Sunday, January 29, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

Delhi-NCR Air Pollution Impact: नोएडा में प्रदूषण से हालात बेहद गंभीर, इन कार्यों पर तत्काल प्रभाव से रोक

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने शहर में वायु प्रदूषण से निपटने के लिए उच्च स्तरीय बैठक ली। इसमें शहर में कुछ गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।

Delhi-NCR Air Pollution Impact: दिल्ली (Delhi) से सटे नोएडा (Noida) में प्रदूषण (Air Pollution) का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। इस वक्त नोएडा में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में है। हालातों को देखते हुए नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी (CEO Ritu Maheshwari) ने शहर में 10 कार्यों पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है।

नोएडा शहर में प्रदूषण के स्तर को देखते हुए गुरुवार को अधिकारियों के साथ हाई लेवल की बैठक हुई। इसमें प्राधिकरण ने फैसला किया कि नोएडा में हॉट-मिक्स प्लांट और आरएसी तुरंत बंद किए जाएं।

 खतरनाक स्तर पर पहुंचा AQI

जानकारी के मुताबिक नोएडा में गुरुवार सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 469 रहा। दिल्ली और एनसीआर में पिछले कुछ दिनों से हवा की गुणवत्ता बेहद चिंताजनक स्थिति में है। यहां रहने वाले लोगों को सांस लेने में दिक्कत के अलावा आंखों में जलन होना भी शुरू हो गया है।

प्राधिकरण और प्रशासन ने ये लिए फैसले

  • जिला प्रशासन की ओर से कहा गया है कि मैकेनिकल स्वीमिंग में धूल नहीं जमनी चाहिए।
  • निर्माण स्थलों पर एंटी स्मॉग गन लगाई जाए। पांच हजार वर्ग मीटर की जगह पर स्मॉग गन लगानी होगी।
  • 10 हजार वर्ग मीटर के क्षेत्र के लिए दो स्मॉग गन, 15,000 वर्ग मीटर के लिए तीन स्मॉग गन और 20,000 वर्ग मीटर के निर्माण क्षेत्र के लिए चार स्मॉग गन लगाना अनिवार्य है।
  • डस्ट एप पर निर्माण कार्य का रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है।
  • सभी निर्माण स्थलों को कपड़ों या टिनशेड से कवर किया जाना चाहिए।
  • खुले में आग लगाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। होटलों में बड़े तंदूरों का इस्तेमाल तत्काल प्रभाव से बंद।
  • पूरे जिले में किसी भी तरह के खनन की अनुमति नहीं दी जाएगी। यदि कोई खनन करते पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
  • कचरा, गत्ते और घास के पत्तों को जलाने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है।
  • नोएडा प्राधिकरण ने डीजल इंजन और जेनरेटर के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है।
  • नोएडा में 90 स्प्रिंकलर टैंकर और 40 एंटी स्मॉग गन लगाए गए हैं।

फायर ब्रिगेड के वाटर टेंडर करेंगे शहर में छिड़काव

इसके साथ ही दमकल विभाग को शहर में छिड़काव के लिए पांच वाटर टेंडर दिए गए हैं। नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने कहा कि एकीकृत यातायात प्रबंधन प्रणाली (आईटीएमएस) के जरिए प्रदूषण सूचकांक की जांच की जाएगी। नोएडा प्राधिकरण ने छात्रों की सुरक्षा के लिए स्कूलों से कुछ समय के लिए बाहरी गतिविधियों को रोकने का अनुरोध किया है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -