Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

जानिए कौन हैं शिव सुंदर दास, जिन्हें चेतन शर्मा के इस्तीफे के बाद बनाया जा सकता है BCCI का अंतरिम मुख्य चयनकर्ता

नई दिल्ली: चेतन शर्मा ने शुक्रवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के चीफ सलेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया। उनके इस्तीफे के बाद अब अटकलें तेज हो गई हैं। कहा जा रहा है कि भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज शिव सुंदर दास को राष्ट्रीय चयन समिति का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया जा सकता है। […]

Edited By : Pushpendra Sharma | Updated: Feb 17, 2023 23:42
Share :
shiv sunder das bcci chetan sharma
shiv sunder das bcci chetan sharma

नई दिल्ली: चेतन शर्मा ने शुक्रवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के चीफ सलेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया। उनके इस्तीफे के बाद अब अटकलें तेज हो गई हैं। कहा जा रहा है कि भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज शिव सुंदर दास को राष्ट्रीय चयन समिति का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया जा सकता है। चेतन शर्मा ने एक स्टिंग ऑपरेशन में कई खुलासे किए थे, जिसके बाद उन्हें पद से इस्तीफा देना पड़ा।

कौन हैं शिव सुंदर दास?

भुवनेश्वर उड़ीसा में जन्मे 45 साल के शिव सुंदर दास भारत के पूर्व ओपनर हैं। दास ने टीम इंडिया के लिए 23 टेस्ट और 4 वनडे खेले। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ ढाका में 10 नवंबर 2000 को टेस्ट डेब्यू किया था। जबकि 2001 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे डेब्यू कर चुके हैं। भारतीय टेस्ट टीम में जगह बनाने वाले वे उड़ीसा के केवल दूसरे खिलाड़ी बने थे। वह कुछ समय के लिए भारत की पहली पसंद के सलामी बल्लेबाज थे। उन्होंने कई बार सचिन तेंदुलकर के साथ पारी की शुरुआत की थी। वह महिला टीम के बैटिंग कोच भी रह चुके हैं।

और पढ़िए – IPL 2023 Venue: इन 12 शहरों में होंगे IPL के सभी मैच, इंदौर-रायपुर के फैंस के लिए बुरी खबर

टेस्ट में दो शतक जमा चुके हैं दास

दास ने अपने टेस्ट करियर में दो शतक लगाए। खास बात यह है कि उनके दोनों शतक नागपुर में जिम्बाब्वे के खिलाफ आए। हालांकि 2002 में भारत के वेस्ट इंडीज दौरे पर उनके प्रदर्शन ने निराश किया। हालांकि उन्होंने 2006-07 में घरेलू क्रिकेट में शानदार वापसी की और अपना पहला तिहरा शतक लगाया। उस दौर में उड़ीसा क्रिकेट एसोसिएशन ने उन्हें 30,000 रुपये का नकद पुरस्कार देकर सम्मानित किया।

चयन पैनल के मौजूदा लॉट में सबसे ज्यादा मैच

2010-11 में उन्हें न केवल उड़ीसा की कप्तानी से हटा दिया गया था, बल्कि पांच पारियों में सिर्फ पांच रन बनाने के बाद उड़ीसा टीम से भी बाहर कर दिया गया। दास ने अपने करियर में 23 टेस्ट खेले, जो चयन पैनल के मौजूदा लॉट में सबसे अधिक हैं। चेतन और पूरी चयन समिति को पहले ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप से भारत के सेमीफाइनल से बाहर होने के बाद बर्खास्त कर दिया गया था। उन्होंने पद के लिए फिर से आवेदन किया और उन्हें अध्यक्ष के रूप में फिर से नियुक्त किया गया।

और पढ़िए – IND vs AUS: मोहम्मद शमी ने दिखाया बड़ा दिल, मैदान में घुसे फैन को इस तरह बचाया

स्वेच्छा से दिया इस्तीफा

कहा जा रहा है कि बीसीसीआई भविष्य में खिलाड़ियों और अधिकारियों के मीडिया से बात करने पर रोक लगा सकता है। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ सूत्र ने कहा, ‘चेतन ने अपना इस्तीफा बीसीसीआई सचिव जय शाह को सौंप दिया है और उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है। उन्होंने स्वेच्छा से इस्तीफा दे दिया था। उन्हें इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा गया था।’ चेतन बंगाल और सौराष्ट्र के बीच रणजी ट्रॉफी फाइनल के लिए चयन समिति के अन्य सदस्यों के साथ कोलकाता में थे। वे ईरानी कप टीम का चयन करने के लिए वहां गए थे। हालांकि उनका इस्तीफा मंजूर हो जाने के बाद चेतन दिल्ली के लिए रवाना हो गए और यहां हवाईअड्डे पर इंतजार कर रहे मीडिया से बचते हुए निकल गए।

और पढ़िए – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Feb 17, 2023 07:56 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें