Tuesday, June 6, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

इंटेलिजेंस की बड़ी कार्रवाई, पाकिस्तान को गोपनीय सूचनाएं भेजने वाले चार जने गिरफ्तार

Rajasthan: चार पाक जासूसों को बाड़मेर जिले के अलग-अलग क्षेत्रो से डिटेन किया है। इसमें एक जासूस आईएसआई के बुलावे पर कई बार पाकिस्तान भी गया।

के जे श्रीवत्सन, जयपुर: सीमा पार पाकिस्तान के साथ जासूसी के तार जुड़े होने की जानकारी के बाद राजस्थान की इंटेलिजेंस पुलिस ने बाड़मेर से चार लोगों को पकड़ा है, जो पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी कर रहे थे। इन चार पाक जासूसों को बाड़मेर जिले के अलग-अलग क्षेत्रो से डिटेन किया है। इसमें एक जासूस आईएसआई के बुलावे पर कई बार पाकिस्तान भी गया। साथ ही उसने वहां पर देश की गोपनीय व सामाजिक सूचनाएं दीं।

4 संदिग्ध लोगों को पकड़ा 

जासूस का पाकिस्तान एंबेंसी के अधिकारियों से भी सीधा संबंध सामने आ रहा है। जिसके बाद एटीएस सहित सुरक्षा एजेंसियां पूछताछ कर रही हैं। पुलिस के सूत्रों से मिली जानकारी ने अनुसार राजस्थान की सुरक्षा एजेंसियों को इनपुट मिल रहा था कि लम्बे समय से बाड़मेर के जासूस पाकिस्तान को सूचनाएं भेज रहे हैं। जिसके बाद राजस्थान इंटेलिजेंस की सूचना पर जयपुर एसओजी टीम ने बीते दो दिनों में अलग-अलग जगहों से 4 संदिग्ध लोगों को पकड़ा है। पूछताछ के बाद चारों को एसओजी टीम जयपुर ले गई।

सुरक्षा एजेंसियां कर रही हैं पूछताछ 

जयपुर में एटीएस सहित अलग-अलग सुरक्षा एजेंसियां गहनता से पूछताछ कर रही हैं। एसओजी सूत्रों से जानकारी मिली है कि टीम ने मंगलवार को बाड़मेर जिले के शिव इलाके से एक संदिग्ध रतन खान (52) पुत्र जीवरे खान को पकड़ा, जो पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम कर रहा था। वह सीमा पर लगातार देश की गोपनीय सूचनाएं भिजवा रहा था। ये भी सामने आया है कि वह 20 से ज्यादा बार पाकिस्तान की यात्रा कर चुका है। उस पर एजेसियों की लगातार निगाह रखी गई। जासूसी से संबंधी पुख्ता इनपुट मिलने के बाद एक दिन पहले पकड़ा गया। बाड़मेर में लंगो की ढाणी धारवी का रहने वाला आरोपी आईएसआई के लिए लोगों को तैयार करता था।

सांपों को पालने और कंबल बेचने का काम करता है आरोपी

आरोपी की पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी से संपर्क होने तथा दिल्ली में पाकिस्तानी एंबेंसी के अधिकारियों से संपर्क होने की बात भी सामने आई है। आरोपी स्थानीय लोगों को पाकिस्तान खुफिया एजेंसी के लिए तैयार करता था। फिर उन्हें पाकिस्तान भी भिजवाता था। एंबेसी से वीजा भी क्लियर करवाता था। पकड़ा गया आरोपी रतन खान गांव में सांपों को पालने के साथ कंबल बेचने का भी काम करता था। वहीं, बीते कुछ सालों से पासपोर्ट एजेंट का काम करता था। गांव के अलावा अन्य लोगों के पासपोर्ट बनाता था। इसके साथ ही सुरक्षा एजेंसियों ने चौहटन इलाके के एक संदिग्ध को पकड़ा है। वहीं, दो अन्य संदिग्ध जासूसों को भी पकड़ा है। विभिन्न सुरक्षा एजेंसियां चारों से पूछताछ कर रही है।

- विज्ञापन -

बाड़मेर रिफाइनरी की भी भेजी गई खुफिया सूचना

गिरफ्तार 4 आरोपियों में से एक आरोपी बॉर्डर होम गार्ड में तैनात सिपाही बताया जा रहा है। सिपाही की ड्यूटी थी बाड़मेर में मंगला रिफाइनरी में थी। वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI को भेजता रिफाइनरी की पूरी डिटेल भेजता था। फोटो वीडियो के माध्यम से पाकिस्तानी एजेंसी आईएसआई को भेजी रिफाइनरी की सभी जानकारी भेजी गई। भारतीय रिफाइनरी की जानकारी भेजने का यह पहला मामला है। आखिर क्यों पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी भारत की रिफाइनरी की सभी जानकारी जुटाना चाहती हैं, इस बारे में राजस्थान इंटेलिजेंस अब आरोपी से पूछताछ कर रही है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -