Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

टीचर भेजती, हम कमरे में जाते, वह गलत जगह हाथ लगाते…50 छात्राओं ने सुनाई प्रिंसिपल के ‘वहशीपन’ की कहानी

School Girls Sexual Harassment: पुलिस ने प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया तो उसके वहशीपन का शिकार हुई 50 छात्राओं ने राहत की सांस ली, साथ ही उन्होंने अपनी आपबीती दुनिया को बताई, आप भी पढ़ें...

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Nov 5, 2023 17:55
Share :
School Girls Harassment
School Girls Harassment

School Principal Arrested For Sexual Harassment: टीचर भेजती थी और हम कमरे में जाती थीं। जैसे ही हम अंदर जातीं, वह अश्लील बातें करने लगता। अपने पास खड़ा करके गलत जगह छूने लगता। विरोध करने पर फेल करने की धमकी देता। यह आपबीती उन 50 स्कूली छात्राओं की है, जिन्होंने अब आरोपी प्रिंसिपल के गिरफ्तार होने पर राहत की सांस ली और उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। लड़कियों ने अपनी भड़ास निकालते हुए मीडिया को भी अपनी आपबीती सुनाई। मामले में SIT ने कार्रवाई करते हुए आरोपी प्रिंसिपल करतार सिंह को गिरफ्तार किया और रविवार को उसे ड्यूटी मजिस्ट्रेट के सामने पेश करके रिमांड पर लिया। जींद के पुलिस उपाधीक्षक अमित भाटिया ने यह जानकारी दी।

<

>

पुलिस ने आरोपी को छापा मारकर पकड़ा

बता दें कि जींद के उचाना शहर के गवर्नमेंट स्कूल के प्रिंसिपल करतार सिंह के खिलाफ स्कूल की ही 50 छात्राओं ने मोर्चा खोला था। उन्होंने 5 पन्नों वाले लेटर के आधार पर कार्रवाई की गई है, जो 31 अगस्त 2023 को महिला आयोग दिल्ली, राष्ट्रपति और राज्यपाल के नाम लिखा गया था। जिला प्रशासन के पास पहुंची तो जांच कमेटी बनाई गई। DEO ज्योति श्योकंद जांच टीम में शामिल थी, जो पीड़ित छात्राओं से बाचीत करने पहुंची तो वे उन्हें अपनी कहानी सुनाते हुए रो पड़ीं। इसके बाद तुरंत प्रभाव से प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया गया। विभागीय जांच हुई, जिसमें वे दोषी पाए गए। विभाग ने पुलिस को मामले की शिकायत दी। विवाद बढ़ता देख प्रिंसिपल अंडरग्राउंड हो गया। पुलिस ने SIT गठित करके छापेमारी करवाई और आरोपी को दबोच लिया।

यह भी पढ़ें: पति ने मुझे शर्त में जीता…सुहागरात के अगले दिन पत्नी के सामने खुला वो राज, तलाक तक पहुंची बात

महिला आयोग ने मामले में कड़ा संज्ञान लिया

पुलिस ने छात्राओं की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं 354 ए (यौन उत्पीड़न), 341 (गलत तरीके से बंधक बनाना), तथा बाल यौन अपराध संरक्षण कानून के तहत मामला दर्ज किया। आरोपी प्रिंसिपल को निलंबित भी कर दिया गया है। हरियाणा महिला आयोग ने भी मामले में कड़ा संज्ञान लिया। शिक्षा विभाग की DEO, DSP को गत 2 नवंबर को पंचकूला तलब किया गया। छात्राओं को भी बुलाया गया था। वहीं महिला आयोग की अध्यक्ष रेनू भाटिया ने बताया कि छात्राओं ने अपने बयान में आरोपी पर छेड़छाड़ के आरोप लगाए। कुछ छात्राओं ने सुबूत भी पेश किए। आयोग इस मामले में सख्ती बरत रहा है। इस तरह की हरकतें बर्दाश्त से बाहर हैं। छात्राओं को न्याय दिलाया जाएगा। आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।

First published on: Nov 05, 2023 05:41 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें