Monday, December 5, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

गाजियाबाद में जिम ट्रेनर की कुर्सी पर बैठे-बैठे हो गई मौत, रोजाना 4-5 घंटे करता था वर्कआउट, डॉक्टरों ने बताई बड़ी वजह

आदिल के दोस्तों ने बताया, उन्हें पूर्व में कोई भी बीमारी नहीं थी। वह रोजाना 4 से 5 घंटे वर्क आउट करते थे। उन्होंने कई पदक भी जीते थे।

Ghaziabad News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) से एक दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया है। यहां की एक जिम का 38 वर्षीय ट्रेनर कुर्सी पर बैठे-बैठे ही मौत के आगोश में समा गया। जांच के बाद डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा था।

पहले से तबीयत खराब होने के बाद भी उन्होंने व्यायाम किया, जिसके कारण दिल की धड़कन अनियमित हो गईं। जिम ट्रेनर की मौत की घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। अब फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

शालीमार गार्डन में जिल चलाते थे आदिल

घटना गाजियाबाद के शालीमार गार्डन की है। यहां आदिल एक जिम चलाते थे। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे सीसीटीवी फुटेज में आदिल जिम के कार्यालय में बैठे हुए दिखते हैं। आसपास कुछ और भी लोग भी हैं। तभी आदिल कुर्सी पर बैठे-बैठे अपना होश खोने लगते हैं। इसके बाद उनके साथी उन्हें तुरंत दिल्ली के जीटीबी अस्पताल लेकर गए।

अभी पढ़ेंकुत्ते के हमले में बच्चे की मौत के बाद नहीं थम रहा आक्रोश, अब बच्चों ने ऐसे जताया विरोध

रोजाना 4-5 घंटे वर्क आउट करते थे

आदिल के दोस्त पराग चौधरी ने बताया कि अस्पताल में उनकी मौत हो गई। अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि आदिल को दिल का दौरा पड़ा था, जिसके कारण उनकी मौत हुई है। पराग ने बताया कि आदिल को पूर्व में कोई भी बीमारी नहीं थी। वह रोजाना 4 से 5 घंटे वर्क आउट करते थे। उन्होंने कई पदक भी जीते थे।

अभी पढ़ें Ajmer News: पुष्कर में दर्दनाक हादसा, झोपड़ी में आग लगने से दो मासूम बच्चियां जिंदा जली

बुखार में भी जिम कर रहे थे आदिल 

आदिल की मौत के बाद उनके दोस्तों ने परिवार वालों को सूचित किया। सूचना पर आनन-फानन में परिवार वाले अस्पताल पहुंचे। उन्होंने बताया कि आदिल को 2-3 दिनों से बुखार आ रहा था, लेकिन उन्होंने इस दौरान भी वर्क आउट करना जारी रखा। आदिल शालीमाार गार्डन में रहते थे। परिवार में उनकी पत्नी और चार बच्चे हैं।

कमजोरी में वर्क आउट से बेकाबू हुई धड़कनें

वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉक्टरों का कहना है कि बुखार या किसी अन्य प्रकार का संक्रमण होने पर वर्क आउट नहीं करना चाहिए। इससे दिल की धड़कनें अनियमित हो जाती है। बुखार या संक्रमण के कारण शरीर कमजोर होता है। लिहाजा मरीज कार्डिक अटैक (हार्ट अटैक) का खतरा काफी बढ़ जाता है।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -