Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

Chhattisgarh: इस गांव के लोगों को इंटरनेट के लिए 4 किलोमीटर चलना पड़ता था….

छत्तीसगढ़: आज के समय में हम इंटरनेट के बिना अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते। लेकिन छत्तीसगढ़ में 15 अगस्त तक एक गांव ऐसा था जहां इंटरनेट नेटवर्क के लिए 4 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ता था। लेकिन अब स्थानीय प्रशासन व सुरक्षा एजेंसियों की मदद से इस गांव तक भी इंटरनेट पहुंच […]

Edited By : Amit Kasana | Updated: Aug 17, 2022 11:10
Share :

छत्तीसगढ़: आज के समय में हम इंटरनेट के बिना अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते। लेकिन छत्तीसगढ़ में 15 अगस्त तक एक गांव ऐसा था जहां इंटरनेट नेटवर्क के लिए 4 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ता था। लेकिन अब स्थानीय प्रशासन व सुरक्षा एजेंसियों की मदद से इस गांव तक भी इंटरनेट पहुंच गया है।

 

और पढ़िएIRCTC Update: रेलवे ने 100 से अधिक ट्रेनों को किया रद्द, कहीं आपकी गाड़ी भी तो नहीं शामिल?

 

 

टावर लगाए गए

यह गांव नक्सल प्रभावित है और इसका नाम अबुजमढ है। यहां के आदिवासियों को अब उनके गांव में इंटरनेट की सुविधा मिल रही है। नारायणपुर कलेक्टर आर रघुवंशिल के मुताबिक अजूबमढ़, सोनपुर और अन्य क्षेत्रों में अब तक इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं थी। हमने टावर लगाए हैं और उन्हें इंटरनेट सेवाएं मुहैया करा रहे हैं। उनका कहना था कि ऑप्टिकल फाइबर का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। जल्द ही पूरे जिले को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा।

 

और पढ़िए महाराष्ट्र: पुणे में गलत दिशा से आए कंटेनर ने कार को रौंदा, एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत

 

ऑनलाइन अध्ययन में मदद

नारायणपुर एसपी सदानंद कुमार ने कहा कि नारायणपुर से ओरछा तक नेटवर्क और इंटरनेट की समस्या थी। हमने
टावर लगवाए हैं और इन इलाकों में इंटरनेट सेवा शुरू की गई है। यह ऑनलाइन अध्ययन और ऑनलाइन लेनदेन में मदद करेगा। हम इन सेवाओं को अब अन्य गांवों में विस्तारित करने की योजना बना रहे हैं।

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

 Click Here – News 24 APP अभी download करें

First published on: Aug 16, 2022 09:12 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें