Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

ओवैसी के बयान पर अनिल विज ने दी प्रतिक्रिया, बोले- अच्छा है कि मुस्लिम आबादी घट रही है, इसे और गिरना चाहिए

नई दिल्ली: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अच्छा है कि मुसलमानों की आबादी घट रही है, इसे और गिरना चाहिए। भाजपा नेता ने कहा, “असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि भारत में मुसलमानों की आबादी घट रही […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Oct 10, 2022 12:27
Share :
haryana home minister, anil vij, haryana News, nuh violence, gurugram news, manohar lal khattar, sohna, badshahpur, haryana violence
हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज। -फाइल फोटो

नई दिल्ली: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अच्छा है कि मुसलमानों की आबादी घट रही है, इसे और गिरना चाहिए।

भाजपा नेता ने कहा, “असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि भारत में मुसलमानों की आबादी घट रही है। अगर ऐसा है, तो यह बहुत अच्छी बात है। इसे और गिराएं और इसे ‘हम दो हमारे दो’ पर लाएं।

अभी पढ़ें By-Election 2022: बिहार, ओडिशा विधानसभा उपचुनाव के लिए भाजपा ने उम्मीदवारों की घोषणा की, देखें लिस्ट

 

इससे पहले आज AIMIM चीफ ने जनसंख्या नीति पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त की। ओवैसी ने कहा, “घबराओ मत। मुस्लिम आबादी नहीं बढ़ रही है। बल्कि गिर रही है। सबसे ज्यादा कंडोम का इस्तेमाल कौन कर रहा है? हम कर रहे हैं। मोहन भागवत इस पर कुछ नहीं बोलेंगे।”

बता दें कि 5 अक्टूबर को आरएसएस प्रमुख ने वार्षिक दशहरा समारोह का उद्घाटन किया और जनसंख्या नीति को समान रूप से लागू करने पर जोर दिया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि बढ़ती आबादी बोझ न बने बल्कि संसाधन के रूप में इस्तेमाल की जा सके।

भागवत के बयान पर ओवैसी ने किया था ये दावा

भागवत के इस बयान पर ओवैसी ने यह भी दावा किया कि भारत में मुसलमानों की गरिमा एक सड़क के किनारे के कुत्ते से भी कम है। उन्होंने वायरल वीडियो का जिक्र करते हुए ये बातें कही जिसमें पुलिस अधिकारियों इस सप्ताह के शुरू में सार्वजनिक रूप से मुस्लिम पुरुषों को पीटते देखे गए थे।

ओवैसी ने कहा कि आप उन्हें पुलिस स्टेशन ले जा सकते थे, लेकिन आपने उनका सम्मान छीन लिया और उन्हें सीधे सड़कों पर मारा। 133 करोड़ के देश में जहां 30 करोड़ मुसलमान रहते हैं, एक मुसलमान की गरिमा सड़क के किनारे कुत्ते से कम है।

अभी पढ़ें –  ‘पहले शिवसेना को कमजोर किया, अब बारामती में दिवाली मनाई जा रही’, NCP पर BJP का आरोप

AIMIM चीफ ने ट्वीट कर कहा कि हर दिन बड़े पैमाने पर कट्टरपंथीकरण के सबूत मिल रहे हैं। पुलिस द्वारा डंडे बरसाना और भीड़ की हिंसा आम हो गई है। मुसलमानों के खिलाफ टार्गेट हिंसा को न्याय के रूप में माना जाता है। यह मोदी के विश्वगुरु/न्यू इंडिया/5 जी/$5 ट्रिलियन टन अर्थव्यवस्था की वास्तविकता है।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Oct 09, 2022 08:41 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें