Wednesday, September 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ghaziabad News: सड़क पार कर रहे 2 दोस्तों को कार ने रौंदा, दोनों की मौत, 9 दिन बाद थी 10वीं सालगिरह

पुलिस ने बताया कि हादसा देर रात करीब 11 बजे हुआ। मोनू कुमार (24) और अनिल सिंह (26) आर्य फार्म के पास खाना खाने के लिए एक ढाबे पर जाने के लिए सड़क पार कर रहे थे।

Ghaziabad News: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में देर रात लालकुआं के पास डायमंड फ्लाईओवर से नीचे तेज रफ्तार कार ने दो लोगों को रौंद डाला। दोनों की मौके पर ही मौत गई। वहीं ब्रेक लगाने के बाद अनियंत्रित कार कई बार पलटने गई। कार का चालक भी गंभीर रूप से घायल है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने बताया कि हादसा देर रात करीब 11 बजे हुआ। मोनू कुमार (24) और अनिल सिंह (26) आर्य फार्म के पास खाना खाने के लिए एक ढाबे पर जाने के लिए सड़क पार कर रहे थे।

एटा के रहने वाले थे दोनों दोस्त

जानकारी के मुताबिक मरने वाले दोनों युवक यूपी के एटा जिले के एक ही गांव के रहने वाले थे। लाल कुआं की एक फैक्ट्री में एक साथ काम करते थे। अनिल के परिवार में उसकी पत्नी और दो बच्चे (एक बेटा और एक बेटी) रह गए हैं। जबकि मोनू की शादी उसके गांव की रहने वाली एक लड़की के साथ तय की गई थी।

मोनू की नौकरी लगवाने के लिए अनिल उसे लाया था

थाना कवि नगर प्रभारी अमित कुमार ने कहा कि राहगीरों ने पुलिस को हादसे की सूचना दी थी। उन्होंने बताया कि दोनों युवक रात को खाना खाने के लिए एक ढाबे पर जा रहे थे। सड़क पार करते समय तेज रफ्तार ईको कार ने उन्हें रौंद डाला। दोनों की मौत हो गई। वहीं कार के चालक ने ब्रेक लगाए तो कार कई बार पलटे खा गई। हादसे में कार का चालक गंभीर रूप से घायल है। उसकी पहचान दिल्ली निवासी राकेश कुमार के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि लाल कुआं इलाके में अनिल और मोनू एक साथ रहते थे। अनिल यहां पहले से नौकरी कर रहा था। वह मोनू को भी नौकरी लगवाने के लिए एटा से लेकर आया था।

शादी की 10वीं सालगिरह के लिए खरीदी थी साड़ी

अनिल के साले पप्पू सिंह ने बताया कि अनिल 25 सितंबर को अपनी शादी की 10वीं सालगिरह पर घर जाने वाला था। रविवार को वह दिल्ली के चांदनी चौक से पत्नी के लिए साड़ी खरीदकर लाया था।  अनिल के परिवार वालों की शिकायत पर ईको चालक के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 ए (लापरवाही के कारण मौत) और 279 (रैश ड्राइविंग) के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि कार को जब्त कर लिया है और चालक का इलाज चल रहा है। इलाज खत्म होने के बाद उसे गिरफ्तार किया जाएगा।

इस साल 203 लोगों की गई है जान

जानकारी के मुताबिक इस साल 31 जुलाई तक गाजियाबाद में कुल 478 सड़क दुर्घटनाएं दर्ज की गईं। इनमें 203 लोगों की जान चली गई, जबकि 345 लोग घायल हुए। पिछले साल इसी अवधि के दौरान जिले में 463 दुर्घटनाएं हुई थीं। इन हादसों में कुल 227 लोगों की मौत हुई और 300 घायल हुए। ट्रैफिक पुलिस ने इस साल एक सर्वेक्षण किया और 16 ब्लैकस्पॉट और दुर्घटना संभावित क्षेत्रों की पहचान की।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -