Wednesday, September 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ghaziabad News: कोविड-2 में रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर लाखों ठगे, पकड़ा तो निकला बॉलीवुड कास्टिंग एसोसिएट

मैक्स वैशाली के नाम से एक सोशल मीडिया पेज बनाया था। लोगों को अस्पताल में बेड दिलाने और रेमडेसिविर इंजेक्शन की व्यवस्था का झांसा देकर ठगा गया। उन्होंने कहा कि प्रति इंजेक्शन ₹ 57,000 प्रति बताते थे।

Ghaziabad News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) में यूपी स्पेशल टास्क फोर्स (UP-STF) की साइबर सेल (Cyber cell) ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि कोविड की दूसरी लहर के दौरान लोगों को अस्पतालों में बेड दिलाने और रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remdesivir Injection) के नाम पर ठगा गया था। पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपी बॉलीबुड में होने वाली प्रस्तुतियों के लिए कास्टिंग एसोसिएट का भी काम करते हैं। इनकी पहचान गाजियाबाद के सिहानी गेट इलाका निवासी मयंक खन्ना (26) और गाजियाबाद के संजय नगर निवासी यश मेहता (25) के रूप में हुई है।

अभी पढ़ें अमरोहा में आधार कार्ड दिखाने के बाद ही दावत खाने दी, आधे से ज्यादा बाराती लौटे भूखे, देखें

इंजेक्शन के नाम पर ठगे थे 1.15 लाख रुपये

नोएडा के सेक्टर-36 में साइबर क्राइम थाना प्रभारी रीता यादव ने कहा ने बताया कि पिछले साल 10 जून को गाजियाबाद निवासी एक व्यक्ति ने संपर्क करके शिकायत दर्ज कराई। शिकायत में कहा गया कि 2021 में महामारी के दूसरे चरण में उसने अपनी मां के इलाज के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन की खोज रहा था। तभी राहुल नाम के एक से संपर्क हुआ। उसने इंजेक्शन दिलाने का वादा किया। आरोप है कि उसने ऑनलाइन पेमेंट के नाम पर ₹ ​​1.15 लाख का चूना लगा दिया। पुलिस ने इस शिकायत पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

57 हजार रुपये में दिला रहा था इंजेक्शन

थाना प्रभारी ने बताया कि जांच में बैंक स्टेटमेंट और आरोपी के मोबाइल नंबर को ट्रैक किया किया। इसी मामले में पुलिस ने सोमवार को नोएडा और गाजियाबाद से दो लोगों को धर दबोचा। आरोपियों से पूछताछ के बाद सामने आया कि उन्होंने मैक्स वैशाली के नाम से एक सोशल मीडिया पेज बनाया था। लोगों को अस्पताल में बेड दिलाने और रेमडेसिविर इंजेक्शन की व्यवस्था का झांसा देकर ठगा गया। उन्होंने कहा कि प्रति इंजेक्शन ₹ 57,000 प्रति बताते थे। पैसे भी ऑनलाइन ही मंगाते थे। पैसे आने के बाद फोन को बंद कर लेते थे।

गिरोह का एक आरोपी अभी फरार, तलाश जारी

पुलिस ने बताया कि गिरोह का एक और साथी अभी फरार है। उसे पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें लगाई गई है। थाना प्रभारी रीता यादव ने बताया कि रिकॉर्ड के मुताबिक आरोपियों का इसी तरह का इतिहास रहा है। पूर्व में भी कई बार जेल जा चुके हैं। आरोपी यश मेहता कास्टिंग एसोसिएट के रूप में विभिन्न बॉलीवुड फिल्म निर्माताओं से भी जुड़ा हुआ है। पुलिस का आशंका है कि आरोपियों ने इसी तरह से कई लोगों को अपना शिकार बनाया है। पुलिस उसके बैंक स्टेटमेंट खंगाल रही है।

अभी पढ़ें – प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -