Saturday, 13 April, 2024

---विज्ञापन---

Kolkata: 6-8 लोगों से 20 हजार करोड़ मांगकर बची मोदी सरकार… क्यों ममता बनर्जी ने कही इतनी बड़ी बात

Kolkata: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि बुधवार को मोदी सरकार गिर रही थी। जानते हैं क्यों…? उन्होंने इसकी वजह भी बताई। उन्होंने कहा कि क्योंकि शेयर बाज़ार धड़ाम से गिरा है और यह किसके कारण हुआ यह तो आप जानते ही हैं मैं फिर से बोलकर शर्मिंदा नहीं करना […]

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Feb 2, 2023 22:27
Share :
Kolkata, CM Mamta Banerjee, West Begal, Narenra Modi Govt, gautam Adani, Hindenburg Report, Hindenburg, Union Budget 2023, Budget 2023
ममता बनर्जी ने अडानी को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला।

Kolkata: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि बुधवार को मोदी सरकार गिर रही थी। जानते हैं क्यों…? उन्होंने इसकी वजह भी बताई। उन्होंने कहा कि क्योंकि शेयर बाज़ार धड़ाम से गिरा है और यह किसके कारण हुआ यह तो आप जानते ही हैं मैं फिर से बोलकर शर्मिंदा नहीं करना चाहती।

इशारों में ममता बनर्जी ने अडानी को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के बजट में बेरोजगारों के लिए एक शब्द नहीं कहे गए।

ममता बनर्जी ने बताया कैसे बची मोदी सरकार

ममता बनर्जी ने कहा कि जब इनकी (BJP) सरकार गिर रही थी तो कुछ लोगों से मदद ली गई। 6-8 लोगों से 20 हजार करोड़-10 हजार करोड़ मांगकर जिनके शेयर गिरे हैं उन्हें देने को कहा गया। इस तरह सरकार बची है। उन्होंने कहा कि एक सरकार में अगर प्लानिंग नहीं होगी तो ऐसा ही होगा। इन्होंने राज्य का 100 दिन रोजगार का पैसा काटा। इस बजट में केंद्र ने राज्य के 60,000 करोड़ रुपए काटे हैं।

दरअसल, ममता बनर्जी ने गुरुवार को बर्दवान में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की। तभी उन्होंने Union Budget 2023 को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा।

ममता बनर्जी ने कहा कि चुनाव नजदीक आते ही मोदी सरकार 2 करोड़ नौकरी देने का वादा करती है। लेकिन चुनाव खत्म होते ही नौकरी खा लेते हैं।

Hindenburg की रिपोर्ट के बाद से शेयरों में गिरावट

दरअसल, अमेरिकी रिसर्च फर्म Hindenburg की रिपोर्ट के बाद से अडानी ग्रुप के शेयरों में लगातार गिरावट हो रही है। बुधवार को जब संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश कर रही थीं। उस वक्त भी अडानी ग्रुप के सभी शेयरों में बेचने की होड़ देखी गई।

गौतम अडानी ने कहा, ‘मेरे लिए मेरे निवेशकों का हित सर्वोपरि है। इसलिए निवेशकों को संभावित नुकसान से बचाने के लिए हमने FPO वापस ले लिया है। इस निर्णय का हमारे मौजूदा परिचालनों और भविष्य की योजनाओं पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। हम समय पर क्रियान्वयन पर ध्यान देना जारी रखेंगे।

First published on: Feb 02, 2023 10:27 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें