---विज्ञापन---

Karnataka Election Results: कर्नाटक में चुनाव लड़े मंत्रियों का क्या हुआ? जानें बोम्मई सरकार के मंत्रिमंडल का पूरा रिपोर्ट कार्ड

Karnataka Election Results: कर्नाटक में विधानसभा चुनाव-2023 के नतीजे पूरी तरह स्पष्ट हो गए हैं। कांग्रेस ने भाजपा से सत्ता छीन ली है। इस चुनाव में भाजपा ने अपने 31 मंत्रियों में से 25 को मैदान में उतारा था। सिर्फ आवास बुनियादी ढांचा विकास मंत्री वी सोमन्ना को छोड़कर सभी को उनकी पारंपरिक सीट से […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: May 13, 2023 19:34
Share :
Karnataka CM Tassel, Congress, Basavaraj Bommai
Basavaraj Bommai

Karnataka Election Results: कर्नाटक में विधानसभा चुनाव-2023 के नतीजे पूरी तरह स्पष्ट हो गए हैं। कांग्रेस ने भाजपा से सत्ता छीन ली है। इस चुनाव में भाजपा ने अपने 31 मंत्रियों में से 25 को मैदान में उतारा था। सिर्फ आवास बुनियादी ढांचा विकास मंत्री वी सोमन्ना को छोड़कर सभी को उनकी पारंपरिक सीट से भाजपा ने टिकट दिया था। वी सोमन्ना चामराजनगर और वरुणा दो सीट से चुनाव लड़ रहे थे। वरुणा में उनका मुकाबला कांग्रेस के दिग्गज और पूर्व सीएम सिद्धारमैया से था। वी सोमन्ना दोनों सीट हार गए।

कर्नाटक में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शिग्गांव से 35 हजार से अधिक मतों के अंतर और 54.95 प्रतिशत वोट शेयर के साथ जीत हासिल की है। बोम्मई सहित एक दर्जन कैबिनेट मंत्रियों ने जीत हासिल की, जबकि 11 मंत्रियों को जनता ने हार का स्वाद चखाया है। दक्षिण भारत में भाजपा के पास सिर्फ कर्नाटक ही एक ऐसा राज्य था, जहां सरकार थी। लेकिन अब वह भी भाजपा ने खो दी है। फिलहाल आइए जानते हैं कौन मंत्री जीता और किसे मिली हार?

इन मंत्रियों ने जीतीं अपनी सीटें

तीर्थहल्ली से अरागा ज्ञानेंद्र, गदग से सीसी पाटिल, औरद से प्रभु चौहान, यशवंतपुर से एसटी सोमशेखर, केआरपुरम से बयारती बसवराज, महालक्ष्मी लेआउट से गोपालैया, निप्पनी से शशिकला जोले, करकल से सुनील कुमार राजराजेश्वरी नगर से मुनिरत्न और येल्लापुर से शिवराम हेब्बार।

ये मंत्री नहीं बचा पाए अपनी सीट

बेल्लारी से बीएस श्रीरामुलु, चिक्कानायकनहाली से मधुस्वामी, मुधोल से गोविंदा काजोल, चिकबल्लापुर से स्वास्थ्य और कल्याण मंत्री के सुधाकर, होसकोटे से एमटीबी नागराज, हिरेकेरूर से बीसी पाटिल, बीलागी से मुरुगेश निरानी, कृष्णाराजपेट से केसी नारायणगौड़ा, तिप्तुर से बीसी नागेश और नवलगुंड से शंकर पाटिल।

2018 में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी

2018 के विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। उसके बाद कांग्रेस को 78 सीट और जनता दल (सेक्युलर) को 37 सीटें मिली थीं। भाजपा ने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। हालांकि इस बार भाजपा और जेडीएस ने अलग-अलग चुनाव लड़ा।

यह भी पढ़ें: Karnataka Election Results: कर्नाटक के नतीजों ने दिखाई 2024 लोकसभा चुनाव की झलक, शरद पवार ने गिनाई बीजेपी की हार की वजह

First published on: May 13, 2023 07:34 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें