Tuesday, November 29, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Shraddha Walker Murder Case: श्रद्धा के पिता को ‘लव जिहाद’ एंगल पर शक, अबतक 13 टुकड़े बरामद

Shraddha Walker Murder Case: पुलिस ने आफताब के किराए के फ्लैट से कुछ हड्डियां भी बरामद कीं और अधिकारियों ने कहा कि शरीर के बाकी हिस्सों को बरामद करने के प्रयास जारी हैं।

Shraddha Walker Murder Case: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अपने लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की हत्या के मामले में मृतका के पिता ने आरोपी आफताब के लिए मौत की सजा की मांग की है। श्रद्धा के पिता ने मामले में लव जिहाद के एंगल से भी जांच की मांग की है। न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए श्रद्धा के पिता विकास वाकर ने कहा कि मुझे लव जिहाद एंगल का शक है। उधर, पुलिस ने अब तक 13 टुकड़े बरामद कर लिए हैं।

विकास वाकर ने कहा कि हम आफताब के लिए मौत की सजा की मांग करते हैं। मुझे दिल्ली पुलिस पर भरोसा है और जांच सही दिशा में आगे बढ़ रही है। श्रद्धा अपने चाचा के करीब थी और मुझसे ज्यादा बात नहीं करती थी। मैं आफताब के संपर्क में कभी नहीं था। मैंने मुंबई के वसई में पहली शिकायत दर्ज कराई थी।

अभी पढ़ें Shraddha Murder Case: फ्रिज में खाना और श्रद्धा का कटा सिर…आफताब के दिल दहला देने वाले 10 खुलासे

 

अब तक की जांच में हुए ये खुलासे

श्रद्धा वाकर हत्याकांड मामले में अब तक की जांच में खुलासा हुआ है कि आफताब पूनावाला फूड ब्लॉगर था। इसके अलावा वह दिल्ली के एक कॉल सेंटर में काम करता था। पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है कि क्या उसने श्रद्धा की हत्या के लिए ही छतरपुर इलाके में फ्लैट किराए पर लिया था?

पुलिस जांच में ये भी सामने आया है कि दोनों के बीच अक्सर झगड़ा होता रहता था। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 2022 में दिल्ली शिफ्ट होने से पहले यह कपल 2019 में रिलेशनशिप में आया था। वे कुछ समय के लिए महाराष्ट्र में रहे। इसके बाद वे अलग-अलग जगहों पर गए और इस दौरान दोनों लिव इन में रहे।

हिमाचल में मिले शख्स के फ्लैट पर भी रुके थे श्रद्धा-आफताब

पुलिस के मुताबिक, श्रद्धा और आफताब मार्च-अप्रैल में हिमाचल प्रदेश गए थे। यहां उनकी मुलाकात दिल्ली के छतरपुर में रहने वाले एक शख्स से हुई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली शिफ्ट होने के बाद दोनों उसी शख्स के फ्लैट में रुके थे, जिससे वे हिमाचल में मिले थे।

थोड़े दिनों के बाद आफताब ने छतरपुर में एक फ्लैट किराए पर लिया जहां वह श्रद्धा के साथ शिफ्ट हो गया। कथित तौर पर 18 मई को छतरपुर फ्लैट में उसकी गला दबाकर हत्या कर दी थी। पुलिस को पता चला है कि हत्या से कुछ दिन पहले ही फ्लैट को किराए पर लिया था।

तो  क्या आफताब ने पहले ही बना लिया था हत्या का प्लान?

पुलिस सूत्रों ने कहा, ‘यह भी जांच का विषय है कि क्या आफताब ने पहले ही उसकी हत्या की साजिश रची थी?’ पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि देर रात दो बजे के बाद जब सड़कों पर लोगों का आना जाना कम हो जाता था तब वह अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा के शव के टुकड़ों को लेकर निकलता था और सुनसान जगह पर फेंक देता था।

इंस्टाग्राम पर आफताब के 28 हजार से ज्यादा फॉलोवर

पुलिस को पता चला है कि आरोपी आफताब ने ग्रेजुएशन किया है और अपने परिवार के साथ मुंबई में रहता था। उसके सोशल मीडिया को देखकर पता चलता है कि उन्होंने कुछ समय के लिए फूड ब्लॉगिंग भी की थी, हालांकि लंबे समय से उनके ब्लॉगिंग के बारे में कोई वीडियो नहीं आया था। उसकी आखिरी पोस्ट फरवरी में आई थी। उसके इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर 28,000 से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

पुलिस के मुताबिक, कुछ समय पहले तक श्रद्धा और आफताब दोनों कॉल सेंटर में काम करते थे। पता चला है कि हत्या के बाद आफताब शाम छह से सात बजे तक घर आ जाता था और फिर वहां फ्रिज में रखे शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने के लिए निकलता था। शव के कुछ टुकड़ों को वह एक काली पन्नी में रखता था और फिर उसे जंगल में फेंक देता था। पुलिस को उसके निशानदेही पर कुछ टुकड़े मिले हैं लेकिन ये फिलहाल पता लगाना मुश्किल है कि ये टुकड़े किसी इंसान के हैं या फिर जानवर के।

पिता शिकायत दर्ज न कराते तो बच निकलता आफताब

दिल्ली पुलिस ने छह महीने पुराने ब्लाइंड मर्डर केस को सुलझाया और आफताब को अपनी 28 साल की लिव-इन पार्टनर की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। आफताब ने गला घोंटकर हत्या के बाद श्रद्धा के 35 टुकड़े किए थे।

पुलिस ने सोमवार को बताया कि आरोपी की पहचान मुंबई निवासी आफताब अमीन पूनावाला (28) के रूप में हुई है, जिसे मृतका के पिता की शिकायत के आधार पर शनिवार को पकड़ा गया और उसे पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है।

डेटिंग ऐप के जरिए हुई थी आफताब-श्रद्धा की मुलाकात

आफताब और श्रद्धा एक डेटिंग साइट पर मिले थे और कुछ दिनों तक मुंबई में रहने के बाद में छतरपुर में किराए के मकान में साथ रहने लगे थे। दिल्ली पुलिस को श्रद्धा के पिता की शिकायत मिली और 10 नवंबर को प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

पुलिस ने बताया कि आफताब ने गूगल पर सर्च करने के बाद फर्श से लगे खून को कुछ केमिकल से साफ किया था और दागदार कपड़ों को ठिकाने लगा दिया। इसके बाद उसने श्रद्धा के शव को बाथरूम में शिफ्ट किया, फिर पास की दुकान से फ्रिज खरीदा। बाद में उसने शव को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर फ्रिज में रख दिया।

3 साल से लिव इन रिलेशन में थे आफताब और श्रद्धा

दक्षिण दिल्ली के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) अंकित चौहान ने न्यूज एजेंसी ANI को बताया कि श्रद्धा और आफताब तीन साल से लिव-इन रिलेशनशिप में थे। दोनों के दिल्ली शिफ्ट होने के तुरंत बाद श्रद्धा ने उस पर शादी करने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया था।

चौहान ने कहा कि शादी की बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा होता था। 18 मई को भी शादी की बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ जिसके बाद आफताब ने गला घोंटकर श्रद्धा की हत्या कर दी। डीसीपी चौहान ने कहा, “आरोपी ने हमें बताया कि उसने उसके टुकड़े किए और छतरपुर एन्क्लेव के जंगल क्षेत्र में उसके हिस्सों को पास के इलाकों में फेंक दिया।”

फ्रिज में श्रद्धा के चेहरे को हर रोज देखता था आफताब

सूत्रों के मुताबिक, श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब रोज उसी कमरे में सोता था, जहां उसने श्रद्धा की हत्या करने के बाद शव के टुकड़े किए थे। वह रोज फ्रिज में रखे श्रद्धा के चेहरे को भी देखता था। शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने के बाद आफताब ने कैमिकल से फ्रीज की भी सफाई की थी ताकि फॉरेंसिक वालों को कोई निशानी न मिले।

आफताब तक ऐसे पहुंची पुलिस

सूत्रों ने बताया कि श्रद्धा से पहले भी आफताब के कई लड़कियों से संबंध थे। अपराध करने से पहले उसने कई क्राइम फिल्में और वेब सीरीज भी देखीं, जिनमें अमेरिकन क्राइम ड्रामा सीरीज डेक्सटर भी शामिल है।

सितंबर में श्रद्धा की सहेली ने उसके परिवार को बताया कि पिछले ढाई महीने से श्रद्धा से उनका कोई संपर्क नहीं था और उनका मोबाइल नंबर भी बंद था। उसके परिवार ने उसके सोशल मीडिया अकाउंट्स को भी चेक किया और इस दौरान कोई अपडेट नहीं दिखा।

नवंबर में श्रद्धा के पिता पालघर (महाराष्ट्र) निवासी विकाश मदन वॉकर ने मुंबई पुलिस से संपर्क किया और गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। शुरुआती जांच के दौरान श्रद्धा की आखिरी लोकेशन दिल्ली में मिली और इसी के आधार पर मामला दिल्ली पुलिस को ट्रांसफर कर दिया गया।

श्रद्धा के पिता ने पुलिस को अपनी बेटी के आफताब के साथ संबंधों के बारे में बताया। जांच के दौरान पता चला कि आफताब और श्रद्धा दिल्ली आ गए थे और छतरपुर पहाड़ी इलाके में किराए के मकान में रहने लगे थे। पुलिस ने जांच के दौरान आफताब का पता लगाया और उसे गिरफ्तार कर लिया।

आफताब ने पूछताछ के दौरान अपना गुनाह कबूल कर लिया और कहा कि वे अक्सर लड़ते थे क्योंकि श्रद्धा उस पर शादी के लिए दबाव बना रही थी। अधिकारियों ने कहा, “आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और महरौली पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 302 (हत्या) और 201 (किए गए अपराध के साक्ष्य को गायब करना) के तहत मामला दर्ज किया गया है।”

अभी पढ़ें Shraddha Walker Murder Case: ‘मुझे बचा लो वरना आफताब मुझे मार डालेगा’, श्रद्धा ने अपनी दोस्त को भेजा था SOS

पुलिस ने आफताब के किराए के फ्लैट से कुछ हड्डियां भी बरामद कीं और अधिकारियों ने कहा कि शरीर के बाकी हिस्सों को बरामद करने के प्रयास जारी हैं।

अभी पढ़ें – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -