Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

लाल, सफेद नहीं सिर्फ पीली ही क्यों होती है JCB मशीन? जानें दिलचस्प सवालों के जवाब

General Knowledge: क्या आप जानते हैं कि पहले JCB मशीनों का रंग लाल और नीला हुआ करता था, अब JCB कंपनी की अधिकतर मशीने पीले रंग की क्यों होती हैं? जानिए ऐसे ही दिलचस्प सवालों के जवाब

Edited By : Avinash Tiwari | Mar 3, 2024 06:15
Share :
JCB Facts
JCB मशीन से जुड़े फैक्ट्स

General Knowledge: JCB की कई मशीनों को आपने देखा होगा, JCB की जितनी मशीनों को आपने देखा, सब पीले रंग के ही होते हैं। जानते हैं क्यों? क्या आप JCB का फुलफॉर्म जानते हैं आप? क्या आपको पता है JCB किसी मशीन का नाम नहीं बल्कि एक कंपनी का नाम है, जो मशीने बनाती है।

आज हम आपको JCB से जुड़ी कुछ खास जानकारी सवाल और जवाब के माध्यम से बताने जा रहे हैं।

JCB का फुलफॉर्म क्या है?
JCB का फुलफॉर्म Joseph Cyril Bamford (जोसेफ सिरिल बैमफोर्ड) है।

JCB के मशीन का रंग पीला क्यों होता है?
पीला रंग दूर से दिखने में सक्षम माना जाता है, दूर दराज के क्षेत्रों में काम करने के दौरान मशीन दिखाई दे, इसलिए JCB मशीनों का रंग पीला होता है।

पहले किस रंग में होती थीं JCB मशीने?
1953 में कंपनी ने बैकहो लोडर बनाया था जिसका रंग नीला और लाल था।

यह भी पढ़ें : भारत के सबसे अमीर और गरीब मुख्यमंत्री कौन? जानें ऐसे ही रोचक सवालों के जवाब

कब बदला JCB मशीन का रंग ?
साल 1945 के बाद JCB ने मशीनों में कई बदलाव किए और रंग को पीला कर दिया गया।

JCB ने पहली बार कब लोडऑल मशीन बनाई थी?
जेसीबी ने पहली बार 1978 में अपनी जेसीबी लोडऑल मशीन को शुरू किया, जिसका कुल वजन 11,090 किलोग्राम था।

JCB की मशीनें कितनी बार जांच से गुजरती हैं?
एक रिपोर्ट के अनुसार, जेसीबी द्वारा बनाई गई मशीन को बेचने से पहले 400 अलग-अलग गुणवत्ता जांच से गुजरना पड़ता है।

यह भी पढ़ें : ऐसा कौन सा जानवर है जो हमेशा प्रेग्नेंट रहता है? जानें ऐसे ही दिलचस्प सवालों के जवाब

JCB कितने लोगों को रोजगार देती है?
एक रिपोर्ट की मानें तो जेसीबी दुनिया भर में लगभग 11,000 लोगों को रोजगार देती है।

JCB कितनी मशीनें बनाती है?
इस वक्त जेसीबी 300 से अधिक मशीनें बनाती है और पूरी दुनिया में ये मशीनें उपयोग में ली जाती हैं।

First published on: Mar 03, 2024 06:15 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें