Saturday, December 3, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

ब्रिटेन का अगला प्रधानमंत्री कौन? सुनक, बोरिस या फिर पेनी मोर्डेंट, एक हफ्ते में हो सकता है फैसला

UK Politics: लिज ट्रस का कार्यकाल मात्र डेढ़ महीने का रहा। ब्रिटेन के इतिहास में वे सबसे कम दिनों तक प्रधानमंत्री रही जो एक नया रिकार्ड है।

Britain Next PM: ब्रिटेन की नवनियुक्त प्रधानमंत्री लिज ट्रस ने अपने पद से डेढ़ महीने बाद ही इस्तीफा दे दिया। अब कहा जा रहा है कि ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री की नियुक्ति 28 अक्टूबर से तक की जा सकती है। यानी एक हफ्ते में ब्रिटेन को अगला प्रधानमंत्री मिल जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री पद के लिए तीन नाम सबसे आगे चल रहा है। इनमें पहला नाम ऋषि सुनक का है। उनके अलावा दूसरा नाम ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का है। वहीं तीसरा नाम पेनी मोर्डेंट का है जो मौजूदा ब्रिटिश कैबिनेट की सदस्य हैं।

अभी पढ़ें लिज ट्रस को क्यों देना पड़ा इस्तीफा ? क्या अब ऋषि सुनक होंगे अगले पीएम ?

ऋषि सुनक ही सबसे आगे क्यों?

ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री पद के लिए सबसे पहला और सबसे आगे चलने वाला नाम ऋषि सुनक का है। उनका दावा इसलिए मजबूत है क्योंकि उन्होंने चुनाव में लिज ट्रस के वादों को लेकर जो भी भविष्यवाणियां की थी, वो सभी सच साबित हुईं। उन्होंने ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था को लेकर आशंका जताई थी जो सच साबित होती दिखी और लिज ट्रस को 45 दिनों में ही इस्तीफा देना पड़ा।

इसके अलावा सुनक पहली पंसद इसलिए क्योंकि लिज के चुने जाने के पहले सांसदों की वोटिंग में सुनक को ज्यादा वोट मिले थे। अंतिम फैसला जब कंजर्वेटिव पार्टी के मेंबर्स ने किया तो लिज ट्रस को जीत मिली।

महामारी में सुनक ने किया था बेहतरीन काम

इसके अलावा कहा जा रहा है कि कोरोना काल के दौरान देश को आर्थिक मंदी से उबारने में सुनका का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने न सिर्फ देश को उबारा बल्कि सभी वर्गों को खुश भी किया। इसके अलावा उन्होंने कोरोना काल में ही होटल इंड्रस्ट्री को ‘ईट आउट टू हेल्प आउट’ स्कीम से 15 हजार करोड़ से अधिक की मदद की।

ऋषि ने टूरिज्म इंडस्ट्री को भी कोरोना लहर के दौरान राहत दी। उन्होंने 10 हजार करोड़ रुपए का पैकेज इस इंडस्ट्री को दिया था। साथ ही कर्मचारियों और बिजनेसमैन वर्ग को दो लाख रुपये की सहायता राशि दी थी।

माना जा रहा है कि ऋषि सुनक के पास लिज से ज्यादा सांसदों का समर्थन है। फिलहाल, वे अपने समर्थकों के साथ अगली रणनीति में जुटे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सांसदों की फाइनल वोटिंग में सुनक को 137 जबकि ट्रस को 113 सांसदों के वोट मिले थे।

रेस में बोरिस जॉनसन और पेनी मोर्डेंट भी शामिल

ऋषि सुनक के बाद प्रधानमंत्री बनने की दौड़ में पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और पेनी मोर्डेंट भी शामिल हैं। कहा जा रहा है कि लिज ट्रस के इस्तीफे के बाद बोरिस जॉनसन वापसी कर सकते हैं। हालांकि अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में अमेरिका में भाषण दिया था, लेकिन ब्रिटेन के मौजूदा संकट पर उन्होंने अपने कुछ नहीं कहा था। साथ ही उनका पूर्व का कार्यकाल काफी अच्छा माना गया है।

वहीं, पेनी मोर्डेंट मौजूदा ब्रिटिश कैबिनेट की सदस्य हैं। मोर्डेंट ने रन-ऑफ में लिज ट्रस को कड़ी टक्कर दी थी। वे ब्रिटेन की पूर्व रक्षा और व्यापार मंत्री रह चुकी हैं और जनता के बीच उनकी काफी अच्छी छवि भी है। ट्रस के पद छोड़ने के बाद से इनके नाम की फिर चर्चा होने लगी है।

ऐसा क्या हुआ जो लिज ट्रस को इस्तीफा देना पड़ा

करीब छह हफ्ते पहले बोरिस जॉनसन की जगह लिज ट्रस को ब्रिटेन का नया प्रधानमंत्री चुना गया था। पीएम पद की शपथ लेने के सिर्फ 45 दिनों बाद ही उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा। दरअसल, लिज ट्रस अपनी आर्थिक नीतियों को लेकर अपनी ही पार्टी के सांसदों के निशाने पर थीं।

मिनी बजट में ट्रस सरकार ने टैक्स कटौती की, लेकिन मिडिल क्लास को 19% जबकि अमीरों को 45% तक की छूट दे दी गई। इसका नजीता यह हुआ कि ब्रिटिश पाउंड डॉलर के मुकाबले 50 साल के न्यूनतम स्तर पर पहुंचा। सेंट्रल बैंक को देनदारियां चुकानी पड़ रहीं हैं।

हालांकि मिनी बजट के बाद बढ़ते बवाल और दबाव के बीच पीएम ट्रस ने अपने वित्तमंत्री क्वासी क्वार्टेंग को बर्खास्त कर दिया और फिर अपना ही फैसला पलट दिया. जिसका जनता में और भी ज्यादा गलत संदेश गया।

लिज सबसे कम दिनों तक रहीं पीएम, बनाया ये रिकार्ड

लिज ट्रस का कार्यकाल मात्र डेढ़ महीने का रहा। ब्रिटेन के इतिहास में वे सबसे कम दिनों तक प्रधानमंत्री रही जो एक नया रिकार्ड है। इससे पहले जॉर्ज कैनिंग के नाम पर ये रिकार्ड था। वे 119 दिनों तक ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद पर रहे थे।

कैसे होता है ब्रिटेन में प्रधानमंत्री का चयन

लिज ट्रस के इस्तीफे के बाद ब्रिटेन के नए PM के लिए एक कमेटी होती है। इस कमेटी के सदस्य पार्टी के सांसद ही होते हैं, जो प्रधानमंत्री का चयन करते हैं। पीएम बनने के प्रक्रिया में तीन चरण नॉमिनेशन, एलिमिनेशन और फाइनल सेलेक्शन होता है।

अभी पढ़ें ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के रेस में ऋषि सुनक सबसे आगे, कंजर्वेटिव पार्टी के 100 सांसदों का मिला समर्थन

हाल ही में हुए चुनाव में ऋषि सुनक नॉमिनेशन राउंड और एलिमिनेशन राउंड (फर्स्ट और सेकंड बैलेट) में टॉप रहे थे।
आखिर में पार्टी के करीब 2 लाख मेंबर्स ने बैलेट वोटिंग से PM का नाम तय किया था। सुनक इसी मामले में लिज ट्रस से पीछे रह गए थे।

अभी पढ़ें – दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -