीन कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर 1-1 साल का बैन लगाया गया था। वहीं गेंद को सैंड पेपर से खराब करने वाले कैमरून बेनक्रॉफ्ट को 6 महीने की सजा सुनाई गई थी। इतना ही नहीं डेविड वार्नर पर लाइफटाइम लीडरशिप बैन लगा दिया गया। यानी वार्नर भविष्य में टीम की कप्तानी नहीं कर सकते थे।

उस वक्त वार्नर के परिवार की हालत कैसी थी?, जेम्स एर्सकिन किया ये दावा

जेम्स एर्सकिन ने ये भी दावा किया है कि जब बॉल टेंपरिंग का पूरा विवाद चल रहा था, उस वक्त वॉर्नर का परिवार काफी डिस्टर्ब था, डेविड वॉर्नर की वाइफ कैंडिस ने इस दौरान एक बच्चा भी खो दिया था, जो परिवार के लिए एक बड़ा झटका था।

एर्सकिन बोले- सच्चाई बाहर आई तो कई अधिकारियों के नाम भी सामने आएंगे

डेविड वार्नर के मैनेजर यही नहीं रुके उन्होंने अपने बयान में कहा कि 2018 में साउथ अफ्रीका दौरे पर बॉल टेंपरिंग के लिए वार्नर पर आजीवन लीडरशिप बैन लगाना गलत है, क्योंकि अगर सच्चाई बाहर आई तो कई बड़े खिलाड़ी और बोर्ड के अधिकारियों के नाम भी सामने आएंगे।

और पढ़िए –  PAK vs ENG: पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट मैच आज से शुरू, भारत में ऐसे देख सकेंगे लाइव

ऑस्ट्रेलिया बुरी तरह हारी थी मैच

जिस मैच में बॉल टेंपरिंग हुई थी वह साल 2016 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ कैप टाइन में खेला गया था। इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम 85 पर ऑलआउट हो गई थी और पारी के अंतर से मैच हारी थी।

डेविड वार्नर ने बैन हटाने का अनुरोध वापस लिया

डेविड वार्नर के मैनेजर के इस खुलासे से पहले बॉल टैम्परिंग के लिए आजीवन कप्तानी के लिए बैन का सामना कर रहे डेविड वार्नर ने ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड से बैन हटाने के लिए अनुरोध भी किया था, जिसे अब उन्होंने वापस ले लिया है। अनुरोध को वापस लेने के बाद वार्नर ने कहा कि जांच के नाम पर उनकी पब्लिक लिंचिंग की कोशिश हो रही थी। इस वजह से उनका परिवार काफी तनाव में था और उन्होंने अनुरोध वापस ले लिया।

और पढ़िए – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -