Tuesday, June 2, 2020

World Health Day 2020: कोरोना के कहर के बीच आज दुनिया मना रही है विश्व स्वास्थ्य दिवस

World Health Day 2020: कोरोना वायरस (Coronavirus) यानी कोविड 19 (Covid 19) के वैश्विक महामारी के बीच आज अंतर्राष्ट्रीय विश्व स्वास्थ्य दिवस है। आज से ठीक 72 साल पहले 7 अप्रैल 1948 संयुक्त राष्ट्र ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना की थी।

World Health Day 2020: चीन के वुहान से चले कोरोना वायरस (Coronavirus) यानी कोविड 19 (Covid 19) के वैश्विक महामारी से भारत समेत दुनियाभर के 200 देशों में कोहराम मचा है। अबतक दुनियाभर में तकरीबन 13 लाख लोग कोरोना से प्रभावित हैं। जबकि 75000 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया भर के अलग-अलग देशों में 9 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित लोगों का इलाज चल रहा है, जबकि 2 लाख 52 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य होकर अपने-अपने घरों को लौट चुके हैं। इन सबके बीच आज अंतर्राष्ट्रीय विश्व स्वास्थ्य दिवस (World Health Day 2020) है।

आज से ठीक 72 साल पहले 7 अप्रैल 1948 संयुक्त राष्ट्र ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की स्थापना की थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन विश्व के देशों की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के समाधान के लिए आपसी सहयोग एवं मानक विकसित करने का दायित्व निभाती है। दुनिया के 194 देश विश्व स्वास्थ्य संगठन के सदस्य तथा दो संबद्ध सदस्य हैं। इसका मुख्यालय स्विटजरलैंड के जेनेवा में है। विश्व स्वास्थ्य दिवस वर्ष 1950 में पूरे विश्व में पहली बार मनाया गया। डब्ल्यूएचओ की स्थापना के समय इसके संविधान पर विश्व के 61 देशों ने हस्ताक्षर किए थे और इसकी पहली बैठक 24 जुलाई 1948 को हुई थी।

इसका मुख्य उद्देश्य वैश्विक स्वास्थ्य और उससे जुड़ी समस्याओं पर विचार-विमर्श करना है। पूरे विश्व में समान स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं के बारे में जागरूकता फैलाने के साथ ही स्वास्थ्य संबंधी अफवाहों और मिथकों को दूर करना भी इसका उद्देश्य है। विश्व स्वस्थ्य संगठन की ओर से ही विभिन्न देशों की सरकारों को स्वास्थ्य नीतियां बनाने और उसके क्रियान्वयन के लिए प्रेरित किया जाता है।

विश्व स्वस्थ्य संगठन (WHO) ने विश्व स्वास्थ्य दिवस (World Health Day) पर कोरोना महामारी से लड़ने में सबसे अगली पंक्ति में खड़ी नर्सेस और अन्य हेल्थ वर्कर्स के लिए इस दिन को समर्पित किया है। डब्ल्यूएचओ द्वारा वाले विश्व स्वास्थ्य दिवस 2020 के विषय को लेकर आज जारी अपडेट के अनुसार नर्स और मिडवाइफ के इस अंतर्राष्ट्रीय वर्ष में नर्सिंग की समूचे विश्व में स्थिति को उजागर किया जाएगा। डब्ल्यूएचओ और इसके सहयोगी संगठनों द्वारा नर्सिंग एवं मिडवाइफ फील्ड के कर्मियों की स्थिति को मजूबत करने के लिए कई संस्तुतियां करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

महाराष्ट्र और गुजरात पर बढ़ा चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ का खतरा, NDRF की कई टीमें तैनात

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच देश पर एक नया खतरा मंडरा रहा है। बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती तूफान अम्फान की तबाही के...

क्या भारत के नाम से हट जाएगा ‘इंडिया’? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

प्रभाकर मिश्रा, नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट आज उस याचिका पर सुनवाई करेगा जिसमें मांग की गई है कि संविधान संसोधन करके इंडिया शब्द हटा...

Aaj ka Rashifal 2 June 2020:  इन राशि वालों को आज रहना होगा सावधान वरना बिगड़ सकते हैं काम, जानें अपना राशिफल

Aaj ka Rashifal 2 June 2020: आज दिनांक 2 जून 2020 और दिन मंगलवार (Mangalwar ka Rashifal) है। आज का दिन सभी 12 राशियों...

‘CHAMPIONS’ से मजबूत होंगे छोटे उद्योग, रोजगार की लग जायेगी झड़ी!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की मीटिंग में 20 लाख करोड़ के पैकेज और लोकल के लिए वोकल अभियान...