Sunday, December 4, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

रातभर पार्टी के बाद सुबह घर लौट रहे कार सवारों ने सड़क पर मचाया ऐसा तांडव, कई घायल, फिर पुलिस ने लिया ये एक्शन

कार सवार युवकों की पहचान शिवम, अनीश, अभिषेक और रोहित के रूप में हुई है। शिवम कार चला रहा था। सभी का मेडिकल टेस्ट कराया गया है।

Noida News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के नोएडा (Noida) में देर रात पार्टी करके घर लौट रहे चार युवकों ने अपनी कार से एक ई-रिक्शा को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भीषण थी कि रिक्शे में बैठी सवारियां पत्तों की तरह सड़क पर बिखर गईं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां से तीन को हायर सेंटर के लिए रैफर किया गया। पुलिस ने कार सवार युवकों को हिरासत में लेकर गाड़ी को जब्त कर लिया है।

अभी पढ़ें देवर के प्यार में पागल महिला ने सोते हुए पति के साथ कर दिया ये खौफनाक काम, सदमे में परिवार

सेक्टर-44 में एमिटी के सामने हुआ हादसा   

घटना नोएडा के सेक्टर-44 की है। यहां एमिटी स्कूल के पास एक तेज रफ्तार कार ने ई-रिक्शा में जोरदार टक्कर मार दी। रिक्शे में बैठी छह सवारियां गंभीर रूप से घायल हो गईं। पुलिस उपायुक्त (नोएडा) हरीश चंदर ने बताया कि मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को मामले की सूचना दी। सूचना पर थाना सेक्टर-39 पुलिस मौके पर पहुंच गई। उन्होंने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया।

तीन की हालत गंभीर, तीन को घर भेजा

पुलिस अधिकारी ने बताया कि छह घायलों में से तीन की पहचान गौरव, पंकज नेगी, विशाल के रूप में हुई है। इन्हें प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। जबकि पंकज कुमार, सुभाष और मेघा चौधरी को गंभीर चोटें आई हैं। उनका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। सूचना पर घायलों के परिचित भी अस्पताल पहुंच गए।

कार सवारों को मेडिकल के लिए भेजा

कार सवार युवकों की पहचान शिवम सैनी (21), अनीश (20), अभिषेक और रोहित के रूप में हुई है। शिवम सैनी कार चला रहा था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सभी कार सवारों का मेडिकल टेस्ट कराया गया है। वहीं कार को कब्जे में लेकर सभी के खिलाफ तेज गति से कार गाड़ी चलाने, गंभीर चोट पहुंचाने समेत गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

अभी पढ़ें आजमगढ़ के अहरौला में दिल दहला देने वाला मामला; हाथ-पैर काटकर कुएं में फेंका महिला का शव

नोएडा में सड़क हादसों पर एक नजर

नोएडा ट्रैफिक पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल 798 सड़क हादसों में 368 लोगों की मौत हुई थी। जबकि 504 घायल हुए। 2020 में 740 हादसों में 380 लोगों की मौत हुई और 528 घायल हुए। पुलिस के अनुसार वाहनों की दुर्घटनाओं के लिए तेज गति सबसे प्रमुख कारणों में से एक है। यह जिले के सबसे बड़े यातायात अपराधों में से एक है।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -