Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

पाली में सीवरेज चैंबर की सफाई के दौरान बड़ा हादसा, जहरीली गैस की चपेट में आने से 3 युवकों की मौत

पाली से लोकेश व्यास की रिपोर्टः पाली में एक मैरिज हॉल के सीवरेज चैंबर (हौद) की सफाई के दौरान 3 युवकों की मौत हो गई। वहीं, एक युवक को बचा लिया गया है। इधर, घटना की जानकारी मिलने के बाद जिला प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। मामला शहर के सुमेरपुर रोड स्थित केशव नगर के […]

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: May 6, 2023 11:29
Share :
Pali News

पाली से लोकेश व्यास की रिपोर्टः पाली में एक मैरिज हॉल के सीवरेज चैंबर (हौद) की सफाई के दौरान 3 युवकों की मौत हो गई। वहीं, एक युवक को बचा लिया गया है।

इधर, घटना की जानकारी मिलने के बाद जिला प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। मामला शहर के सुमेरपुर रोड स्थित केशव नगर के सेंचुरी गार्डन का है। हादसा रात 2 बजे हुआ था। शवों को सुबह 4 बजे बाहर निकाला गया।

एक बचाने उतरा लेकिन दम घुटने पर बाहर आ गया

जानकारी के अनुसार शुक्रवार रात करीब 10 बजे पांच सफाईकर्मी मैरिज गार्डन के सीवरेज चैंबर की सफाई करने पहुंचे थे। चैंबर शादी समारोह के वेस्ट (खाने) से भरा हुआ था। इनमें से 4 युवक हौद में उतरे हुए थे और एक युवक रस्सा लेकर बाहर खड़ा था। जैसे ही वे हौद की गहराई में पहुंचे, जहरीली गैस से उनका दम घुटने लगा।

वे बेहोश होकर चैंबर में ही गिर गए। अंदर फंसे युवकों को बचाने के लिए बाहर खड़ा लड़का भी रस्से के सहारे अंदर उतरा, लेकिन गैस से उसका भी दम घुटने लगा और वह बाहर आ गया।

हादसे में 3 लोगों की मौत

हादसे में पाली के पुराना बस स्टैंड वाल्मीकि बस्ती निवासी विशाल (28) पुत्र चैनाराम वाल्मीकि, करण (22) पुत्र मुकेश वाल्मीकि और बापूनगर वाल्मीकि बस्ती निवासी भरत (20) पुत्र अनिल वाल्मीकि की मौत हो गई। इनकी बॉडी बांगड़ हॉस्पिटल की मॉर्च्यूरी में रखवाई गई है।

वहीं, मंडिया रोड कालूजी बगेची निवासी 22 साल के रितिक को इस हादसे में बचा लिया गया। हादसे की सूचना पर नगर परिषद टीम, कोतवाली और औद्योगिक थाना पुलिस मौके पर पहुंचे। नगर परिषद के मड पंप से सीवरेज चैंबर से कचरा बाहर निकाला गया। बचाव टीम ने शनिवार सुबह करीब 4 बजे तीनों के शव बाहर निकाले।

बिना सुरक्षा उपकरणों के उतरे थे सफाईकर्मी

बताया जा रहा है कि सीवरेज चैंबर की सफाई करने उतरे सफाईकर्मियों के पास जहरीली गैस से बचने के लिए किसी तरह के सुरक्षा उपकरण नहीं थे। इसलिए जैसे ही चैंबर में उतरे, गैस से उनका दम घुटने लगा।

सेंचुरी गार्डन का सीवरेज चैंबर भी सड़क पर बना हुआ था, जबकि विवाह स्थल बॉयलाज के अनुसार मैरिज हॉल के मालिक को अपने अधिकार क्षेत्र की जमीन में ही शादी विवाह में होने वाले वेस्ट के निस्तारण के लिए हौद बनाना होता है।

First published on: May 06, 2023 11:04 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें