Wednesday, 28 February, 2024

---विज्ञापन---

22 साल पहले गायब हुआ ‘बेटा’ निकला फ्रॉड; साधु के भेष में आया था नफीस

Amethi Sadhu Fraud Viral Video : अमेठी में 22 साल बाद साधु बन घर वापस लौटे बेटे का वीडियो वायरल हुआ था, अब इसकी हैरान करने वाली सच्चाई सामने आई है।

Edited By : Avinash Tiwari | Updated: Feb 10, 2024 19:43
Share :
Amethi Son Returned
अमेठी में हुआ फ्रॉड

Amethi Sadhu Fraud : कुछ दिन पहले अमेठी का एक वीडियो खूब वायरल हुआ था। वीडियो में जोगी के भेष में बैठे दो शख्स गाना गा रहे थे और कई महिलाएं , ग्रामीण उसे सुनकर रो रहे थे। दरअसल एक परिवार को लगा कि 22 साल पहले गायब हुआ उनका बेटा घर लौट आया है लेकिन इस भावना के साथ इतना बड़ा धोखा हुआ है कि सच्चाई जान हर कोई दंग है।

22 साल बाद मिला ‘बेटा’ निकला फ्रॉड

अमेठी के खरौली गांव में साधू के भेष में पहुंचे शख्स को रतीपाल सिंह ने अपना बेटा मान लिया। साधू ने भी कह दिया कि हां, उन्हीं का बेटा है। पूरा परिवार बेटे अरुण की वापस की गुहार लगाने लगा और कहा कि वह वापस लौट आए। अरुण वापस लौटने को तैयार हुआ लेकिन उसके लिए मोटी रकम की डिमांड की गई ताकि उसे मठ में जमाकर वह वापस आ सके।

बाप ने बेंच दी जमीन

मजबूर बाप अपने बेटे को वापस पाकर खुश था और पैसा चुकाने के लिए उसने 14 बिस्वा जमीन 11 लाख 20 हजार में चुपचाप बेच दी। इतना ही नहीं, गांव वालों और परिजनों ने मिलकर दोनों को 13 क्विंटल अनाज दिया ताकि भंडारा करवाकर वह वापस आ जाए। पिकअप से अनाज लेकर दोनों अयोध्या गए और वहां से गायब हो गए।

खूब वायरल हुआ था वीडियो

इसी बीच रतीपाल सिंह को पता चला कि जो शख्स खुद को उतना बेटा बता रहा है या जिसे वह अपना बेटा मान रहे हैं वह तो कोई और है। दरअसल युवक गोंडा के टिकरिया गांव का नफीस बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : हर साल 3 दिग्गजों को मिलता है ‘भारत रत्न’ तो इस बार 5 को क्यों? 

सोशल मीडिया पर साधु भेष में पहुंचे दोनों युवकों के सामने रोती मां का वीडियो खूब वायरल हुआ। यह वीडियो कई राज्यों में पहुंचा, वहां के लोगों ने बताया कि ये दोनों पहले भी इसी तरह की ठगी को अंजाम दे चुके हैं। इसके बाद मामला खुला तो पता चला कि ये सारे ठग गोंडा के एक गांव से जुड़े हुए हैं। नफीस शादीशुदा है और गांव के कई लोग फ्रॉड के मामले में जेल जा चुके हैं।

मिर्जापुर, वाराणसी और बिहार में कर चुके हैं ठगी
ये सारे ठग कई लोगों को चूना लगा चुके हैं। कई जगहों पर बिछड़े हुए भाई, बेटा बनकर भिक्षा मांगते हैं और खुद को खोया हुआ परिजन बताते हैं। जाहिर सी बात है कि परिवार अपने बेटे या भाई को हरहाल में वापस पाना चाहेगा। इसी का फायदा उठाकर ये ‘मठ में देना है’ कहकर पैसों की डिमांड करते हैं। जो भी पैसा या राशन मिलता है लेकर फरार हो जाते हैं।

First published on: Feb 10, 2024 07:18 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें