Thursday, December 8, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

IND vs AUS Test Series 2023: BCCI की तैयारी, 5 साल बाद ये शहर कर सकता है टेस्ट की मेजबानी

IND vs AUS Test Series 2023: पीटीआई ने बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से कहा- "फिलहाल चार टेस्ट मैचों में से दूसरे की मेजबानी दिल्ली कर सकता है।"

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया की टीम फरवरी-मार्च में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला के लिए भारत का टूर करेगी। खास बात यह है कि दिल्ली पांच साल से अधिक समय के बाद टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा। अन्य टेस्ट अहमदाबाद, धर्मशाला और चेन्नई, नागपुर और हैदराबाद में से एक में होने की संभावना है।

पीटीआई ने बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से कहा- “फिलहाल चार टेस्ट मैचों में से दूसरे की मेजबानी दिल्ली कर सकता है।” “तारीखों का पता तब चलेगा जब टूर और फिक्स्चर समिति अपनी बैठक करेगी। धर्मशाला ने लगभग छह साल पहले मार्च, 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने पहले और एकमात्र टेस्ट की मेजबानी की थी। धर्मशाला तीसरे टेस्ट की मेजबानी कर सकता है।”

अभी पढ़ें IND vs AUS Test Series 2023: BCCI की तैयारी, 5 साल बाद ये शहर कर सकता है टेस्ट की मेजबानी

चेन्नई, नागपुर या हैदराबाद में पहला टेस्ट

चेन्नई, नागपुर या हैदराबाद के पहले टेस्ट की मेजबानी करने की संभावना है। अहमदाबाद आखिरी टेस्ट की मेजबानी कर सकता है। इनमें से एक टेस्ट डे-नाइट का होने की उम्मीद है। बीसीसीआई ने अब तक पिंक बॉल से खेले गए तीन डे-नाइट टेस्ट की मेजबानी की है। 2019 में कोलकाता में बांग्लादेश के खिलाफ, 2021 में अहमदाबाद में इंग्लैंड के खिलाफ और इस साल की शुरुआत में बेंगलुरु में श्रीलंका के खिलाफ ये मैच खेले गए थे। दिल्ली में आखिरी टेस्ट दिसंबर 2017 में श्रीलंका के खिलाफ खेला गया था।

WTC से पहले आखिरी दो मैच

अगले साल जून में लंदन के द ओवल में खेले जाने वाले ICC वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल से पहले ऑस्ट्रेलिया और भारत दोनों के लिए ये आखिरी मैच होंगे। ऑस्ट्रेलिया वर्तमान में 70 प्रतिशत अंकों के साथ शीर्ष पर है, उसके बाद दक्षिण अफ्रीका (60), श्रीलंका (53.33) और फिर भारत (52.08) का स्थान है।

अभी पढ़ें सेमीफाइनल में भारत के खिलाफ तबाही मचाने वाले बल्लेबाज को लगी फटकार

इस तरह क्वालिफाई कर सकती है ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया को इस WTC चक्र में नौ टेस्ट खेलने हैं, जो सभी टीमों में सबसे अधिक है। भारत के खिलाफ 4 टेस्ट, दो श्रृंखलाओं में दो वेस्टइंडीज के खिलाफ और तीन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तय हैं। उनमें से पांच घरेलू सरजमीं पर हैं। अगर ऑस्ट्रेलिया नौ मैचों में 6-3 जीत-हार का रिकॉर्ड हासिल कर लेता है, तो उसका प्रतिशत सुधरकर 68.42 हो जाएगा, जिससे वह क्वालीफाई करने की मजबूत स्थिति में पहुंच जाएगा।

अभी पढ़ें  खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -