---विज्ञापन---

FIFA World Cup: क्या इन संयोग की वजह से जीती मेसी की टीम अर्जेंटीना, जानकर रह जाएंगे हैरान

FIFA World Cup: कतर के लुसैल स्टेडियम में कल फीफा वर्ल्ड कप का जबरदस्त फाइनल मैच हुआ, लेकिन आखिरकार जीत लियोनेल मेसी की टीम अर्जेंटीना को मिली, इस जीत के बाद एक संयोग की जमकर चर्चा हो रही है, लोगों का कहना है कि मेसी की जीत में यह संयोग भी बहुत काम आया है, […]

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Dec 20, 2022 10:34
Share :
fifa world cup 2022
fifa world cup 2022

FIFA World Cup: कतर के लुसैल स्टेडियम में कल फीफा वर्ल्ड कप का जबरदस्त फाइनल मैच हुआ, लेकिन आखिरकार जीत लियोनेल मेसी की टीम अर्जेंटीना को मिली, इस जीत के बाद एक संयोग की जमकर चर्चा हो रही है, लोगों का कहना है कि मेसी की जीत में यह संयोग भी बहुत काम आया है, जिसके चलते इतने नजदीक पहुंचने के बाद भी फ्रांस की टीम को हार का सामना करना पड़ा। आप भी इस संयोग के बारे में जानकर हैरान रह जाएंगे।

मेसी की जीत का पहला संयोग

अर्जेंटीना के लिए 36 साल बाद फीफा विश्वकप जीत में जो सबसे अहम संयोग रहा वह 1978 और 1986 के वर्ल्ड कप से जुड़ा था। दरअसल इन दोनों विश्वकप के तीसरे मैच में उस वक्त अर्जेंटीना के स्टार प्लेयर रहे मारियो केम्पस (1978) और डिएगो माराडोना (1986) मैच में पेनल्टी गोल दागने से चूक गए थे, इसके बाद इन दोनों फीफा वर्ल्ड कप पर अर्जेंटीना का ही कब्जा हुआ था।

और पढ़िए – FIFA World Cup 2022: विश्व कप में हुई पैसों की बारिश, जानें मेसी, रोनाल्डो और एम्बापे की टीम को मिले कितने रुपए

अर्जेंटीना ने इस वर्ल्ड कप के अपने ग्रुप-सी में आखिरी मैच में पोलैंड को 2-0 से हराया था। इसी तीसरे मैच में लियोनेल मेसी को पेनल्टी का एक मौका मिला था, लेकिन वह इसे गोल में तब्दील करने से चूक गए। मेसी वर्ल्ड के स्टार खिलाड़ियों में से एक हैं। साथ ही अपनी टीम के सबसे अनुभवी और स्टार प्लेयर हैं. कुछ इसी तरह अर्जेंटीना का सफर 1978 और 1986 के वर्ल्ड कप में रहा था। इस बार भी फीफा के तीसरे मैच में लियोनेल मेसी पेनल्टी में गोल दागने से रह गए, इस मैच में अर्जेंटीना ने पोलैंड को 2-0 से हराया था, लेकिन मेसी पेनल्टी का मौका नहीं भुना पाए थे, ऐसे में उनके लिए पहला संयोग यही बना। फ्रांस के खिलाफ मेसी ने गोल से ही शुरुआत की और टीम को शानदार जीत मिली।

‘Lionel Messi तुम महान हो’ अर्जेंटीना की जीत पर गदगद हुआ खेल जगत, सचिन से लेकर युवराज ने कुछ इस अंदाज में दी बधाई

मेसी की जीत का दूसरा संयोग

वहीं अर्जेंटीना की जीत का दूसरा और सबसे शानदार संयोग पीएसजी (PSG) क्लब से जुड़ा हुआ है, पीएसजी फ्रांस के पेरिस सेंट-जर्मेन का फुटबॉल क्लब है, जिसकी शुरुआत 21वीं सदी में हुई थी। 2001 में ब्राजील के स्टार प्लेयर रहे रोनाल्डिन्हो ने इस क्लब को जॉइन किया था, जिसके बाद 2002 के फीफा वर्ल्ड कप में ब्राजील को जीत मिली थी, ब्राजील की इस खिताबी जीत में रोनाल्डिन्हो का अहम रोल रहा था।

2017 में भी कुछ ऐसा ही हुआ था, फ्रांस के धाकड़ प्लेयर रहे एम्बाप्पे साल 2017 में (PSG) क्लब जॉइन कर लिया, जिसके बाद साल 2018 में फीफा विश्वकप हुआ और इस बार फीफा फ्रांस ने जीता, खास बात यह रही 2018 में फ्रांस को मिली इस जीत में एम्बाप्पे का अच्छा योगदान रहा था।

अब लियोनेल मेसी के लिए भी यही संयोग सबसे ज्यादा खास रहा। मेसी ने 2021 में पीएसजी क्लब जॉइन किया है, जबकि 2022 में वह फीफा विश्वकप के फाइनल में उनकी टीम पहुंची और अर्जेंटीना ने फाइनल में सांसे रोक देने वाले मैच में शानदार जीत दर्ज की। ऐसे में अर्जेंटीना की जीत के बाद इन दो संयोग की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है, जिसके चलते टीम को जीत मिली।

मेसी रहे जीत के हीरो

कल हुए फीफा वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में अर्जेंटीना ने शानदार जीत दर्ज की, जीत के हीरो मेसी ही रहें, मैच के 80 मिनट तक लियोनेल मेसी की अर्जेंटीना 2-0 से आगे चल रही थी, लेकिन अगले दो मिनटों में फ्रांस के एम्बाप्पे ने पूरी बाजी पलट दी, उन्होंने 97 सेकंड में दो गोल दागकर अर्जेंटीना को जीत से दूर कर दिया। इसके बाद 90 मिनट में भी मैच का नतीजा नहीं निकला, आधा घंटा तक वक्त बढ़ाया गया और तब भी मैच ड्रॉ ही रहा। आखिरकार फाइनल पेनल्टी शूटआउट में पहुंच गया, लेकिन यहां अर्जेंटीना ने कोई गलती नहीं की और 4-2 से फ्रांस को हरा दिया, जिससे 36 साल बाद लियोनेल मेसी की टीम चैम्पियन बन गई।

और पढ़िए – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

और पढ़िए FIFA World Cup 2022 से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Dec 19, 2022 01:06 PM
संबंधित खबरें