Sunday, 25 February, 2024

---विज्ञापन---

भूल जाइए ऊन का स्वेटर, आ गया है Smart 6G Sweater, ठंड से भी बचाएगा और टेंपरेचर भी बताएगा  

Smart 6G Sweater: इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2023 में जीरो एनर्जी सेंसर से लैस एक लाल स्वेटर देखने को मिला। जो आपको ठंड से तो बचाएगा और आपका बॉडी टेंपरेचर भी बताएगा।

Edited By : Sameer Saini | Updated: Nov 5, 2023 10:40
Share :
Smart 6G Sweater

Smart 6G Sweater: हम बचपन से ही ऊन से बने स्वेटर देखते आ रहे हैं, लेकिन बदलती तकनीक के साथ आज हर चीज स्मार्ट होती जा रही है। अब कई ऐसे प्रोडक्ट्स मार्केट में आ गए हैं जिनकी कुछ समय पहले तक कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। वहीं हाल ही में एक स्मार्ट 6G Sweater भी देखने को मिला है जो सभी का ध्यान अपनी और खींच रहा है। कुछ दिन पहले नई दिल्ली स्थित प्रगति मैदान के भारत मंडपम में एशिया के सबसे बड़े टेक्नोलॉजी मंच, इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2023 के सातवें संस्करण का आयोजन हुआ था।

जिसमें कई बड़ी कंपनियों ने 6G, 5G नेटवर्क में सुधार, दूरसंचार और अन्य क्षेत्रों में नई-नई तकनीक पेश की। इस दूरसंचार और प्रौद्योगिकी मंच पर एरिक्सन के बूथ के अंदर जहां 6जी से जुड़ी दुनिया की झलक दिखाई दी, वहीं कांच के घेरे के अंदर जीरो एनर्जी सेंसर से लैस एक लाल स्वेटर भी देखने को मिला। जो आपको ठंड से तो बचाएगा और आपका बॉडी टेंपरेचर भी बताएगा। आइये इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

ये भी पढ़ें : Amazon Sale में Automatic Washing Machine खरीदने का जबरदस्त मौका! मिल रहा 52% तक डिस्काउंट

Zero Energy Smart 6G Sweater      

जैसे इसके नाम (Zero Energy Smart 6G Sweater) से ही साफ हो जाता है कि ये स्मार्ट स्वेटर किसी भी एनर्जी सोर्स का यूज किए बिना काम करता है। कंपनी ने इसमें एक ऐसी चिप को पेश किया है जो बिना किसी बैटरी या बिजली कनेक्शन के काम करती है। खास बात यह है कि ये Smart 6G Sweater आपको ठंड से तो बचाएगा ही साथ ही ये आपका बॉडी टेंपरेचर भी बताएगा। जिसका सारा डाटा आप सीधे आपके फोन पर देख पाएंगे। अब बहुत से लोगों के मन में ये सवाल होगा कि अगर इसमें बैटरी या बिजली कनेक्शन नहीं है तो फिर ये काम कैसे करेगा? चलिए इसके बारे में भी जानते हैं।

कैसे काम करेगा Smart 6G Sweater

कंपनी का कहना है कि यह हमारे चारों ओर मौजूद रेडियो तरंगों से एनर्जी लेता है। साथ ही एरिक्सन का कहना है कि 6जी के जमाने में डिवाइस  को चलाने और बनाए रखने के लिए रिक्वायर्ड कॉस्ट और बिजली को कम करने के लिए Zero Energy डिवाइस को अपनाना काफी इम्पोर्टेन्ट  बन जाता है, जहां मशीनों को इंटरनेट से अब जोड़ा जाना तय है। हालांकि यह स्वेटर एरिक्सन द्वारा पिछले साल आईएमसी में प्रदर्शित की गई Remotely Operated Car जितना जबरदस्त तो नहीं है, लेकिन बूथ के अधिकारियों ने बताया कि कैसे इस तकनीक का कृषि और रक्षा सहित अन्य क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर यूज किया जा सकता है।

First published on: Nov 05, 2023 10:40 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें