Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

हाइडल प्रोजेक्ट केस में CBI का एक्शन, जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के परिसरों पर छापेमारी

CBI Raid On Satya Pal Malik Premises : केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) हाइडल प्रोजेक्ट में हुए कथित भ्रष्टाटार के मामले में विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर रहा है। जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के परिसरों पर भी एजेंसी छापेमारी कर रही है।

Edited By : Gaurav Pandey | Updated: Feb 22, 2024 11:22
Share :
Satya Pal Malik
Satya Pal Malik (ANI)

CBI Raid On Satya Pal Malik Premises in Jammu Kashmir : जम्मू-कश्मीर में हाइडल प्रोजेक्ट में कथित भ्रष्टाचार को लेकर सीबीआई छापेमारी कर रही है। जिन जगहों पर सीबीआई यह कार्रवाई कर रही है उनमें केंद्र शासित प्रदेश के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के परिसर भी शामिल हैं। बता दें कि यह मामला हाइडल प्रोजेक्ट के लिए एक कॉन्ट्रैक्ट देने में किए गए कथित भ्रष्टाचार से जुड़ा हुआ है। रिपोर्ट्स के अनुसार सीबीआई की छापेमारी 30 से अधिक परिसरों पर चल रही है।

अधिकारियों ने बताया कि यह मामला कीरू हाइड्रो इलेक्ट्रिक पावर प्रोजेक्ट के 2200 करोड़ रुपये के सिविल वर्क देने में किए गए कथित भ्रष्टाचार से जुड़ा है। सत्यपाल मलिक 23 अगस्त 2018 से 30 अक्टूबर 2019 तक जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल रहे थे। उनका दावा है कि उन्हें दो फाइल क्लीयर करने के लिए 300 करोड़ रुपये की रिश्वत की पेशकश की गई थी। इनमें से एक फाइल 624 मेगावाट के किरू प्रोजेक्ट से जुड़ी हुई थी, जो किश्तवाड़ जिले में चेनब नदी पर बनाया जा रहा है।

किसान का बेटा हूं, घबराऊंगा नहीं: मलिक

वहीं, इस छापेमारी को लेकर सत्यपाल मलिक की ओर से प्रतिक्रिया भी आ गई है। उन्होंने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर एक पोस्ट में लिखा कि मैं पिछले 3-4 दिन से बीमार हूं और अस्पताल में हूं। इसके बाद भी मेरे मकान पर तानाशाही के जरिए सरकार एजेंसियों से छापेमारी कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि मेरे ड्राइवर और सहायक को बेवजह परेशान किया जा रहा है। मैं किसान का बेटा हूं, इससे घबराऊंगा नहीं। मैं किसानों के साथ हूं।

पिछले महीने मिली थी नकदी और सामान

इस मामले में सीबीआई ने पिछले महीने दिल्ली और जम्मू-कश्मीर में करीब आठ जगहों पर छापेमारी की थी। इस दौरान एजेंसी ने डिजिटल डिवाइसेज, कंप्यूटर्स, प्रॉपर्टी के दस्तावेज और आपत्तिजनक कागजातों के साथ 21 लाख रुपये से अधिक का कैश बरामद किया था। सीबीआई के एक प्रवक्ता के अनुसार एक निजी कंपनी सीवीपीपीपीएल के निदेशकों, एमडी और चेयरमैन समेत अन्य के खिलाफ सत्यपाल मलिक की ओर से मिले एक रेफरेंस के आधार पर एक मामला दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें: किसान आंदोलन के बीच पहली बार बोले पीएम मोदी

ये भी पढ़ें: थमने की बजाय क्यों उग्र होता जा रहा किसान आंदोलन

ये भी पढ़ें: इस राज्य में हैं सबसे ज्यादा ‘लखपति दीदी’; देखें लिस्ट

 

First published on: Feb 22, 2024 10:45 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें