Wednesday, November 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

SBI बैंक में सेविंग अकाउंट रखने वाले हो जाएं सावधान, अब डिपॉजिट करने पर नहीं मिलेगी पहले जैसी ब्याज

नई दिल्ली: सार्वजनिक क्षेत्र के ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने बचत खातों पर ब्याज दर में 5 आधार अंकों की कमी की है। बचत बैंक जमा पर लागू नई दर अब 15 अक्टूबर से 2.7 प्रतिशत प्रभावी है। भारतीय स्टेट बैंक ने कहा कि नई बचत दरें 10 करोड़ रुपये से कम की शेष राशि पर लागू हैं। बैंक पहले इन जमाओं पर 2.75 फीसदी सालाना ब्याज देता था।

अभी पढ़ें इंफोसिस और विप्रो के बाद इस आईटी कंपनी ने किया वेतन बढ़ाने का ऐलान

हालांकि, बैंक ने 10 करोड़ रुपये और उससे अधिक के बचत खाते की शेष राशि पर जमा दरों को 2.75 प्रतिशत से बढ़ाकर 3 प्रतिशत प्रति वर्ष कर दिया। भारतीय स्टेट बैंक के 4 करोड़ से अधिक ग्राहक हैं और इनमें से अधिकांश ग्राहक 10 करोड़ से कम की बचत जमा पर ब्याज दरों में कमी के कारण प्रभावित होंगे।

हालांकि, यह अलग और बड़ी बात है कि एसबीआई ने हाल ही में सभी अवधियों के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट में ब्याज दरों में वृद्धि की है। एसबीआई की वेबसाइट के मुताबिक नई दरें 15 अक्टूबर 2022 से प्रभावी हैं। बैंक ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर सभी अवधि के लिए ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। ग्राहक 3% से 5.85% के बीच ब्याज दरें प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा, वरिष्ठ नागरिकों को सामान्य ब्याज दर पर अतिरिक्त ब्याज मिलेगा।

अभी पढ़ें Adani इंटरप्राइजेज के शेयर में हुई बढ़ोतरी, ये रही वजह

बैंक अब तीन साल से पांच साल से कम की मैच्योरिटी वाली जमाओं पर 5.8 फीसदी की दर से ब्याज देता है, जबकि वरिष्ठ नागरिकों को 6.3 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा। बैंक ने आम जनता के लिए पांच साल या उससे अधिक की परिपक्वता वाले ऋणों के लिए ब्याज दर को 5.65 प्रतिशत से बढ़ाकर 5.85 प्रतिशत और वरिष्ठ नागरिकों के लिए 6.45 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.65 प्रतिशत कर दिया।

अभी पढ़ें – बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -