Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

‘जिनके खुद के होश ठिकाने में नहीं हैं, वो नौजवानों को…’, वाराणसी में पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

PM Modi Varanasi Visit : लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर राजनीतिक दलों ने अपनी-अपनी तैयारी तेज कर दी है। नेता एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी के वाराणसी का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए विपक्ष पर हमला बोला।

Edited By : Deepak Pandey | Updated: Feb 23, 2024 19:12
Share :
PM Modi Varanasi Visit
प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी का किया दौरा।

PM Modi Varanasi Visit : देश में कुछ ही दिनों में लोकसभा चुनाव की तारीख की घोषणा होने वाली है। इससे पहले राजनीतिक पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे और विपक्ष पर जमकर निशाना साधा है। पीएम मोदी ने अपने संबोधन में गन्ना किसानों और राम मंदिर का भी जिक्र किया। आइए जानते हैं कि पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें।

10 पॉइंट में पढ़ें प्रधानमंत्री मोदी की स्पीच

1. पीएम मोदी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस युवराज कहते हैं कि यूपी और काशी के नौजवान नशेड़ी हैं। जिनके खुद के होश ठिकाने में नहीं है, वो बच्चों और नौजवानों को नशेड़ी कह रहे हैं।

2. ये लोग मोदी को गाली देते-देते अब ईश्वर रूपी जनता-जनार्दन और यूपी के नौजवानों पर अपनी भड़ास निकाल रहे हैं। अरे घोर परिवारवादियों- काशी और यूपी का नौजवान उत्तर प्रदेश को विकसित बनाने में जुटा है।

3. विपक्ष की बौखलाहट और गुस्से की एक और भी वजह है, वो है कि काशी और अयोध्या का नया स्वरूप। उन्हें यह बिल्कुल पसंद नहीं आ रहा है। आखिर इन लोगों को प्रभु श्रीराम से इतनी नफरत क्यों है।

यह भी पढ़ें : दिल्ली में भरूच सीट पर INDIA का फैसला तो गुजरात में क्यों हो रहा विरोध

4. ये न तो परिवार और वोटबैंक से बाहर देख सकते हैं और न ही सोच सकते हैं। चुनाव में साथ आते हैं और फिर नतीजे ‘निल बटे सन्नाटा’ होने पर एक दूसरे को गाली देकर अलग हो जाते हैं।

5. मोदी की गारंटी है कि हर लाभार्थी को शत-प्रतिशत लाभ मिले। अब उत्तर प्रदेश ने भी मोदी को सारी सीटें देने का मन बना लिया है। यानी इस बार एनडीए के नाम यूपी की सारी सीटें होंगी।

6. परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण ने विकास में उत्तर प्रदेश को पीछे रखा। पहले की सरकारों ने यहां के नौजवानों का भविष्य छीना और यूपी को बीमारू राज्य बनाया।

7. केंद्र सरकार ने गन्ने के न्यूनतम मूल्य को बढ़ाकर 340 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया है। याद कीजिए वो समय, जब पहले की सरकार गन्ने के भुगतान के लिए कितनी मिन्नत करवाती थी। अब किसानों के बकाये भगुतान के साथ फसलों के भी दाम बढ़ाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : यूपी में सपा-कांग्रेस के बीच सीट शेयरिंग पर कैसे बनी बात? किसने निभाई अहम भूमिका

8. मैंने बनास डेयरी प्लांट में पशुपालक बहनों से बातचीत की। 2-3 साल पहले हमने किसान परिवारों की इन बहनों को स्वदेशी नस्ल की गीर गाय दी थीं। लक्ष्य था कि पूर्वांचल में बेहतर नस्ल की स्वदेशी गायों से किसान-पशुपालकों को फायदा हो और आज यहां साढ़े तीन सौ के करीब गीर गायें हैं।

9. बहनों ने बताया कि पहले जहां सामान्य गाय 5 लीटर दूध देती थी, वहीं अब गीर गाय से 15 लीटर तक दूध मिलता है। बहनें हर महीने हजारों रुपये कमाकर लखपति दीदी बन रही हैं।

10. बनास काशी संकुल से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। साथ ही इस इलाके के किसनों की आय भी बढ़ेगी। देश में एक मॉडल के रूप में काशी आ रही है।

First published on: Feb 23, 2024 07:12 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें