---विज्ञापन---

इजराइल के विरोध के बाद ‘गैब्रिएला करेफ़ा जॉनसन’ ने इंस्टाग्राम से हटाया जॉब टाइटल, IDF को बताया ‘Torture Agency’

Gabriella Karefa removed job title from Instagram profile: वोग के एक प्रवक्ता ने मैगजीन और उसकी मुख्य कंपनी कोंडे नास्ट को करेफ़ा-जॉनसन के बयान से किनारे कर दिया है। उन्होंने कहा कि गैब्रिएला के सोशल मीडिया पोस्ट और राय उनकी अपनी हैं और कंपनी का इससे कोई लेना देना नहीं है।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Oct 18, 2023 14:17
Share :

Gabriella Karefa removed job title from Instagram profile: वोग की एडिटर-एट-लार्ज गैब्रिएला करेफ़ा जॉनसन का इज़राइल विरोधी बयान सामने आने के बाद उन्होंने इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर लगा नौकरी का टाइटल हटा दिया है, जिसके बाद उन्हें लेकर चर्चाएं तेज हो गई है। वोग के लिए काम करने वाली एडिटर-एट-लार्ज गैब्रिएला कारिफा-जॉनसन ने सोशल मीडिया पर एक बयान जारी करते हुए बड़ी ही खामोशी के साथ अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से अपना जॉब टाइटल हटा दिया है। सोशल मीडिया पर दिए गए बयान में उन्होंने इज़राइल की तुलना नरसंहार करने वाले व रंग बदलने वाले राज्य से की थी। इतना ही नहीं, उस दौरान उन्होंने इजरायली रक्षा बलों की तुलना आतंकी संगठन से की थी।

वोग ने गैब्रिएला करेफ़ा के बयान से किया किनारा

आपको बता दें कि 32 वर्षीय संपादक और स्टाइलिस्ट गैब्रिएला करेफ़ा जॉनसन 2021 में वोग कवर को स्टाइल करने वाली पहली ब्लैक वुमेन बनीं थीं। उन्होंने हाल ही के दिनों में वोग की उनकी मान्यताओं पर सवाल खड़ा करने वाले फैशन से जुड़े कुछ अंदरूनी लोगों के खिलाफ नाराजगी जाहिर की है। इसके साथ ही वोग के एक प्रवक्ता ने मैगजीन और उसकी मुख्य कंपनी कोंडे नास्ट को करेफ़ा-जॉनसन के बयान से किनारे कर दिया है। उन्होंने कहा कि गैब्रिएला के सोशल मीडिया पोस्ट और राय उनकी अपनी हैं और कंपनी का इससे कोई लेना देना नहीं है।

करेफ़ा-जॉनसन ने खुद को बताया था वोग का ‘ग्लोबल कॉन्ट्रीब्यूटर देने वाली संपादक’

मामले से जुड़े सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कैरेफ़ा-जॉनसन अन्ना विंटोर की ओर से संचालित ग्लॉसी की पर्मानेंट कर्मचारी नहीं हैं, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्टाइलिस्ट कैरेफ़ा-जॉनसन को कोंडे नास्ट में किसी ने भी अपने इंस्टाग्राम प्रोफ़ाइल से उसके संपादक शीर्षक को हटाने का निर्देश नहीं दिया था। आपको बता दें कि बीते मंगलवार से पहले तक करेफ़ा-जॉनसन की प्रोफ़ाइल में ये कहा गया था कि वह वोग के लिए ग्लोबल कॉन्ट्रीब्यूटर देने वाली संपादक थी। लेकिन अब उनकी प्रोफाइल बहुत कुछ बयां कर रही है। हालाकि, इस मामले पर करेफ़ा-जॉनसन ने किसी बी प्रकार की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।

कई बड़े ब्रांडों के लिए काम कर चुकीं हैं करेफ़ा-जॉनसन

आपको बताते चलें कि करेफ़ा-जॉनसन ने उपराष्ट्रपति कमला हैरिस, सिंगर सेलेना गोमेज़, कवि अमांडा गोर्मन और अपने दोस्त व मॉडल गिगी हदीद को स्टाइल किया है। इसके साथ ही स्टाइलिस्ट करेफ़ा-जॉनसन ने केल्विन क्लेन, सुअर्ट वीट्ज़मैन, जोसेफ अल्टुज़रा और रिटेलर टारगेट जैसे ब्रांडों के लिए भी काम किया है।

इजराइल को सही ठहराने वालों को देखना मेरे लिए दुखद :करेफ़ा जॉनसन

उन्होंने गाजा पर इजरायल के जवाबी हवाई हमलों के जवाब में अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर लिखा कि जिन्होंने केवल दमन किया है, ऐसे इजराइल के जमीनी सिद्धांतों और रणनीति की समझ की पूरी कमी और इजराइल की प्रणालियों को सही ठहराने वालों के बचाव करने की इच्छा को देखना मेरे लिए बहुत दुखद है इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि मुझे नफरत होती है जब इंस्टाग्राम मुझे वह दिखाता है जिसकी मुझे उम्मीद नहीं होती है।

‘आंखों के सामने नरसंहार देखकर भी दुनिया चुप है’

स्टाइलिस्ट गैब्रिएला करेफ़ा जॉनसन ने अपनी पोस्ट में सवाल उठाया कि बंधकों को वापस करने से हमास के इनकार के बाद गाजा पर जारी हमलों को देखकर लोग कैसे कह सकते हैं कि “मैं इज़राइल के साथ खड़ा हूं”। उन्होंने आगे कहा कि मैं यकीन नहीं हो रहा है कि पूरी दुनिया चुपचाप ये सब देख रही है क्योंकि एक सामूहिक फिलिस्तीनियों को खत्म करने की योजना के साथ हमारी आंखों के सामने नरसंहार हो रहा है। गैब्रिएला करेफ़ा जॉनसन के इस बयान पर एक नाराज फैशन कार्यकारी ने बताया कि एक सामूहिक फ़िलिस्तीनी को खत्म करने की प्लानिंग बताना व इज़राइल की नाज़ियों के साथ तुलना करने के लिए बहुत विशिष्ट भाषा है।

आपको बताते चलें कि करेफ़ा-जॉनसन ने अपने एक पूर्व फ्रांसीसी वोग स्टाइलिस्ट सेलिया अज़ोले के साख हुई तीखी बातचीत पोस्ट की थी, जिसमें वोग स्टाइलिस्ट सेलिया अज़ोले ने करेफ़ा-जॉनसन से कहा कि मारे जा रहे इजरायली नागरिकों के साथ भी वही सहानुभूति दिखानी चाहिए। इसके जवाब में करेफ़ा-जॉनसन ने पलटवार करते हुए कहा कि उन्होंने कभी भी इस बात से इनकार नहीं किया कि इजरायलियों की हत्या की गई थी, लेकिन जवाबी कार्रवाई में नुकसान उठाने वाले इजरायलियों की संख्या फिलिस्तीनियों की संख्या से काफी कम थी। इस बात चीत के बीच उन्होंने आईडीएफ की ओर रुख किया और कहा कि रक्षा दल ने इस साल हजारों फिलिस्तीनियों को मारा है, हमास को नहीं। इसके साथ ही कारेफा-जॉनसन ने सुरक्षा दल को टार्चर एजेंसी बताया।

First published on: Oct 18, 2023 02:17 PM
संबंधित खबरें