Tuesday, December 6, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ban on PFI: पीएफआई के खिलाफ केंद्र सरकार का बड़ा एक्शन, 5 साल के लिए किया बैन

Ban on PFI: केंद्र सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पीएफआई पर 5 साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। लंबे समय से कई राज्य केंद्र सरकार से पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर पाबंदी लगाने की मांग कर रही थी।

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के खिलाफ बड़ा एक्शन लिया है। सरकार ने पीएफआई को बैन कर दिया है। गृह मंत्रालय ने पीएफआई पर 5 साल के लिए प्रतिबंध लगाया है। पीएफआई के अलावा उसके 9 सहयोगी संगठनों पर भी ये कार्रवाई की गई है।

अभी पढ़ें PFI पर कार्रवाई के बीच हैदराबाद में बवाल, बुर्का पहनी महिलाओं ने पंडाल में घुसकर तोड़ी मां दुर्गा की मूर्ति

पीएफआई के अलावा कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (CFI), रिहैब इंडिया फाउंडेशन (RIF), ऑल इंडिया इमाम काउंसिल (AIIC), नेशनल कॉन्फेडरेशन ऑफ ह्यूमन राइट्स ऑर्गनाइजेशन (NCHRO), नेशनल वीमेन फ्रंट, जूनियर फ्रंट, एम्पावर इंडिया फाउंडेशन और रिहैब फाउंडेशन, केरल जैसे सहयोगी संगठनों पर भी पाबंदी लगाया गया है।

दरअसल कई राज्यों ने केंद्र सरकार से पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर पाबंदी लगाने की मांग कर रही थी।

आपको बता दें कि पिछले दिनों राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA), कई राज्यों की पुलिस और अन्य एजेंसियों ने पीएफआई के ठिकानों पर छापेमारी कर सैकड़ों गिरफ्तारियां की थीं। पिछले दिनों NIA ने केरल से पीएफआई सदस्य शफीक पैठ को गिरफ्तार किया था। उससे पूछताछ में खुलासा हुआ था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पटना रैली पॉपुलर फ्रंट ऑफि इंडिया के टारगेट पर थी।

अभी पढ़ें Ban on PFI: जानिए क्या है पीएफआई जिसे सरकार को करना पड़ा बैन

इसके अलावा महाराष्ट्र में NIA के साथ मिलकर छापेमारी करने वाले ATS सूत्रों ने ये भी बताया कि PFI संघ के बड़े नेताओं को निशाना बनाने वाला था और संघ के मुख्यालय की भी रेकी की गई थी।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -