---विज्ञापन---

9 साल पहले गायब हुआ प्लेन जिसका अबतक नहीं चला पता, एक्सपर्ट ने बताई चौंकाने वाली बात

Malaysia Airlines MH370 Story: विशेषज्ञों ने बताया कि नया खोज क्षेत्र इस विश्वास पर आधारित था कि गायब हुए विमान का अपहरण किया गया और जानबूझकर गहरे समुद्र में गिरा दिया गया।

Edited By : Shubham Singh | Updated: Dec 25, 2023 16:43
Share :

Missing Malaysia Airlines flight MH370: आज से 9 साल पहले 8 मार्च 2014 को गायब हुए मलेशियन एयरलाइन्स के विमान का जल्द ही पता चल सकता है। मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर एयरपोर्ट से उड़ान भरने वाले इस विमान में 237 लोग सवार थे। इसमें 227 यात्री और बाकी क्रू मेंबर थे। इस विमान को 27 साल के फारिक अहमद उड़ा रहे थे। दावा किया गया है कि इस विमान को जल्द ही खोज लिया जाएगा और इसके रहस्य से पर्दा उठ जाएगा। इस विमान के गायब होने का मामला भी जल्द ही सुलझ जाएगा।

चीन के बीजिंग की तरफ जा रहा यह विमान उड़ान भरने के 38 मिनट बाद लापता हो गया था। काफी खोजबीन के बाद भी इसका पता नहीं चल पाया। विमान का कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा था। इसमें सवार लोगों के बारे में कुछ भी पता नहीं चल पाया था। कई सरकारी और निजी कंपनियों को विमान की खोज में लगाया गया, लेकिन सफलता नहीं मिली।

ये भी पढ़ें-दिसंबर में ही कोरोना के नए वैरिएंट आने की क्या है वजह? सर्दियां शुरू होते ही अचानक बढ़ते हैं केस

जल्द ही सुलझाया जा सकता है रहस्य

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सितंबर महीने में एयरोस्पेस विशेषज्ञ जीन-ल्यूक मारचंद और पायलट पैट्रिक ब्लेली ने उड़ान के बारे में खुलासे के आधार पर एक नई खोज का आह्वान किया। रॉयल एयरोनॉटिकल सोसाइटी के समक्ष एक व्याख्यान के दौरान इस जोड़ी ने कहा कि नए खोज क्षेत्र को केवल 10 दिनों में प्रचारित किया जा सकता है।

विशेषज्ञों ने खुलासा किया है कि अगर नई खोज की जाए तो मलेशिया एयरलाइंस की लापता उड़ान संख्या 370 का रहस्य कुछ ही दिनों में सुलझ सकता है। मारचंद ने कहा कि, ‘हमने अपना होमवर्क कर लिया है, हमारे पास एक प्रस्ताव है, क्षेत्र छोटा है और नई क्षमताओं को देखते हुए इसमें 10 दिन लगेंगे।

क्या हुआ था इस विमान का अपहरण?

इस जोड़ी ने एक नई खोज शुरू करने के लिए ऑस्ट्रेलियाई परिवहन सुरक्षा प्राधिकरण, मलेशियाई सरकार और एक्सप्लोरेशन कंपनी ओशन इन्फिनिटी को बुलाया। इस जोड़ी ने आरएएस को बताया कि नया खोज क्षेत्र इस विश्वास पर आधारित था कि गायब हुए विमान का अपहरण किया गया और जानबूझकर गहरे समुद्र में गिरा दिया गया था। मारचंद ने कहा कि ‘हमें लगता है और हमने जो अध्ययन किया है उससे पता चला है कि विमान के अपहरण को एक अनुभवी पायलट ने अंजाम दिया होगा।

ये भी पढ़ें-कौन थे आतंकियों से लोहा लेने वाले करणबीर सिंह नट? 8 साल कोमा में रहने के बाद हुआ निधन

First published on: Dec 25, 2023 04:04 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें