Monday, September 26, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

चाचा कृष्णम राजू के निधन पर आंसुओं में डूबे ‘बाहुबली’, सामने आया प्रभास का इमोशनल वीडियो

दिग्गज अभिनेता और राजनेता कृष्णम राजू का 82 वर्ष की आयु में रविवार सुबह निधन हो गया। इस खबर ने राजनीतिक जगत से लेकर फिल्मी गलियारे तक सभी को शोक में डुबो दिया है। इस बीच अभिनेता प्रभास, जो कृष्णम के भतीजे हैं, उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो अपने दिवंगत चाचा के निधन पर फूट-फूटकर रोते नजर आए हैं।

मुंबई: दिग्गज अभिनेता और राजनेता कृष्णम राजू (krishnam Raju Passes Away) का 82 वर्ष की आयु में रविवार सुबह निधन हो गया। इस खबर ने राजनीतिक जगत से लेकर फिल्मी गलियारे तक सभी को शोक में डुबो दिया है। इस बीच अभिनेता प्रभास (Prabhas breaks down at krishnam Raju death) , जो कृष्णम के भतीजे हैं, उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो अपने दिवंगत चाचा के निधन पर फूट-फूटकर रोते नजर आए हैं।

वीडियो में देखा जा सकता है कि अभिनेता अपने चाचा की मौत से गहरे सदमे में हैं। क्लिप में उन्हें रोते हुए देखा जा सकता है, जब साउथ के सुपरस्टार अभिनेता चिरंजीवि उन्हें संभालते हैं। कृष्णम राजू के निधन के बाद उनके आवास पर तेलुगु फिल्म इंडस्ट्री के तमाम अभिनेता और फिल्म निर्माता को अंतिम दर्शन पाने और श्रद्धांजलि देने पहुंचे हैं।

अभी पढ़ें Urvashi Rautela ने नसीम शाह को लेकर हो रही ट्रोलिंग पर तोड़ी चुप्पी, जानें क्या कहा

दिवंगत अभिनेता का अंतिम संस्कार कल यानी 12 सितंबर को किया जाएगा। 20 जनवरी 1940 को पश्चिम गोदावरी जिले के मोगलथुर में जन्मे कृष्णम राजू पहले ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी की कैबिनेट में केंद्रीय मंत्री के रूप में काम किया।

दिवंगत अभिनेता के बारे में बात करें तो, उन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा पूरी करने के बाद कुछ समय तक पत्रकार के रूप में काम किया। बाद में उन्होंने 1966 में फिल्म ‘चिलाका गोरिंका’ से मुख्य अभिनेता के रूप में फिल्म इंडस्ट्री में प्रवेश किया, वह अपनी नकारात्मक भूमिकाओं के लिए भी बहुत लोकप्रिय हैं।

राजू को उनके सर्वश्रेष्ठ अभिनय के लिए 1977, 1978 में राष्ट्रपति पुरस्कार और 1977 और 1984 के लिए नंदी पुरस्कार जीते। उन्हें ‘अमरादीपम’ (1977), ‘बोब्बिली ब्राह्मण’ (1984), ‘तंद्रा पपरायुडु’ (1986) और ‘धर्मातमुडु’ (1983) में उनके प्रदर्शन के लिए 4 फिल्मफेयर पुरस्कार मिले।

इसके अलावा, 2006 में, उन्हें फिल्मफेयर साउथ लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड मिला। उनकी फिल्में जैसे ‘भक्त कन्नप्पा’ और ‘बोब्बिली ब्राह्मण’ आज भी बहुत लोकप्रिय हैं, जिससे उन्हें एक अच्छा नाम और प्रसिद्धि मिली। उनके द्वारा निभाई गई विद्रोही भूमिकाओं ने उन्हें ‘रिबेल स्टार’ का स्टार टैग दिलाया।

अभी पढ़ें जैकलीन फर्नांडीज से कल पूछताछ नहीं करेगी दिल्ली पुलिस, जानें क्या है पूरा मामला

आगे चलकर उन्होंने राजनीति में भी कदम रखा और दिवंगत और पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के शासन के दौरान केंद्रीय मंत्री के रूप में कार्य किया। कृष्णम राजू के परिवार में उनकी पत्नी श्यामलादेवी और बेटियां साईं प्रसीधा, साईं प्रकृति और साईं प्रदीप्ति हैं। लोकप्रिय अखिल भारतीय अभिनेता प्रभास उनके भतीजे (उनके छोटे भाई उप्पलपति सूर्यनारायण राजू के पुत्र) हैं।

कृष्णा राजू के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताया है। साथ ही इस खबर ने फैंस भी को झकझोर कर रख दिया है। एक्टर के फैंस उनकी मृत्यु पर दुख व्यक्त करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं।

अभी पढ़ें – मनोरंजन  से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें 

Click Here – News 24 APP अभी download करें

 

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -