---विज्ञापन---

अब Twitter से पैसा भी कमा सकेंगे यूजर्स, लॉन्च हुआ “ऐड्स रेवेन्यू शेयरिंग” प्रोग्राम

Twitter ने कंटेंट क्रिएटर्स के लिए एक नया ऐड्स रेवेन्यू शेयरिंग प्रोग्राम शुरु करने की घोषणा की है। इस प्रोग्राम के जरिए कंटेंट क्रिएटर्स अपने कंटेंट को मोनेटाइज कर सकेंगे और आमदनी कमा सकेंगे। इस संबंध में कंपनी ने अपने वेबसाइट पर विस्तार से जानकारी भी दी है। उल्लेखनीय है कि कंपनी के मालिक एलन […]

Edited By : Sunil Sharma | Updated: Jul 14, 2023 12:19
Share :
Twitter, Elon musk, twitter paid membership, paid membership for twitter users,Twitter, elon musk

Twitter ने कंटेंट क्रिएटर्स के लिए एक नया ऐड्स रेवेन्यू शेयरिंग प्रोग्राम शुरु करने की घोषणा की है। इस प्रोग्राम के जरिए कंटेंट क्रिएटर्स अपने कंटेंट को मोनेटाइज कर सकेंगे और आमदनी कमा सकेंगे। इस संबंध में कंपनी ने अपने वेबसाइट पर विस्तार से जानकारी भी दी है। उल्लेखनीय है कि कंपनी के मालिक एलन मस्क ने भी इस संबंध में गत माह जानकारी दी थी।

मस्क ने एक ट्वीट में कहा था, “एक्स/ट्विटर क्रिएटर्स को उनके रिप्लाई में दिखाए गए ऐड्स के लिए भुगतान करना शुरू कर देगा। पहले ब्लॉक पेमेंट 5 मिलियन डॉलर है।

” कंपनी ने अपने ‘क्रिएटर ऐड्स रेवेन्यू शेयरिंग’ पेज पर कहा, “हम क्रिएटर्स के लिए ऐड्स रेवेन्यू शेयरिंग को शामिल करने के लिए अपनी क्रिएटर मोनेटाइजेशन पेशकश का विस्तार कर रहे हैं। इसका मतलब यह है कि क्रिएटर्स को उनके पोस्ट के रिप्लाई से शुरू होने वाले ऐड रेवेन्यू में हिस्सा मिल सकता है। यह लोगों को सीधे ट्विटर पर आजीविका कमाने में मदद करने के हमारे प्रयास का हिस्सा है।”

यह भी पढ़ें: ट्विटर के सीईओ एलन मस्क का नया दांव! AI को टक्कर देने के लिए शुरू किया ये स्टार्टअप

ट्विटर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार यह प्रोग्रााम उन सभी देशों में उपलब्ध कराया जाएगा जहां पर स्ट्राइप पेआउट्स के लिए सपोर्ट उपलब्ध है। कंपनी मैनेजमेंट ने कहा कि हम इनिशियल ग्रुप की शुरुआत कर रहे हैं जिसे पेमेंट एक्सेप्ट करने के लिए इनवाइट किया जाएगा।

Twitter पर स्पैम मैसेज से मिलेगा छुटकारा

ट्वीटर ने एक नए अपडेट की जानकारी देते हुए गुरुवार को बताया “14 जुलाई से शुरू करते हुए, हम एक नई मैसेज सेटिंग जोड़ रहे हैं जो डीएम में स्पैम मैसेज की संख्या को कम करने में मदद करेगी।” इस अपडेट के बाद यूजर्स जिन्हें फॉलो करते हैं, केवल उन्हीं के मैसेज इनबॉक्स में आएंगे। जबकि अन्य वेरिफाईड यूजर्स जिन्हें वे फॉलो नहीं करते हैं उनके मैसेज रिक्वेस्ट इनबॉक्स में जाएंगे। इस तरह यूजर्स के इनबॉक्स में आने वाले स्पैम मैसेज की संख्या में कमी आएगी।

First published on: Jul 14, 2023 12:16 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें