Saturday, 13 April, 2024

---विज्ञापन---

Delhi Robbery: 6 करोड़ की लूट करने वालों के पास नहीं थे 100 रुपए कैश, पेटीएम करते ही धरे गए

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने पहाड़गंज इलाके में 6 करोड़ रुपये की ज्वैलरी लूट के मामले का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को राजस्थान से गिरफ्तार किया है। आरोपियों तक पहुंचने के लिए पुलिस ने 700 से अधिक सीसीटीवी फुटेज खंगाले। बता दें कि आरोपियों ने दो लोगों की […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Sep 3, 2022 12:41
Share :

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने पहाड़गंज इलाके में 6 करोड़ रुपये की ज्वैलरी लूट के मामले का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को राजस्थान से गिरफ्तार किया है। आरोपियों तक पहुंचने के लिए पुलिस ने 700 से अधिक सीसीटीवी फुटेज खंगाले। बता दें कि आरोपियों ने दो लोगों की आंखों में मिर्च पाउडर डालकर लूट की वारदात को अंजाम दिया था।

फर्जी पुलिस बनकर पार्सल ले जा रहे लोगों को रोका

दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि आरोपियों की पहचान नजफगढ़ निवासी नागेश कुमार (28), शिवम (23) और मनीष कुमार (22) के रूप में हुई है। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें दिख रहा था कि पुलिस की वर्दी में दो लोग पार्सल लेकर जा रहे दो व्यक्तियों को रोकते हैं। इसी बीच दो और लोग वहां पहुंच जाते हैं। फिर फर्जी पुलिस और बाद में पहुंचे दोनों लोग मिलकर पार्सल ले जा रहे युवकों की आखों में मिर्च पाउडर डाल देते हैं। फिर पार्सल लेकर भाग जाते हैं।

अभी पढ़ें तरनतारन: चर्च में तोड़फोड़ मामले में एसआईटी गठित, एसएसपी ने कहा- पुलिस को मिले महत्वपूर्ण सुराग

पार्सल लेकर जा रहे थे डीबीजी रोड

लूट के संबंध में पुलिस को बुधवार को जानकारी मिली। शिकायतकर्ता सोमवीर ने कहा कि वह चंडीगढ़ में एक पार्सल कंपनी में डिलीवरी बॉय के रूप में काम करता है। उसने बताया कि बुधवार सुबह करीब 4 बजकर 15 मिनट पर वह अपने सहयोगी जगदीप सैनी के साथ पहाड़गंज स्थित कार्यालय से पार्सल उठाकर डीबीजी रोड की ओर जा रहा था। जब दोनों मिलेनियम होटल के पास पहुंचे तो उन्हें पुलिस की वर्दी में खड़े युवकों ने रोका।

मिर्च पाउडर डाला और जान से मारने की धमकी दी

शिकायतकर्ता ने कहा कि आरोपियों ने पुलिस की वर्दी पहनी थी। उन्होंने सोमवीर और जगदीप से बैग चेक करने को कहा। इसी बीच दो और लोग आ गए और उनकी आंखों में मिर्च पाउडर डाल दिया। चारों ने मिलकर धमकी दी कि बैग उन्हें सौंप दो, नहीं तो जान से मार देंगे। इसके बाद आरोपियों ने उनके जेवरों के पार्सल लूट लिए और वहां से फरार हो गए।

700 से अधिक सीसीटीवी फुटेज की जांच की

शिकायत के बाद पुलिस जांच पड़ताल में जुटी। जांच के दौरान पुलिस ने घटना के आसपास के दिनों के 700 से अधिक सीसीटीवी फुटेज की जांच की और मौके के पास स्थानीय खुफिया जानकारी भी जुटाई। जांच के दौरान पुलिस ने घटनास्थल के पास चार लोगों की संदिग्ध गतिविधियां देखी। पुलिस उपायुक्त (केंद्रीय) श्वेता चौहान ने कहा कि पाया गया कि आरोपी एक कैब चालक से बात कर रहे थे। आरोपियों में से एक ने चाय ली और कैश न होने की वजह से कैब ड्राइवर के अकाउंट में 100 पेटीएम किए।

अभी पढ़ें भारतीय नौसेना को मिला नया ध्वज, PM मोदी बोले- भारत ने गुलामी के बोझ को सीने से उतारा

मास्टरमाइंड समेत तीन गिरफ्तार, एक की तलाश जारी

श्वेता चौहान ने कहा कि ट्रांजेक्शन की जांच की गई और आरोपियों का पता निकाला गया। पेटीएम करने वाले आरोपी की पहचान नजफगढ़ के निवासी के रूप में की गई। पुलिस ने जानकारी जुटाई तो पता चला कि आरोपी राजस्थान गया हुआ है। फिर एक टीम जयपुर भेजी गई, जहां से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। एक अन्य की तलाश जारी है।

डीसीपी चौहान ने कहा कि आरोपियों के पास से कुल 6,270 ग्राम सोना, तीन किलोग्राम चांदी, आईआईएफएल में जमा 500 ग्राम सोना और अन्य हीरे के आभूषणों के साथ 106 कच्चे हीरे, जिनकी कीमत 5.5 से छह करोड़ रुपये है, बरामद किए गए। डीसीपी ने बताया कि लूट के मास्टरमाइंड नागेश ने अपने दोस्तों और मामा के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने की योजना बनाई थी।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

First published on: Sep 03, 2022 12:33 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें