---विज्ञापन---

खराब मौसम के बाद जम्मू-कश्मीर में 4 की मौत, हिमाचल में हाईवे बंद, जानें IMD का अलर्ट

Weather Update: दिल्ली में 24 घंटे के भीतर 4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। हिमाचल प्रदेश में भूस्खलन से सिरमौर जिले के शिलाई और पांवटा के बीच नेशनल हाईवे 707 बाधित है। जम्मू-कश्मीर में मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। यहां हिमपात से आम जनजीवन प्रभावित है। पंजाब और हरियाणा में बारिश होने का अनुमान है।

Edited By : Amit Kasana | Updated: Mar 3, 2024 18:04
Share :
Weather
जम्मू कश्मीर में मकान ढहा

Jammu Kashmir House collapsed: वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी हो रही है, वहीं, राजस्थान में तेज बारिश से फसल बर्बाद हो गई है। उधर, मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में सुबह साढ़े आठ बजे तक 4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। यहां आगे भी बारिश और ठंडी हवाएं चलने के आसार हैं। हिमाचल प्रदेश में भूस्खलन हो गया है, जिससे यहां सिरमौर जिले के शिलाई और पांवटा के बीच नेशनल हाईवे 707 बाधित है।

मां और तीन बेटियों की मौत  

हिमालयन रीजन पर वेस्टर्न डिस्टरबेंस सक्रिय है, जिसके चलते देश में कहीं बारिश तो कहीं बर्फबारी और ओलावृष्टि हो रही है। इसी बीच जम्मू-कश्मीर में बिगड़े मौसम से जानमाल का नुकसान हुआ है। यहां जम्मू के चसाना गांव में शनिवार आधी रात के बाद एक घर अचानक भरभराकर ढह गया। जिसके मलबे के नीचे दबने से एक महिला और उसकी तीन बेटियों की मौत हो गई।

बुजुर्ग दंपति घायल

चसाना गांव में एक अन्य मकान गिरने से बुजुर्ग दंपति घायल हुए हैं। दोनों फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं। जम्मू पुलिस के अनुसार चसाना से सूचना मिली की एक मकान ढह गया है। मौके पर पहुंचे तो कच्चा मकान गिर गया था, जिसमें महिला फलाला अख्तर, उनकी बेटी नसीमा अख्तर, सफीन कौसर और समरीन अख्तर ने मौके पर दम तोड़ दिया था। पुलिस के अनुसार समरीन दो माह की थी। अभी पुलिस बचाव कार्य ही कर रही थी कि पास में ही एक और मकान और ढह गया जिसमें बुजुर्ग कालू और उनकी पत्नी बानो बेगम घायल हुए हैं।

राजस्थान में फसल बर्बाद

जानकारी के अनुसार पुल डोडा में रविवार को भूस्खलन हो गया। जिसमें पहाड़ से बड़े पत्थर सड़क पर जा रहे एक वाहन के ऊपर गिर पड़े। पुलिस के अनुसार कड़ी मशक्कत के बाद वाहन में से एक शख्स को जिंदा बचाया गया है। वह चोटिल है, उसका इलाज चल रहा है। इसके अलावा राजस्थान के जालोर जिले के कई इलाकों में अभी तक 14 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। जिससे यहां रानीवाड़ा, लाखावास, मेडा गोलवाड़ा, रोपसी सेवाड़ा सांकड़ समेत अन्य गांवों में फसलों को नुकसान पहुंचा है। राज्य सरकार नुकसान का आंकलन कर रही है। किसानों के अनुसार जीरा की फसल पर ज्यादा नुकसान हुआ है, पानी पड़ने से वह बर्बाद हो गई।

First published on: Mar 03, 2024 05:04 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें