Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

क्या बाबा बालकनाथ को चुनौती दे पाएंगे कांग्रेस के इमरान खान ? इन्हें BSP और कांग्रेस दोनों पार्टियों ने दिया टिकट

Rajasthan Assembly Election 2023 : राजनीतिक जानकारों का कहना है कि इमरान खान जनाधार वाले नेता माने जाते हैं। मेवात इलाके में इमरान की मजबूत पकड़ है। सियासी जानकारों का कहना है कि इन्हीं वजहों को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने इमरान को तिजारा से टिकट दे दिया है।

Edited By : Pankaj Soni | Updated: Nov 3, 2023 00:02
Share :
Congress, Imran Khan, Baba Balaknath, BSP, BJP
क्या बाबा बालकनाथ को चुनौती दे पाएंगे कांग्रेस के इमरान खान।

राजस्थान के चुनाव में इस बार अलवर की तिजारा विधानसभा सीट हॉट सीट बन गई है। इस सीट से अलवर से बीजेपी सांसद बाबा बालकनाथ मैदान पर है तो कांग्रेस ने इस सीट पर इमरान खान को मैदान में उतारा है। कांग्रेस के पहले इमरान को इसी सीट से बीएसपी ने टिकट दिया था लेकिन जब कांग्रेस ने उन्हें टिकट दिया तो बीएसपी ने उनका नाम वापस लेने की घोषणा कर दी। तिजारा सीट पर बाबा बालकनाथ के सामने इमरान खान के उतरने के बाद से इस सीट पर रोचक मुकाबले की बात होने लगी है।

मेवात इलाके में इमरान की अच्छी पकड़
राजनीतिक जानकारों का कहना है कि इमरान खान जनाधार वाले नेता माने जाते हैं। मेवात इलाके में इमरान की मजबूत पकड़ है। सियासी जानकारों का कहना है कि इन्हीं वजहों को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने इमरान को तिजारा से टिकट दे दिया है। इधर मायावती के द्वारा इमरान से टिकट वापस लिए जाने को लेकर सियासी चर्चाएं तेज हैं। इसमें एक तरफ यह कहा जा रहा है कि बीएसपी ने फीडबैक के आधार पर इमरान से टिकट ली है। वहीं यह बात भी सामने आ रही है कि मायावती और बीएसपी के नेताओं को यह जानकारी भी मिल रही थी कि इमरान कांग्रेस के संपर्क में है। मायावती के सियासी विरोधी कह रहे हैं कि वह पैसे लेकर टिकट देती हैं, इस वजह से इमरान से टिकट वापस लिया गया। इन सभी अटकलों के बीच यह साफ हो गया है कि अलवर के तिजारा से सांसद बालकनाथ चुनाव को इमरान अब सीधी टक्कर देंगे।

यह भी पढ़ें :  Rajasthan Election : टिकट बंटवारे को लेकर सचिन पायलट क्यों हुए नाराज? गहलोत का देंगे साथ या करेंगे बगावत

तिजारा सीट परल कौन सी पार्टी की जीत होती है
साल 2018 और 2013 के चुनावों में इस सीट पर कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ा था। कांग्रेस इस सीट पर बार बार प्रयोग करती है। यहां दुर्रू मियां का टिकट कांग्रेस काट चुकी है। वहीं बसपा से कांग्रेस में आए विधायक संदीप का टिकट काटकर भी अब कांग्रेस ने यहां नया प्रयोग किया है। साल 2018 में संदीप बसपा की टिकट से जीते थे। इससे पहले 2013 में मामन सिंह यादव ने इस सीट से जीत दर्ज की थी, जो बीजेपी से टिकट ना दिए जाने की वजह से नाराज हैं, जिन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया हैं।

बाबा बालकनाथ की फायरब्रांड इमेज है
राजस्थान में बाबा बालकनाथ की इमेज उत्तर प्रदेश में सीएम योगी की तरह फायरब्रांड नेता की है। हिंदू वोटों पर उनकी खासी पकड़ हैं। हिंदुत्व का मुद्दा उनके चुनावों को एक हिस्सा है। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्य नाथ आज 2 नवंबर को उनके समर्थन में चुनाव प्रचार किया। जितारा विधानसभा सीट पर बाबा बालकनाथ और इमरान खान दोनों की अपनी-अपनी तरह से पहुंच और पकड़ है। लेकिन चुनाव परिणाम के बाद ही पता चलेगा कि कौन किसको हरा पाता है।

यह भी पढ़ें : राजस्थान में कांग्रेस को फिर लगा झटका, 30 साल से वफादार रहे नेता ने थामा BJP का हाथ

First published on: Nov 03, 2023 12:01 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें