---विज्ञापन---

‘यह PM Modi का भारत है, जहां सफाईकर्मियों की पूजा की जाती है’; दयानिधि मारन के बयान पर BJP का पलटवार

केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने डीएमके एमपी दयानिधि मारन के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि मारन ने सफाईकर्मियों का अपमान किया है।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Dec 24, 2023 22:59
Share :
DMK MP दयानिधि मारन के बयान पर केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने किया पलटवार

DMK MP Dayanidhi Maran’s remarks on ‘UP-Bihar’ migrants: तमिलनाडु के मंत्री उदयनिधि स्टालिन के बाद अब डीएमके सांसद उदयनिधि मारन के बयान पर विवाद पैदा हो गया है। मारन ने कहा कि यूपी-बिहार के लोग तमिलनाडु में आकर टॉयलेट साफ करते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अंग्रेजी बोलने वाले लोग आईटी कंपनियों में नौकरी करते हैं, जबकि हिंदी बोलने वाले लोगों को छोटी-मोटी नौकरी मिलती है। अब इस पूरे मामले पर केंद्रीय राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

‘देश में सफाईकर्मियों की पूजा की जाती है’

नित्यानंद राय ने कहा कि दयानिधि मारन यह जान लें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ का निर्माण हो रहा है। आज देश में सफाईकर्मियों की पूजा की जाती है। पीएम मोदी ने खुद प्रयागराज में सफाई करने वाली बहनों के पैर पखारे थे। उन्होंने सफाईकर्मियों का सम्मान किया है।

‘दयानिधि मारन सफाईकर्मियों का अपमान कर रहे हैं’

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दयानिधि मारन सफाईकर्मियों का अपमान कर रहे हैं, जो तुष्टिकरण की नीति है। मारन उत्तर भारत और दक्षिण भारत को बांटना चाहते हैं, लेकिन वे यह जान लें कि यह भारत पीएम मोदी का भारत है। यहां कोई भेद पैदा नहीं कर सकता।

यह भी पढ़ें: DMK सांसद दयानिधि मारन की शर्मनाक टिप्पणी, बोले यूपी-बिहार के लोग तमिलनाडु में टाॅयलेट साफ करते हैं

‘दयानिधि मारन ने बेहद आपत्तिजनक बयान दिया है’

नित्यानंद राय का कहना है कि दयानिधि मारन ने बेहद आपत्तिजनक बयान दिया है। एक तरफ पीएम मोदी ‘सबका साथ सबका विकास’ की बात करते हैं तो वहीं कुछ लोग उत्तर भारत और दक्षिण भारत को बांटना चाहते हैं, लेकिन ऐसा नहीं होगा। राय ने कहा कि आइएनडीआइए में शामिल बिहार की पार्टियों को इसकी निंदा करनी चाहिए।

उदयनिधि स्टालिन भी दे चुके हैं विवादित बयान

दयानिधि मारन के पहले उन्हीं के पार्टी के नेता उदयनिधि स्टालिन भी विवादित बयान दे चुके हैं। उदयनिधि ने सनातन धर्म की तुलना डेंगू-मलेरिया से करते हुए कहा कि इसका न केवल विरोध करना चाहिए, बल्कि इसे समाप्त कर देना चाहिए। उनके इस बयान पर देशभर में जमकर विरोध हुआ था। यहां तक कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचा। उदयनिधि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे हैं।

यह भी पढ़ें: 2 करोड़ महिलाएं कैसे बनेंगी लखपति? क्या है Lakhpati Didi Yojana और कैसे मिलेगा इसका लाभ?

First published on: Dec 24, 2023 04:50 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें