Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

सामने आया केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के बेटे के दोस्त की हत्या की सच, पढ़ें मर्डर की Inside Story

Union Minister Kaushal Kishore House Murder Case: केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के घर में गोली मारकर युवक की हत्या के कारणों का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री के घर में जुए का फड चल रहा था। इस दौरान पैसे हारने को लेकर हुए विवाद में विनय नाम के युवक […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Sep 2, 2023 11:21
Share :
Union Minister Kaushal Kishore House Murder Case

Union Minister Kaushal Kishore House Murder Case: केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के घर में गोली मारकर युवक की हत्या के कारणों का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री के घर में जुए का फड चल रहा था। इस दौरान पैसे हारने को लेकर हुए विवाद में विनय नाम के युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के लखनऊ वाले घर में शुक्रवार को गोली मारकर हुई हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों में खुलासा कर दिया। पुलिस ने हत्या के कारणों के पीछे जुए में हारी हुई रकम को बताया है। पुलिस ने कहा कि जुए के विवाद में ही 24 साल के विनय श्रीवास्तव की गोली मारकर हत्या की गई है।

मृतक के गले पर पुलिस को खरोंच के भी निशान मिले

पुलिस के मुताबिक, विनय की हत्या में यूज पिस्टल केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के बेटे विकास की ही है। विकास और विनय दोस्त थे। पुलिस ने हत्या के मामले में अजय रावत, अंकित वर्मा और शमीम को गिरफ्तार किया है। उधर, मृतक के घरवालों ने विकास किशोर पर विनय की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है।

हत्या के दौरान मंत्री का बेटा कहां था?

पुलिस के मुताबिक, वारदात के दौरान मंत्री कौशल किशोर का बेटा विकास किशोर घटनास्थल पर नहीं था। पुलिस के मुताबिक, वारदात से कुछ देर पहले आरोपी अंकित और अजय, विकास को एयरपोर्ट छोड़ने गए थे। एयरपोर्ट से लौटने के बाद अजय और अंकित घर पहुंचे। यहां जुए में 12 हजार रुपए के विवाद को लेकर विनय का आरोपी अजय, अंकित और शमीम से झगड़ा हो गया।

पुलिस के मुताबिक, विवाद बढ़ने पर अजय मंत्री के बेटे के कमरे में पहुंचा और तकिए के नीचे रखी विकास की पिस्टल लेकर विनय की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने कहा कि हथियार रखने के लापरवाही के मामले में पिस्टल के लाइसेंस को रद्द करने की कार्रवाई की जा रही है।

वारदात के दौरान घर में कौन-कौन था?

जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के दुबग्गा इलाके के बेगरिया फरीदीपुर में केंद्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर का मकान है। इस मकान से कुछ दूरी पर ही मंत्री ने एक नया मकान बनवाया है। इस मकान में मंत्री का बेटा विकास उर्फ आशू रहता है। मृतक विनय श्रीवास्तव भी बेगरिया का ही रहने वाला था और उसकी विकास से दोस्ती थी। घटना वाले दिन विकास के घर पर कुल छह लोग थे। इनमें विनय के अलावा अजय रावत, अंकित वर्मा, सौरभ रावत, अरुण उर्फ बंटी और शमीम शामिल है।

विनय रुपये हारा, विवाद हुआ और फिर फायरिंग हुई

विनय और घर में मौजूद सभी लोग गुरुवार की रात को जुआ खेल रहे थे। इस दौरान विनय जुए में करीब 12 हजार रुपए हार गया। इस दौरान शराब का दौर भी चलता रहा। थोड़ी देर बाद विनय ने फिर से जुआ खेलने की बात कही। इस पर अंकित और अजय ने कहा कि अब कल खेलेंगे, रात हो गई है।

अजय और अंकित के मना करने के बाद सौरभ और अरुण वहां से चले गए। उधर, विनय फिर से जुए की जिद पर अड़ा रहा। विनय ने अंकित को कहा कि साजिश के तहत तुमने मुझे हराया है। इसके बाद विनय, अंकित, अजय और शमीम के बीच हाथापाई शुरू हो गई। इसी दौरान अंकित पिस्टल लेकर आया और विनय को गोली मार दी।

First published on: Sep 02, 2023 10:05 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें