Friday, 23 February, 2024

---विज्ञापन---

सावधान! कहीं आपके फोन में तो नहीं है ये App? तुरंत करें डिलीट, वरना हो जाएंगे ठन-ठन गोपाल

Android Fraud Apps: लगभग पूरी दुनिया कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जुड़ गई है। लोग अपने दोस्त-रिश्तेदारों समेत अन्य कामों के लिए अलग-अलग प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। हालांकि, इन्हीं के साथ ही साइबर क्राइम के मामलों में भी काफी बढ़ोतरी हो रही है। एक के बाद एक नए साइबर क्राइम (Online Cyber Crime) […]

Edited By : Simran Singh | Updated: Aug 2, 2023 08:56
Share :
SafeChat app for secure messaging, SafeChat app login, SafeChat app chat rooms, SafeChat app safety measures, SafeChat app parental controls, SafeChat app data protection

Android Fraud Apps: लगभग पूरी दुनिया कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जुड़ गई है। लोग अपने दोस्त-रिश्तेदारों समेत अन्य कामों के लिए अलग-अलग प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। हालांकि, इन्हीं के साथ ही साइबर क्राइम के मामलों में भी काफी बढ़ोतरी हो रही है।

एक के बाद एक नए साइबर क्राइम (Online Cyber Crime) के मामले देखने और सुनने को मिलते हैं। इनमें से एक सबसे लोकप्रिय WhatsApp भी है जो साइबर वर्ल्ड में भी काफी प्रसिद्ध है। इस ऐप के माध्यम से स्कैम्स से लेकर साइबर हमलावर यूजर्स तक पहुंच रहे हैं।

हालांकि, अब एक नया मामला सामने आया है। हैकर्स को स्पाइवेयर मैलवेयर वाले डिवाइसों को संक्रमित करने के लिए एक एंड्रॉइड ऐप (Android Fraud App) मिल गया है, जिसके फोन में होने पर यूजर्स के डाटा को बेहद खतरा है। अगर आपके फोन में भी ये ऐप है तो इसे तुरंत डिलीट कर दें। आइए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

इस ऐप को तुरंत करें फोन से डिलीट

WhatsApp यूजर्स के लिए ‘सेफचैट’ नामक एक नकली एंड्रॉइड ऐप खतरनाक साबित हो सकता है, जिसका इस्तेमाल करना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। दरअसल, ये सेफचैट ऐप सिर्फ आपके व्हाट्सएप का डेटा ही नहीं बल्कि फोन कॉल की लॉग लिस्ट, टेक्स्ट समेत GPS डेटा को भी चुराता है।

Safechat कर रहा है यूजर्स का डाटा चोरी

एक रिपोर्ट के मुताबिक सेफचैट ऐप यूजर इंटरफेस यूजर्स को इसकी प्रामाणिकता पर पहले भरोसा देता है। इसके बाद धोखा देते हुए धमकी देने वाले अभिनेता को सभी जरूरी जानकारी निकालने की अनुमति मिलती है।

हालांकि, इससे पहले पीड़ित को इस बारे में जानकारी हो कि ऐप एक डमी है, ये मैलवेयर यूजर का डेटा चलाकी से निकालने और संचारित करने में कामयाब हो जाता है। इसलिए अगर आपके फोन में भी ये ऐप है तो इसे बिना कुछ सोचे तुरंत डिलीट कर दें।

कैसे डेटा रखें सुरक्षित?

  • अपने एंड्रॉइड डिवाइस को हमेशा अपडेट रखें। आपको लेटेस्ट सॉफ्टवेयर से फोन को अपडेट रखना चाहिए। इससे आप साइबर क्राइम से बचे रहे सकते हैं।
  • गूगल प्ले स्टोर या अन्य प्रमाणिक स्रोतों के जरिए कोई भी एप्लिकेशन इंस्टॉल करें। इस तरह से आप फेक और फ्रॉड ऐप से बचे रहे सकेंगे।
  • किसी भी लिंक पर क्लिक करने के बाद कोई ऐप डाउनलोड ना करें और ना ही किसी वेबसाइट या सोशल मीडियो पर विजिट करें।
  • समय-समय पर अपने सोशल मीडिया समेत अन्य जरूरी ऐप्स या अकाउंट का पासवर्ड बदलते रहें। किसी के साथ भी अपने अकाउंट का पासवर्ड साझा ना करें।

First published on: Aug 02, 2023 08:56 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें