Tuesday, February 7, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

FIFA World Cup में बड़ी जिम्मेदारी संभालेंगी महिलाएं, इतिहास में ऐसा पहली बार होगा

FIFA World Cup का रोमांच अब फैंस के सिर चढ़कर बोल रहा है, दर्शकों को हर मैच में जमकर मजा आ रहा है। लेकिन इस बार फीफा विश्वकप में एक बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है। जहां फीफा के इतिहास में महिलाएं मैच के दौरान बड़ी जिम्मेदारी संभालेंगी। जर्मनी और कोस्टा रिका के बीच होने वाले मैच में यह बदलाव दिखेगा। जानिए इस मैच में महिलाओं को कौन सी बड़ी जिम्मेदारी मिलने जा रही है।

मैच में होगी महिला रेफरी

फीफा वर्ल्ड कप में पहली बार जर्मनी और कोस्टा रिका के बीच होने वाले मैच में महिला रेफरी देखने को मिलेगी, फ्रांस की रहने वाली स्टेफनी फ्रापार्ट जर्मनी और कोस्टा रिका के बीच होने वाले मैच में फील्ड रेफरी की जिम्मेदारी संभालेंगी. इसके अलावा उनके साथ दो और अस्सिटेंट रेफरी के तौर पर भी महिलाएं ही साथ होंगी। जिनका नाम केरेन डियाज और नुइजा बैक है, ये दोनों भी अस्सिटेंट रेफरी के तौर पर मैच में नजर आएंगी। जिसे फीफा में बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है।

और पढ़िए – FIFA वर्ल्ड कप के बाद रोनाल्डो हर साल कमाएंगे इतने करोड़, Al Nassr से चल रही है बातचीत

पहले क्लब के लिए रेफरी बन चुकी हैं स्टेफनी फ्रापार्ट

स्टेफनी फ्रापार्ट इससे पहले क्लब के मैचों में बतौर रेफरी जिम्मेदारी संभाल चुकी हैं। 38 साल की फ्रापार्ट 2019 में फ्रांस की लीग-1 में हुए मैचों में रेफरी बनी थी । खास बात यह है कि इस लीग से नेमार और मेसी जैसे दिग्गज खिलाड़ी भी खेलते हैं।

विमेंस वर्ल्ड कप के फाइनल में रह चुकी है रेफरी

बता दें कि इससे पहले 2019 में हुए महिला विश्वकप (विमेंस वर्ल्ड कप) में भी फ्रापार्ट रेफरी की जिम्मेदारी निभा चुकी है। उन्होंने 2019 विमेंस वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में भी रेफरी की जिम्मेदारी निभाई थी। जबकि 2020 में आयोजित हुई चैंपियंस लीग में भी वे असिस्टेंट रेफरी रह चुकी है। जबकि अब वह एक और बड़ी जिम्मेदारी निभाने जा रही है, फ्रापार्ट अब मैन्स फुटबॉल मैच में रेफरी बनने वाली पहली खिलाड़ी होंगी।

और पढ़िए – FIFA World Cup में बड़ी जिम्मेदारी संभालेंगी महिलाएं, इतिहास में ऐसा पहली बार होगा

वहीं इस उपलब्धि पर स्टेफनी फ्रापार्ट ने भी बड़ा बयान दिया है, उनका कहन है कि उन्हें इस बात की बहुत खुशी है कि वह वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई, इससे यह बदलाव देखने को मिल रहा है कि अब सिलेक्शन जेंडर के आधार पर नहीं बल्कि योग्यता के आधार पर होता है। मुझे इस काम के लिए चुने जाने से दुनिया में अच्छा संदेश जाएगा। बता दें कि स्टेफनी फ्रापार्ट पहली ऐसी रेफरी होगी जो मैन्स मैच में रेफरी बनेगी।

और पढ़िए – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -