Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

Bijnor: ‘घर-घर तिरंगा बांट रहे हो, सिर तन से जुदा कर दिया जाएगा…’, दहशत में है परिवार

बिजनौरः उत्तर प्रदेश के बिजनौर (Bijnor) जिले में एक परिवार को मोहल्ले में तिरंगा झंडा बांटने पर ‘सिर तन से जुदा’ की धमकी मिली है। पीड़ित के घर के सामने तीन पोस्टर चिपाकाए गए हैं। धमकी देने वाले ने खिद को आईएसआई  (ISI) का समर्थक बताया है। वहीं मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Aug 16, 2022 12:40
Share :

बिजनौरः उत्तर प्रदेश के बिजनौर (Bijnor) जिले में एक परिवार को मोहल्ले में तिरंगा झंडा बांटने पर ‘सिर तन से जुदा’ की धमकी मिली है। पीड़ित के घर के सामने तीन पोस्टर चिपाकाए गए हैं। धमकी देने वाले ने खिद को आईएसआई  (ISI) का समर्थक बताया है। वहीं मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है। परिवार को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराई गई है। वहीं पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर पोस्टर चिपकाने वाले की तलाश शुरू कर दी है।

पत्नी आंगनबाड़ी तो पति फास्ट फूड का करता है काम

बिजनौर के कीरतपुर में शशिबाला अपने परिवार के साथ रहती हैं। उनके परिवार में पति अरुण कुमार कश्यप और तीन बच्चे हैं। शशिबाला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं, जबकि उनके पति फास्ट फूड का काम करते हैं। पीड़ित परिवार ने बताया कि सरकार की ओर से चलाए जा रहे हर घर तिरंगा अभियान के तहत उन्होंने अपने मोहल्ले में तिरंगा झंडे बांटे थे। वहीं 15 अगस्त (सोमवार) की सुबह उनके घर के बाहर तीन पोस्टर चिपके हुए मिले।

पोस्टर पर नीचे लिखा ‘आईएसआई का समर्थक’

इन पोस्टर में लिखा है, ‘तुम बहुत घर-घर तिरंगे बांट रहे हो, तुम्हारा भी सिर तन से जुदा कर दिया जाएगा।’ पोस्टर पर आईएसआई का समर्थक लिखा था। वहीं पोस्टर देखकर परिवार दहशत में आ गया। उन्होंने तत्काल मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर पुलिस भी अलर्ट हो गई। पीड़ित परिवार की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। वहीं स्थानीय पुलिस के अलावा खुफिया एजेंसियों को भी मामले की जानकारी दी गई है।

परिवार की सुरक्षा में लगे पुलिस के जवान

पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई है। जांच करने के लिए पहुंची पुलिस ने तीनों पोस्टर को अपने कब्जे में लिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पोस्टर पर हाथ से धमकी लिखी गई है। पुलिस ने बताया कि दो पोस्टर पीड़ित के दरवाजे पर और एक पोस्टर उनके फास्टफूड के ठेले पर चिपका था। पीड़ित परिवार का कहना है कि घर के बच्चे बाहर पढ़ने के लिए जाते हैं। ऐसे में उन्हें काफी डर लग रहा है।

पुलिस के अलावा खुफिया विभाग भी जांच में जुटा

वहीं बिजनौर के अपर पुलिस अधीक्षक प्रवीण रंजन सिंह ने बताया कि मामले को गंभीरता से लिया गया है। पीड़ित परिवार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। वहीं सुरक्षा के लिए पुलिस के जवानों की तैनाती पीड़ित के घर पर की गई है। स्थानीय पुलिस के अलावा खुफिया विभाग को भी मामले की जांच सौंपी गई है। जांच के बाद ही पता चलेगा कि यह किसी की शरारत हैं या फिर इसके पीछे का मकसद क्या है।

First published on: Aug 16, 2022 12:40 PM
संबंधित खबरें