Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

‘राहुल गांधी, पीएम मोदी की सबसे बड़ी संपत्ति हैं’, तेलंगाना के CM के बेटे का कांग्रेस पर पलटवार

Telangana Assembly Elections 2023 KT Rama Rao PM Modi Rahul Gandhi BJP Congress BRS: केटी रामा राव ने राज्य में भाजपा और कांग्रेस की वर्तमान स्थिति के बारे में कहा कि तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी निचले स्तर पर पहुंच गई है।

Edited By : Om Pratap | Updated: Nov 8, 2023 16:30
Share :
Telangana Assembly Elections 2023, KT Rama Rao, PM Modi, Rahul Gandhi, BJP, Congress, BRS
भारत राष्ट्र समिति के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामा राव। -फाइल फोटो

Telangana Assembly Elections 2023 KT Rama Rao PM Modi Rahul Gandhi BJP Congress BRS: भारत राष्ट्र समिति (BRS) के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामा राव ने बुधवार को कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। इंडिया टुडे के एक कार्यक्रम में तेलंगाना के मुख्यमत्री केसीआर के बेटे और राज्य के मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सबसे बड़ी संपत्ति हैं।

केटी रामाराव ने कहा कि राहुल गांधी और उनकी कांग्रेस पार्टी भाजपा को हराने में असमर्थ हैं और यदि वे ऐसा कर सकते तो उन्हें उत्तर प्रदेश, बिहार और गुजरात में भाजपा को हराना चाहिए था। तेलंगाना में, बीआरएस ही ऐसी पार्टी है, जो भाजपा को हराने में सक्षम हैं, इसके विपरीत कांग्रेस हमें रोकने की कोशिश में जुटी है। इसलिए मेरा मानना है कि राहुल गांधी, प्रधानमंत्री मोदी के लिए सबसे बड़ी संपत्ति हैं।

पिछले चुनावों के बारे में केटीआर ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि उनकी पार्टी अपने ही पिछले रिकार्ड को तोड़ेगी। उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों ने हमें लगातार दो कार्यकाल सेवा करने का मौका दिया है। हम पिछली बार की तुलना में अधिक मतों से जीतेंगे।

ये भी पढ़ें: भाजपा-कांग्रेस पर हमला बोलते हुए तेलंगाना CM के. चंद्रशेखर राव बोले- ‘अब राष्ट्रीय पार्टियों का युग जाने वाला है’

केटीआर बोले- राहुल गांधी को अपनी कमजोरियों पर काम करना चाहिए

केटीआर ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी देश में किसी तीसरे व्यक्ति को उभरते देखना चाहेंगे। वे देश को किसी और के बारे में बात नहीं करने देंगे। केटीआर ने कहा कि राहुल का आरोप है कि हर दूसरी पार्टी बीजेपी की बी-टीम है, उन्हें अपनी कमजोरियों पर काम करना चाहिए।

तेलंगाना के मंत्री ने कहा कि मोदी जी भी नहीं चाहेंगे कि मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव दोबारा जीतें, क्योंकि इसका असर महाराष्ट्र और अन्य राज्यों पर भी पड़ेगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) डूबता हुआ जहाज है और हम उनके साथ गठबंधन नहीं करना चाहते हैं। प्रधानमंत्री ने (अपने घोषणापत्र के माध्यम से) कई बार देश से झूठ बोला है।

केटीआर ने इस बारे में भी बात की कि क्या वे कई मौजूदा उम्मीदवारों को बदलना चाहते हैं। उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि हमारी पार्टी किसी भी घोषित उम्मीदवार को बदलने नहीं जा रही है। राजनीति में वफादारी नाम की भी कोई चीज होती है। 2018 में भी मुख्यमंत्री केसीआर ने 90 प्रतिशत मौजूदा विधायकों को मैदान में उतारा था और इस बार भी ऐसा ही किया है। हमें विश्वास है कि हमारे प्रत्याशी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे।

ये भी पढ़ें: Telangana Assembly Elections 2023: KCR से लेकर KTR तक… तेलंगाना विधानसभा चुनाव में ये 10 सीटों हॉट क्यों?

केटीआर ने अपनी पार्टियों की उपलब्धियों पर भी बात की

केटी रामा राव ने अपनी पार्टी की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि हमारा आईटी निर्यात बढ़ा है, हमारे धान का उत्पादन बढ़ा है। हम भारत की अर्थव्यवस्था में चौथे सबसे बड़े योगदानकर्ता हैं और सबसे अधिक पंचायत पुरस्कारों वाला राज्य हैं। कर्नाटक के बारे में बात करते हुए केटीआर ने कहा, ‘कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने पिछले 10 सालों में राज्य में शासन किया है, जबकि तेलंगाना में हमें दो मौके दिए गए और हमने उन्हें (भाजपा-कांग्रेस) काफी हद तक हराया है।’

केटीआर ने वंशवाद वाली राजनीति के आरोपों पर कहा कि हम लोकतांत्रिक तरीके से सत्ता के लिए चुने गए हैं। राहुल गांधी और पीएम मोदी को इससे क्या समस्या हो सकती है? मैं और मेरी पार्टी का मानना ​​है कि भारत में पिछड़ेपन के लिए कांग्रेस और भाजपा जिम्मेदार हैं।

तेलंगाना में बीजेपी, कांग्रेस को लोग वोट देने को तैयार नहीं: केटीआर

केटी रामा राव ने राज्य में भाजपा और कांग्रेस की वर्तमान स्थिति के बारे में कहा कि तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी निचले स्तर पर पहुंच गई है। लोग आज भाजपा या कांग्रेस को वोट देने के लिए तैयार नहीं हैं। केटीआर ने कहा कि प्रत्येक भारतीय को आज मोदी जी को घर भेजने की दिशा में काम करना चाहिए, फिर उन्हें सोचना चाहिए कि प्रधानमंत्री कौन होना चाहिए? केटीआर ने कहा कि केसीआर जैसे नेता एक राष्ट्रीय संपत्ति हैं, जिन्होंने समाज के सभी वर्गों के उत्थान के लिए काम किया है।

ये भी पढ़ें: पूर्व क्रिकेटर और तेलंगाना चुनाव में कांग्रेस कैंडिडेट मोहम्मद अजहरुद्दीन की बढ़ी मुश्किलें, 4 केस दर्ज

बीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि आखिरकार, जब लोग वोट देने जाते हैं, तो लोगों को यह ध्यान रखना चाहिए कि कांग्रेस को पहले ही 55 साल दिए गए हैं, जबकि भाजपा को 17 साल दिए गए हैं। केटीआर ने कहा कि तेलंगाना में जीत के बाद हम महाराष्ट्र में भी प्रवेश करेंगे। बता दें कि तेलंगाना में 30 नवंबर को मतदान होगा और वोटों की गिनती 3 दिसंबर को होगी।

First published on: Nov 08, 2023 04:21 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें