Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

राहुल गांधी के DU दौरे पर प्रॉक्टर ने जताई आपत्ति, बोलीं- हम यूनिवर्सिटी को राजनीतिक अखाड़ा नहीं बनाना चाहते

Rahul Gandhi DU Visit: कांग्रेस नेता राहुल गांधी के दिल्ली यूनिवर्सिटी के दौरे को लेकर DU प्रॉक्टर ने आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि शनिवार को कांग्रेस नेता की अनधिकृत यात्रा पर आपत्ति जताते हुए कहा कि वे विश्वविद्यालय परिसर को राजनीतिक अखाड़ा में बदलने के पक्ष में नहीं हैं। बता दें कि राहुल गांधी ने […]

Edited By : Om Pratap | Updated: May 7, 2023 08:20
Share :
delhi university, rahul gandhi, nsui, congress, du, rajni abbi

Rahul Gandhi DU Visit: कांग्रेस नेता राहुल गांधी के दिल्ली यूनिवर्सिटी के दौरे को लेकर DU प्रॉक्टर ने आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि शनिवार को कांग्रेस नेता की अनधिकृत यात्रा पर आपत्ति जताते हुए कहा कि वे विश्वविद्यालय परिसर को राजनीतिक अखाड़ा में बदलने के पक्ष में नहीं हैं। बता दें कि राहुल गांधी ने शुक्रवार को दिल्ली यूनिवर्सिटी नॉर्थ कैंपस में दिल्ली यूनिवर्सिटी के पोस्ट ग्रेजुएट मेन्स हॉस्टल का दौरा किया था और छात्रों से बातचीत की थी।

शनिवार को न्यूज एजेंसी ANI से टेलीफोन पर बातचीत में डीयू की प्रॉक्टर रजनी अब्बी ने कहा कि  लगभग 1:10 या 1:15 बजे मुझे कहीं से फोन आया कि राहुल गांधी पीजी मेन हॉस्टल में आए हैं। अब प्रॉक्टर होने के नाते मुझे इसकी जानकारी होनी चाहिए थी। राहुल गांधी को अनुमति या पुलिस सुरक्षा या कुछ भी लेना चाहिए था क्योंकि वे राष्ट्रीय महत्व के व्यक्ति हैं।

Image

रजनी अब्बी ने कहा कि राहुल गांधी के पास जेड प्लस सुरक्षा है, इसलिए मैं तुरंत पीजी मेन्स हॉस्टल गई और मैंने वहां सैकड़ों छात्रों को देखा। राहुल गांधी इस दौरान मेस में बैठे थे और खाना खा रहे थे। इस दौरान वहां एनएसयूआई के करीब 100 छात्र थे।

रजनी बोलीं- राजनीतिक गतिविधियों की नहीं मिलेगी अनुमति

रजनी अब्बी ने आगे चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि भगवान न करे कुछ भी गलत न हो, लेकिन मान लीजिए कि कुछ भी गलत हो जाता तो कौन जिम्मेदार होता? उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में राजनीतिक गतिविधियों की अनुमति नहीं दी जाएगी और इसके लिए जो भी जिम्मेदार होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Image

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने न तो उन्होंने विश्वविद्यालय से कोई अनुमति ली थी और न ही प्रॉक्टर कार्यालय, हॉस्टल या क्षेत्र के एसएचओ को बताया गया था। यदि इस प्रकार की चीजें होती हैं, तो कल अन्य पार्टियों के नेता भी कॉलेज का दौरा शुरू करेंगे। हम विश्वविद्यालय को राजनीतिक अखाड़ा नहीं बनाना चाहते हैं, इसलिए विश्वविद्यालय में इन सभी चीजों की अनुमति नहीं दी जाएगी और इसके लिए जो भी जिम्मेदार होगा, हम उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

बता दें कि पिछले महीने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष गांधी ने मुखर्जी नगर इलाके में संघ लोक सेवा आयोग और कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों से बातचीत की थी।

First published on: May 07, 2023 08:20 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें