Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

‘2023 में फिर से अविश्वास के लिए तैयार रहें’, 2019 में की गई पीएम मोदी की ‘भविष्यवाणी’ वायरल

PM Modi Prediction: विपक्षी दलों ने बुधवार यानी आज केंद्र सरकार के खिलाफ लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। इसके थोड़ी देर बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल होने लगा। वायरल वीडियो 2019 का बताया जा रहा है, जिसमें पीएम मोदी 2023 में एक बार फिर से अविश्वास प्रस्ताव की ‘भविष्यवाणी’ कर रहे हैं। 2019 […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Jul 27, 2023 13:20
Share :
PM Modi Prediction, PM Prediction viral, no confidence motion Prediction

PM Modi Prediction: विपक्षी दलों ने बुधवार यानी आज केंद्र सरकार के खिलाफ लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। इसके थोड़ी देर बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल होने लगा। वायरल वीडियो 2019 का बताया जा रहा है, जिसमें पीएम मोदी 2023 में एक बार फिर से अविश्वास प्रस्ताव की ‘भविष्यवाणी’ कर रहे हैं।

2019 में भी विपक्ष की ओर से सदन में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया था। इस प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जवाब देते हुए वीडियो वायरल हो गया है। वीडियो में पीएम मोदी ने मजाक में इसके पीछे के दलों को 2023 में भी इसी तरह की कवायद पेश करने के लिए तैयार रहने के लिए कहा था।

वायरल वीडियो को केंद्रीय मंत्री जीतेंद्र सिंह ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया। वीडियो में 2019 में अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में जवाब देते हुए पीएम मोदी को कहते हुए सुना जा सकता है कि मैं आपको शुभकामनाएं देना चाहता हूं कि आप इतनी तैयारी करें कि आपको 2023 में फिर से अविश्वास लाने का मौका मिले।

एक विपक्षी सदस्य को जवाब देते हुए, पीएम मोदी ने कहा कि यह अहंकार का परिणाम था कि 2014 के लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की सीटें एक समय में 400 से गिरकर लगभग 40 हो गईं।

यह भी पढ़ें: MCL 2023: ‘छक्कों की बारिश’, Heinrich Klaasen ने तूफानी शतक ठोक मचाई तबाही, राशिद खान की गेंदों को बना दिया ‘रॉकेट’

कांग्रेस, केसीआर की पार्टी ने केंद्र के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया

कांग्रेस और भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) ने बुधवार को मणिपुर मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के खिलाफ लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग करते हुए नोटिस सौंपा। लोकसभा में कांग्रेस के उपनेता गौरव गोगोई ने लोकसभा महासचिव के कार्यालय को एक नोटिस सौंपा।

अविश्वास प्रस्ताव के लिए एक अलग नोटिस भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) के फ्लोर लीडर नागेश्वर राव ने स्पीकर को सौंपा था। बीआरएस का नेतृत्व तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव कर रहे हैं। विपक्षी दल मणिपुर में हिंसा का इस्तेमाल भाजपा सरकार को चार मोर्चों पर घेरने की कोशिश कर रहे हैं।

संसद के मानसून सत्र के पहले दिन से ही विपक्षी दल मांग कर रहे हैं कि पीएम मोदी मणिपुर में हुई हिंसा पर बोलें। संसद का मानसून सत्र 20 जुलाई से शुरू हुआ था।

और पढ़िए – ट्रेंडिंग से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

First published on: Jul 26, 2023 11:53 AM
संबंधित खबरें