Friday, January 27, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

गाजियाबाद में पति के शव को लेकर अस्पताल पहुंची नर्स, फिर नाबालिग बेटी और फोन चैट ने खोल दी पोल

UP News: एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस ने जब घर पर जाकर मामले की जांच की तो कुछ संदिग्ध लगा। घर में आर्थिक तंगी नहीं थी। महेश बीमा एजेंट था।

UP News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक नर्स ने अपने पति की हत्या कर दी। इतना ही नहीं अस्पताल में उसके द्वारा आत्महत्या करने की कहानी गढ़ दी। अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस को मामले की सूचना दी, लेकिन महिला की नाबालिग बेटी के एक बयान पर महिला की पोल खुल गई। पुलिस ने महिला को हिरासत में ले लिया है।

जहां काम करती थी, उसी अस्पताल में लेकर पहुंची

जानकारी के मुताबिक महेश शर्मा (30) कवि नगर के शास्त्री नगर इलाके में पत्नी कविता (30) और दो बच्चों (8 साल के बेटे और 13 साल की बेटी) के साथ रहता था। महेश शर्मा मूलरूप से ग्रेटर नोएडा के बादलपुर का रहने वाला था। गाजियाबाद पुलिस ने बताया कि 30 नवंबर की रात कविता अपने पति को बेहोशी की हालत में उसी अस्पताल में लेकर पहुंची जहां वह काम करती थी। उसने डॉक्टरों और सहकर्मियों को बताया कि महेश ने आत्महत्या कर ली है।

बार-बार कहा- पोस्टमार्टम नहीं कराना 

गाजियाबाद के एसपी सिटी 1 निपूर्ण अग्रवाल ने बताया कि पुलिस को अस्पताल से रात 11:30 बजे सूचना मिली। कविता ने पुलिस को बताया कि वह नहीं जानती उसके पति ने फांसी क्यों लगाई। वहीं कविता ने बार-बार इस बात पर जोर दिया कि वह शव का पोस्टमार्टम नहीं कराना चाहती, लेकिन पुलिस ने मामले को संदिग्ध देखते हुए अगले दिन शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इस दौरान पुलिस ने महिला के घर जाकर मामले की जांच की।

बेटी ने बताई उस रात की कहानी

एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस ने जब घर पर जाकर मामले की जांच की तो उनको कुछ संदिग्ध लगा। घर में किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी नहीं थी। महेश मेडिकल बीमा एजेंट के साथ वह एक दुकान भी चलाता था। वहीं पुलिस ने जब महिला की नाबालिग बेटी से पूछताछ की तो उसने पूरी कहानी खोल दी। उसने पुलिस को बताया कि मां ने पिता के चेहरे को बुरी तरह से दबा रखा था। बेटी के पूछने पर उसने उससे भी झूठ बोल दिया।

बड़े भाई ने दर्ज कराया महिला और प्रेमी पर केस

इसके बाद पुलिस ने कविता से फिर से पूछताछ की। तब भी उसने पुलिस को गुमराह कर दिया। पुलिस ने जब महिला के फोन की जांच की तो देखा कि किसी विनय नाम के शख्स से उसकी लगातार बात हो रही थी। दोनों ने महेश को मारने की योजना बनाई थी। पुलिस ने अब कविता और विनय को हिरासत में ले लिया है। महेश के बड़े भाई जसवंत सिंह ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -