Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

Chhattisgarh: रामविचार नेताम को बनाया गया प्रोटेम स्पीकर, नई सरकार का पहला सत्र 19 दिसंबर से

Ramvichar Netam Elected Protem Speaker: वरिष्ठ भाजपा नेता रामविचार नेताम ने रविवार 17 दिसंबर को छत्तीसगढ़ विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर (अस्थायी अध्यक्ष) पद की शपथ ले ली है।

Edited By : Shailendra Pandey | Updated: Dec 17, 2023 13:21
Share :
Ramvichar Netam, Chhattisgarh Assembly, first session, BJP, Chhattisgarh News, Chhattisgarh government, Protem Speaker

Ramvichar Netam Elected Protem Speaker: भाजपा नेता और विधायक रामविचार नेताम को छत्तीसगढ़ विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर (अस्थायी अध्यक्ष) नियुक्त किया गया है। नेताम ने आज यानी रविवार 17 दिसंबर को प्रोटेम स्पीकर पद की शपथ ले ली है। राजभवन में आयोजित एक समारोह में राज्यपाल विश्वभूषण हरिचंदन ने 61 वर्षीय नेताम को शपथ दिलाई।

19 दिसंबर से शुरू होगा पहला सत्र

इस शपथ ग्रहण समारोह के दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम विष्णु देव साय, डिप्टी सीएम अरुण साव और विजय शर्मा तथा पूर्व सीएम भूपेश बघेल एंव अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे। वहीं, छत्तीसगढ़ की 6वीं विधानसभा का पहला सत्र भी 19 दिसंबर से शुरू होगा। इस संबंध में शनिवार देर रात विधानसभा सचिव दिनेश शर्मा ने अधिसूचना जारी की है। यह सत्र 19 से 21 दिसंबर तक होगा।

अधिसूचना जारी

अधिसूचना के अनुसार, सत्र के पहले दिन सदस्यों का शपथ, उसके बाद विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। वहीं, दूसरे दिन राज्यपाल का अभिभाषण तथा तीसरे दिन धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा, पारण और अनुपूरक बजट पारित होगा। इसके बाद सदन को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ कांग्रेस के 2 पूर्व विधायक पार्टी से निकाले गए, 6 साल तक नहीं लड़ पाएंगे कोई चुनाव

कौन हैं रामविचर नेताम?

छह बार विधायक चुने गए रामविचार नेताम को छत्तीसगढ़ भाजपा के वरिष्ठ नेताओं में से एक माना जाता है। वहीं, नेताम के नाम लगातार पांच बार विधायक बनने का रिकार्ड भी दर्ज है। रामविचार नेताम 1990, 1993, 1998, 2003 और 2008 में लगातार पांच बार विधायक चुने गए। वहीं, विधानसभा चुनाव 2023 में उन्होंने रामानुजगंड सीट से कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. तिर्की को 29,663 वोटों से मात दी है। इससे पहले नेताम रमन सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं।

रामविचार नेताम का जन्म बलरामपुर जिले के सनावल में एक किसान परिवार में हुआ था। नेताम अपनी प्रारम्भिक पढ़ाई पूरी करने के बाद, कॉलेज की पढ़ाई करने के लिए अंबिकापुर आ गए। इसके बाद वे वर्ष 1990 में पहली बार विधायक निर्वाचित होकर विधानसभा पहुंचे।

 

First published on: Dec 17, 2023 01:21 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें