---विज्ञापन---

‘कपड़े उतरवाता, जांच के बहाने गलत जगह छूता’; 8 महिलाओं ने खोला डॉक्टर की करतूतों का सच

Female Patients Molestation Sexually Harassment: महिला मरीजों का यौन शोषण करने और उनसे छेड़छाड़ के लिए डॉक्टर को दोषी करार दिया गया है। पीड़ितों ने जज को आपबीती सुनाई।

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Feb 2, 2024 11:02
Share :
Doctor Mohan Babu
डॉक्टर मोहन बाबू, जिसे यौन शोषण केस में दोषी करार दिया गया है।

Female Patients Molested Sexually Assaulted By Doctor: क्लिनिक बुलाकर, जांच करने के लिए कपड़े उतारने को कहता और जांच करने के बहाने शरीर पर हाथ फेरता, गलत जगह टच करता। कभी कहता तुम बहुत खूबसूरत हो, कभी कहता तुम्हारा फिगर काफी मस्त है। छूते समय विरोध करने पर कहता था, डरो मत मैं तो तुम्हारी मदद कर रहा हूं।

विरोध करने पर उसे कोई फर्क नहीं पड़ता था। 8 महिला मरीजों ने जज के सामने डॉक्टरों की करतूतों का राज खोला तो सभी चौंक गए। जज ने 47 वर्षीय डॉक्टर मोहन बाबू को महिला मरीजों के यौन उत्पीड़न का दोषी करार दिया है। अप्रैल 2024 में उसे सजा सुनाई जाएगी।

 

रिसेप्शनिस्ट ने जज को सुनाई छेड़छाड़ की कहानी

मामला इंगलैंड के हैम्पशायर का है। पोर्ट्समाउथ क्राउन कोर्ट में 3 साल केस की सुनवाई चली और करीब 8 महिलाओं ने डॉक्टर के खिलाफ गवाही थी, जिनमें से 4 महिलाओं का यौन शोषण करने का दोषी उसे करार दिया गया। 3 मामलों में उसे बरी कर दिया गया।

मोहन ने जिन 3 महिलाओं को अपना शिकार बनाया, उनमें से एक 19 साल की है। एक रिसेप्शनिस्ट, जो उसके साथ काम करती थी, ने दावा किया कि डॉक्टर मोहन नियमित रूप से उसकी कमर पकड़ता था। एक दिन उसे अचानक पीछे से पकड़ लिया था और कहा कि वह एक शेर है, जो उसे खा जाएगा।

 

जांच करने के बहाने महिला के स्तनों को टच किया

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, जूरी सदस्यों को बताया गया कि जून 2019 और जुलाई 2021 के बीच उसने महिला मरीजों के साथ छेड़छाड़ और उनका यौन शोषण किया। रिसेप्शनिस्ट ने डॉक्टर के व्यवहार की शिकायत भी की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

मिरांडा मूर ने बताया कि बाबू के खिलाफ पहली शिकायत अगस्त 2019 में की गई थी। उसे अनुचित व्यवहार के लिए चेतावनियां भी दी गईं, लेकिन वह नहीं माना। 2019 में मई और अगस्त के बीच उसे ब्रेस्ट कैंसर होने का पता चला। वह जांच कराने आई तो बाबू ने कि क्या वह उसके स्तनों की जांच कर सकता है?

मिरांडा मूर ने बताया कि जब उसने टॉप ऊपर किया तो वह बोला कि तुम्हारा फिगर बहुत सुंदर है और स्तन भी प्यारे हैं, लेकिन उसने इस बात को अनदेखा कर दिया। तीसरी बार जब वह जांच करने क्लिनिक गई तो उसने जांच करने के लिए उसे सोफे पर लेटने का निर्देश दिया। उसने दरवाज़ा बंद कर दिया।

इस दौरान उसके साथ कोई नर्स नहीं थी। उसने उसे अपना टॉप ऊपर उठाने के लिए कहा। मिरांडा ने पूछा कि क्यों तो उसने कहा कि वह गांठों की जांच करना चाहता है। इसके बाद उसने स्तनों की जांच करते हुए निपल्स खींचे। वह चौंक गई और बेहोश हो गई।

मिरांडा ने बताया कि उसे होश आया तो मोहन बाबू अपने हाथों को उसके शरीर के निचले हिस्सों, स्कर्ट के नीचे ले जाने लगा। उसने उसे रुकने के लिए कहा तो उसने उसे अपने करीब खींच लिया, जिससे उसने काफी असहज महसूस किया। परेशान होकर उसने मोहन बाबू की शिकायत कर दी।

 

19 साल की पेशेंट को गालों पर किस किया

19 वर्षीय लड़की ने जज को बताया कि डिप्रेशन का इलाज कराने वह फरवरी 2020 में मोहन बाबू के पास गई तो देखते ही उसने कहा कि तुम एक खूबसूरत लड़की हो। उसने पीछे से देखा पीठ पर झाइयों को गिना। ऐसा करते हुए उसने टच किया। जैसे ही वह जाने के लिए उठी, उसने उसके हाथ पकड़ लिए और उसके गाल पर चूम लिया।

एक और महिला ने बताया कि अप्रैल से जुलाई 2021 के बीच वह मस्सों का इलाज कराने के लिए डॉक्टर मोहन बाबू के पास गई। पहली 2 मीटिंग में वह ठीक रहा, लेकिन तीसरी मुलाकात में, उसने उसे मस्सों की जांच के लिए अपना टॉप उतारने के लिए कहा।

शिकायतें मिलने के बाद विवाद बढ़ने से मोहन बाबू ने जुलाई 2021 में स्टॉन्टन सर्जरी में काम करना बंद कर दिया, क्योंकि वह पुलिस जांच के दायरे में आ चुका था। अब उसे 3 साल बाद दोषी करार दिया गया है।

First published on: Feb 02, 2024 11:02 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें