Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

इंडिया गठबंधन से क्यों अलग हो गए नीतीश कुमार? केसी त्यागी ने बताई वजह

बिहार में अचानक से ऐसा क्या हुआ कि नीतीश कुमार ने इंडिया गठबंधन से अलग होने का फैसला ले लिया। इसे लेकर जेडीयू नेता केसी त्यागी ने बड़ा खुलासा किया।

Edited By : Deepak Pandey | Updated: Jan 30, 2024 23:54
Share :
JDU leader KC Tyagi Chai Wala Interview with Manak Gupta
नीतीश कुमार के इंडिया गठबंधन से अलग होने को लेकर केसी त्यागी ने बड़ा खुलासा किया है।

JDU leader KC Tyagi Chai Wala Interview with Manak Gupta : बिहार में इंडिया गठबंधन से अलग होकर सीएम नीतीश कुमार एनडीए में शामिल हो गए हैं। नीतीश की पार्टी जेडीयू का लालू यादव की पार्टी आरजेडी, कांग्रेस और लेफ्ट से गठबंधन टूट गया, जिससे बिहार में इंडिया गठबंधन की सरकार गिर गई। इसके बाद एनडीए के सपोर्ट से एक बार फिर नीतीश की सरकार बन गई। बिहार के इस सियासी घटनाक्रम और नीतीश कुमार के एक बार फिर पाला बदलने पर जेडीयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता केसी त्यागी ने न्यूज 24 के एग्जीक्यूटिव एडिटर मानक गुप्ता के साथ ‘चाय वाला इंटरव्यू’ में खुलकर बातचीत की।

जेडीयू के प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहा कि पार्टी चाहती थी कि इंडिया गठबंधन में नीतीश कुमार पीएम फेस बनें और इसके लिए वे योग्य भी थे, लेकिन विपक्षी दलों ने उनकी बात नहीं मानी। राजनीति में हम कोई संन्यास लेने के लिए नहीं आए हैं, पद की इच्छा किसको नहीं है। उन्होंने बिना किसी पार्टी का नाम लिए कहा कि बिहार में सरकार बनाने के लिए हमारे कुछ विधायकों से संपर्क करने की कोशिश की गई थी।

यह भी पढे़ं : नीतीश कुमार की वापसी से NDA नहीं JDU को ही फायदा, आंकड़ों में समझें समीकरण

पीएम फेस के लिए खड़गे के नाम के प्रस्ताव से नाराज थे नीतीश

केसी त्यागी ने कहा कि हमने राहुल गांधी के बराबर सीएम अरविंद केजरीवाल को बैठाया। मल्लिकार्जुन खड़गे के बराबर सीएम ममता बनर्जी को बैठाया। पहले तय हुआ था कि लोकसभा चुनाव में पीएम का चेहरा कोई नहीं होगा, लेकिन दिल्ली की इंडिया बैठक में अचानक से ममता बनर्जी खड़ी होती हैं और कहती हैं कि इंडिया गठबंधन का चेहरा मल्लिकार्जुन खड़गे को बनाना चाहिए, जिसका समर्थन केजरीवाल ने भी किया था। इसे लेकर गठबंधन के किसी भी घटक दल से पहले कोई चर्चा नहीं हुई थी। इसकी वजह से दिल्ली की मीटिंग से लालू-नीतीश जल्दी निकल आए थे।

अंतर्विरोध से भरा हुआ है इंडिया गठबंधन

उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन अंतर्विरोध से भरा हुआ है। इंडिया गठबंधन की वर्चुअल मीटिंग में राहुल गांधी ने कहा था कि नीतीश कुमार के नाम पर ममता बनर्जी से पूछेंगे। इस गठबंधन के निर्माता नीतीश कुमार थे। वर्चुअल मीटिंग के बाद हमने तय कर दिया था कि इंडिया गठबंधन से अलग होना है। इसके लिए सिर्फ कांग्रेस जिम्मेदार है।

नीतीश कुमार योग्य नेता हैं

जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि आरजेडी के शिक्षा मंत्री रहे चंद्रशेखर कभी श्रीराम पर तो कभी सनातन धर्म पर सवाल उठा रहे थे, इसलिए नीतीश कुमार ने उनका विभाग बदल दिया था। नीतीश कुमार से ज्यादा योग्य, देशभक्त, ईमानदार और परिवाद विरोधी नेता कोई नहीं है।

बीजेपी की नेशनल लीडरशिप से कोई दिक्कत नहीं थी

उन्होंने आगे कहा कि हमारी पार्टी को बीजेपी की नेशनल लीडरशिप से कोई दिक्कत नहीं थी, स्थानीय स्तर पर कुछ दिक्कत थी। हमारी पार्टी नाराज भी थी, निराश भी थी। अगर बीजेपी चाहती तो विधानसभा चुनाव में चिराग पासवान हमारी पार्टी को नुकसान नहीं पहुंचा पाते।

First published on: Jan 30, 2024 11:54 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें