Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

सुहागरात के अगले दिन बहू ने ससुराल में काटा बवाल, अजीब डिमांड कर मायके जाने की धमकी

Wife Demand Husband Build Toilet: मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में एक पति-पत्नी का रिश्ता सुहागरात के अगले दिन ही टूटने की कगार पर है। शादी की अलगी सुबह पत्नी ने पति को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उसकी यह मांग पूरी न हुई तो वह यह रिश्ता तोड़ देगी।

Edited By : Pooja Mishra | Updated: Mar 17, 2024 16:43
Share :
Wife Demand Husband Build Toilet
पत्नी ने पति से की यह मांग

Wife Demand Husband Build Toilet: मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, यहां एक पति-पत्नी का रिश्ता सुहागरात के अगले दिन ही टूटने की कगार पर पहुंच गया है। दरअसल, शादी के बाद पत्नी ससुराल पहुंची तो वहां शौचालय नहीं था। इससे वह काफी नाराज हो गई, पत्नी अपने पति और ससुरालों को साफ-साफ शब्दों में कह दिया कि वह बिना शौचालय के ससुराल में नहीं रह सकती है। वहीं पति का कहना है कि वह गरीब है और शौचालय बनवाने के पैसे नहीं है। उसने बताया कि सरकारी मदद के लिए वह गांव पंचायत के सचिव के पास भी गया, वह उसकी कोई मदद नहीं कर रहा है।

बिना शौचालय के ससुराल में नहीं रहूंगी

यह मामला जिले के बलदेवगढ़ के चन्द्रपुरा गांव का है। चन्द्रपुरा गांव के रहने वाले राकेश भट्ट ने अपनी प्रेमिका मंजू से प्रेम विवाह के बाद उसे अपने घर लेकर आया। यहां उसके घर में टॉयलेट न होने पर मंजू नाराज हो गई। मंजू ने कहा कि वह खुले में शौच नहीं जाएगी और बिना शौचालय के वह ससुराल में नहीं रहेगी। मंजू ने पति से कहा कि शौचालय के अभाव में वह अपने मायके चली जाएगी। इसके साथ ही उसने राकेश को चेतावनी दी कि अगर शौचालय नहीं बनवाया तो वह दंपति जीवन तोड़ देंगी। हालांकि राकेश और उसके परिवार ने मंजू को काफी समझाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं मानी और अपनी जिद पर अड़ी रही।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के पूर्व CM शिवराज सिंह चौहान का बड़ा दावा, बोले- चुनाव में भाजपा 400 पार जाएगी, यह जनता की उद्घोषणा है

पत्नी की जिद को पूरा करने लगा पति 

पत्नी की जिद को देखते हुए राकेश सरकार की मदद से बनवाए जा रहे शौचालय की मांग करने पर गांव पंचायत का सचिव के पास पहुंचा। यहां सचिव ने उसकी मदद करने बजाय उससे गाली गलौच की और धमकाने लगा। इसके बाद राकेश भट्ट शौचालय बनवाने का आवेदन लेकर जनपद पंचायत कार्यालय पहुंचा। यहां अधिकारियों ने कहा कि ग्राम पंचायत से आवेदन लिखवाकर लाओं तभी आपका नाम शौचालय निर्माण की सूची में जोड़ा जाएगा। अधिकारी कहने पर जब राकेश ने पंचायत सचिव रादयाल यादव को फोन किया, तो फोन उठाने के साथ ही गाली गलौच शुरू कर दी और फोन काट दिया।

इस पूरे मामले को लेकर जनपद पंचायत सीईओ ने कहा कि शौचालय निर्माण के मामले में जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

First published on: Mar 17, 2024 04:43 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें