Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

दिल्ली घेरने के लिए पश्चिम बंगाल के 4 हजार मनरेगा मजदूर रवाना हुए, 50 लग्जरी बसें भरकर निकलीं

4 thousand MGNREGA workers of West Bengal left to surround Delhi कोलकाता, (अमर देव पासवान): पश्चिम बंगाल में 100 दिन की रोजगार गारंटी योजना के तहत मिलने वाली मनरेगा मजदूरों की राशि को कथित तौर पर केंद्र सरकार ने रोक दी है। इसको लेकर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और सांसद अभिषेक बनर्जी ने केंद्र […]

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Oct 1, 2023 10:32
Share :
दिल्ली घेरने के लिए पश्चिम बंगाल के 4 हजार मनरेगा मजदूर रवाना हुए, 50 लग्जरी बसें भरकर निकलीं

4 thousand MGNREGA workers of West Bengal left to surround Delhi कोलकाता, (अमर देव पासवान): पश्चिम बंगाल में 100 दिन की रोजगार गारंटी योजना के तहत मिलने वाली मनरेगा मजदूरों की राशि को कथित तौर पर केंद्र सरकार ने रोक दी है। इसको लेकर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और सांसद अभिषेक बनर्जी ने केंद्र सरकार को घेरा है। साथ ही रेलवे ने चार हजार मनरेगा मजदूरों को टिकट देने से देने से मना कर दिया। रेलवे ने कहा कि उनके पास ऐसी कोई चिट्ठी नही आई है, जिसमें मनरेगा मजदूरों द्वारा ट्रेन बुक कर कोलकाता या हावड़ा से दिल्ली जाने का कोई जिक्र किया हो।

50 लग्जरी बसें भरकर निकलीं

ऐसे मे रेलवे के इस जवाब पर प्रतिक्रिया देते हुए अभिषेक बनर्जी ने कहा है कि रेलवे अधिकारियों ने मनरेगा और आवास योजना के वंचित लाभार्थियों को उनके बकाया राशि दिलाने की मांग को दिल्ली मे उठाने के लिए मनरेगा मजदूरों को दिल्ली ले जाने के लिए दिए गए आवेदन को अस्वीकार कर दिया है। अभिषेक ने आईआरसीटीसी को लिखे पत्र को साझा करते हुए कहा की विशेष ट्रेन के अनुरोध पर गौर किया गया और वांछित रैक के अनुसार कोच नहीं हैं। जिसको अभिषेक ने पार्टी के प्रति भाजपा के अंदर फैला डर बताया, जिसके बाद 50 लग्जरी टूरिस्ट बस कोलकाता से दिल्ली के लिए एक -एक कर रवाना कर दी गईं हैं। वहीं इस दौरान अभिषेक ने यह भी बताया की दिल्ली जाने के क्रम में उनको झारखंड और फिर बिहार बाद में भाजपा शासित राज्य उत्तर प्रदेश से ले जाया जाएगा।

तृणमूल कांग्रेस ने मनरेगा मजदूरों की खाने-पीने की व्यवस्था की

सांसद ने कहा कि मनरेगा मजदूरों को अगर कहीं रोकने का प्रयास किया गया तो वह चुप नहीं बैठेंगे, उसके लिए भी हम तैयार हैं। बताते चलें कि पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों से करीब चार हजार मनरेगा मजदूर कोलकाता के इंडोर स्टेडियम में अपनी बकाया राशि की मांग को लेकर केंद्र सरकार को घेरने के लिए कोलकाता के इंडोर स्टेडियम पहुंचे थे, जहां उनके लिए तृणमूल द्वारा रहने और खाने-पीने की भरपूर व्यवस्था की गई थी। वहीं मनरेगा मजदूरों की बकाया राशि की मांगे व उनकी आवाजें बुलंद करने के लिए उनको दिल्ली ले जाने से लेकर दिल्ली में उनके रहने और खाने-पीने तक की तृणमूल ने व्यवस्था की है।

तीन अक्टूबर को मनरेगा मजदूरों की समस्याओं को जाएगा सुना

बताया जा रहा है कि दो अक्टूबर को दिल्ली के राजघाट स्थित महात्मा गांधी को ममता बनर्जी व उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी श्रद्धांजलि देंगे। इसके बाद तीन अक्टूबर को केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह से तृणमूल का एक प्रतिनिधि दल मुलाकात कर पश्चिम बंगाल के मनरेगा मजदूरों की समस्याओं से उनको अवगत करवाकर उनकी बकाया राशि जल्द से जल्द रिलीज करने की मांग करेंगे। वहीं इस दौरान अभिषेक को तीन अक्टूबर को ही लिप्स एंड बाउंड्स घोटाले मामले में ईडी ने कोलकाता के सिजिओ कॉम्पलेक्स में एक समन भेजकर पूछताछ के लिए भी बुलाया है। साथ ही उनकी चल अंचल संपत्ति की अधिक जानकारी के लिए उनके माता और पिता को भी समन भेजकर बुलाया गया है।

First published on: Oct 01, 2023 10:32 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें