---विज्ञापन---

Sukhdev Singh Gogamedi की बच सकती थी जान, अगर राजस्थान पुलिस यह चूक न करती

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Update: बच सकत थी जान, अगर पुलिस चूक न करती। करणी सेना प्रमुख की हत्या का लॉरेंस प्लान पुलिस के हाथ लगा है, जानिए क्या था वह प्लान?

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Dec 6, 2023 18:23
Share :
Sukhdev Singh Gogamedi
Sukhdev Singh Gogamedi

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Latest Update: श्री राजपूत करनी सेना के प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की जान बच सकती थी, अगर राजस्थान पुलिस एक चूक न करती। लापरवाही न बरतती तो सरेआम हत्याकांड होने से बच जाता। मर्डर केस में हुई अब तक की पुलिस जांच में एक चौंकाने वाला सच सामने आया है। दरअसल, पंजाब AGTF के हाथ करनी सेना प्रमुख की हत्या का लॉरेंस प्लान हाथ लगा है, जिसके अनुसार गोगामेड़ी को लॉरेंस गैंग ने ही मरवाया है। संपत नेहरा ने साजिश रची थी। हत्या करने के लिए बाकायदा Ak-47 का इंतजाम किया जा रहा था। पंजाब पुलिस ने राजस्थान पुलिस को इसका इनपुट फरवरी महीने में ही दे दिया था। इसके लिए स्पेशली DG पंजाब के DGP राजस्थान को लेटर लिखा था। ATS DIG ने ADG इंटेलिजेंस को भी खत लिखा था, लेकिन राजस्थान पुलिस ने इस इनपुट के होने के बावजूद सुखदेव सिंह को सुरक्षा नहीं दी पाई और अब उसकी हत्या हो गई।

 

घर में घुसकर गोगामेड़ी को मारी गई गोलियां

बता दें कि मंगलवार को जयपुर में राजपूत करनी सेना के प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या कर दी गई थी। उन्हें घर में घुसकर 2 युवकों ने गोलियां मार दी थी। आरोपियों की पहचान रोहित राठौड़ मकराना, नागौर और नितिन फौजी के रूप में हुई। वहीं हम वारदात में गोगामेड़ी का गनमैन रह चुका नवीन भी मारा गया। हालांकि नवीन ही दोनों शूटरों को गोगामेड़ी के घर मुलाकात के बहाने से लेकर गया था, लेकिन गोगामेड़ी के साथ शूटरों ने उसे भी ठिकाने लगा दिया। हत्या के बाद गैंगस्टर रोहित गोदारा ने फेसबुक पोस्ट लिखकर मर्डर की जिम्मेदारी ली। पोस्ट में लिखा गया था कि राम राम, सभी भाइयों को मैं रोहित गोदारा कपूरीसर, गोल्डी बराड़। भाइयों आज यह जो सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है। इसकी संपूर्ण जिम्मेदारी हम लेते हैं। यह हत्या हमने करवाई है। भाइयों मैं अपको बताना चाहता हूं कि यह हमारे दुश्मनों से मिलकर उनका सहयोग करता था। उनको मजबूत करने का काम करता था। रही बात दुश्मनों की तो वह अपने घर की चौखट पर अपनी अर्थी तैयार रखें। जल्दी उनसे भी मुलाकात होगी।

 

गोगामेड़ी को पहले भी मिली थी धमकियां

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को पहले भी कई बार जाने से मारने की धमकी मिली चुकी थी। उन्होंने पुलिस को शिकायत भी दी थी। पुलिस से सुरक्षा मांगी थी, यह कहते हुए कि मेरी जान को खतरा है। पुलिस से सुरक्षा नहीं मिलने के कारण उन्होंने निजी गनमैन रखे थे, जो उनके परिवार के साथ जाते थे। 2017 में पद्मावत मूवी की जयगढ़ में शूटिंग के दौरान हुई तोड़-फोड़ को लेकर गोगामेड़ी चर्चा में आए थे। यह राजपूत करणी सेना के लोगों ने की थी। गोगामेड़ी ने गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर केस के बाद राजस्थान में विरोध प्रदर्शन भी किए थे।

लेटेस्ट खबरों के लिए फॉलो करें News24 का WhatsApp Channel

N24 Whatsapp Group

First published on: Dec 06, 2023 06:21 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें