Friday, September 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Banda Boat Accident: 17 लोगों की तलाश में जुटा सरकारी अमला, पीएमओ ने हादसे पर जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र ने बांदा में हुई घटना पर दुख जताया है। वहीं लखनऊ से लगातार मामले की निगरानी की जा रही है। शासन, प्रशासन और पुलिस अधिकारियों के मुताबित अभी 15 से 17 लोग लापता हैं।

Banda boat accident: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में गुरुवार दोपहर को हुए नाव हादसे में अभी तक राहत और बचाव कार्य जारी है। शासन, प्रशासन और पुलिस अधिकारियों के मुताबित अभी 15 से 17 लोग लापता हैं। इनकी तलाश में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और स्थानीय जल पुलिस को लगाया गया है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र ने इस घटना पर दुख जताया है। वहीं शासन की ओर से भी लगातार मामले की निगरानी की जा रही है।

पीएमओ ने किया ट्वीट

वहीं घटना के बाद पीएमओ की ओर से भी दुख जताया गया है। ट्विटर पर लिखा है, ‘उत्तर प्रदेश के बांदा में यमुना नदी में हुआ हादसा हृदयविदारक है। इस दुर्घटना में जिन्होंने अपनों को खोया है, उनके प्रति मैं अपनी शोक-संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार की देखरेख में स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटा है। वहीं अपनों के इतंजार में लोग नदी किनारे बैठे हुए हैं।

30 से ज्यादा लोग सवार थे नाव में, तेज हवा के कारण हुआ हादसा!

बांदा पुलिस ने बताया था कि फतेहपुर से मरका गांव जा रही एक नाव यमुना नदी की धार में पलट गई। नाव में 30 से ज्यादा लोग सवार थे। गुरुवार को जिला प्रशासन और पुलिस ने बताया कि तीन शवों को बरामद कर लिया गया है। बाकी की तलाश की जा रही है। अधिकारियों के मुताबिक नाव में 30 से ज्यादा लोग सवार थे। इनमें से करीब 15 लोग तैर कर किनारे तक आ गए। जबकि 15 से 17 लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं। वहीं तीन लोगों के शवों के मिलने की पुष्टि हो चुकी है। स्थानीय पुलिस अधिकारियों के मुताबिक तेज हवा चलने के कारण हादसा हुआ।

नाव में सवार लोगों के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं

हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि नाव में करीब 50 लोग सवार थे। कुल मिला कर अभी तक नाव में सवार लोगों के बारे में स्पष्ट आंकड़ा नहीं है। जानकारी के मुताबिक नाव में ज्यादातर महिलाएं बताई जा रही हैं। कहा जा रहा है कि ये महिलाएं राखी पर अपने मायके जा रही थीं। वहीं घटना के बाद देर रात जल शक्ति मंत्री रामकेश निषाद और डीआईजी विपिन मिश्र भी मौके पर पहुंच गए। जिला पुलिस और बचाव कार्य में लगी टीमों को खास निर्देश दिए।

बांदा में कैंप कर रहे हैं अधिकारी

मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि नाविक को हिरासत में लिया गया है। बचाव कार्य जारी है। अब तक करीब 20 लोगों को बचा लिया गया है और 14-15 लोग लापता हैं। तीन शव बरामद। प्रशासन और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। डीआईजी वीके मिश्रा ने कहा कि मौके पर एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें तलाश में जुटी हुई हैं। लगातार हो रही बारिश के कारण यहां फिसलन हो गई है। राहत एवं बचाव कार्य में थोड़ी समस्या आ रही है। उन्होंने बताया कि तीन शव अभी तक बरामद हुए है। जबकि 17 लापता लोगों की तलाश की जा रही है।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -