Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

मणिपुर में 19 थानों को छोड़कर पूरा प्रदेश Disturbed Area घोषित, खड़गे बोले- खूबसूरत राज्य युद्धक्षेत्र में बदला

Manipur Violence Update Government Announced Disturbed Area Internet Ban: मणिपुर में दो स्टूडेंट्स की हत्या के बाद हालात फिर से बिगड़ गए हैं। राज्य सरकार ने एक अक्टूबर से अगले 6 महीने के लिए राज्य को अशांत क्षेत्र घोषित किया है। सिर्फ 19 थानों को इससे अलग रखा गया है। इंटरनेट भी बैन कर दिया […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Sep 27, 2023 16:20
Share :
Manipur Violence, Internet Ban, BJP Government, Narendra Modi, Mallikarjun Kharge
Manipur Violence

Manipur Violence Update Government Announced Disturbed Area Internet Ban: मणिपुर में दो स्टूडेंट्स की हत्या के बाद हालात फिर से बिगड़ गए हैं। राज्य सरकार ने एक अक्टूबर से अगले 6 महीने के लिए राज्य को अशांत क्षेत्र घोषित किया है। सिर्फ 19 थानों को इससे अलग रखा गया है। इंटरनेट भी बैन कर दिया गया है। हिंसा में कमी आने के बाद 23 सितंबर मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल की गई थीं।

सरकार ने यह कदम सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम (AFSPA) कानून के तहत उठाया है। इसके तहत सशस्त्र बलों, राज्य और अर्धसैनिक बलों को विशेष शक्तियां मिल जाती हैं।

सरकार ने कहा- मदद के लिए सशस्त्र बलों की जरूरत

जारी आदेश में एन बीरेन की सरकार ने कहा कि कई चरमपंथी/विद्रोही विचाराधारा के हिंसक हमले के कारण पूरे मणिपुर में नागरिक प्रशासन की सहायता के लिए सशत्र बलों की जरूरत है। आगे कहा गया है कि राज्य में समग्र कानून और व्यवस्था की स्थिति और राज्य की कानून की क्षमता को देखते हुए राज्य सरकार ने छह महीने की अवधि के लिए वर्तमान शांति क्षेत्र की स्थिति पर यथास्थिति बनाए रखने का निर्णय लिया है।

इन थानों को आदेश से रखा गया बाहर

इंफाल, लाम्फेल, सिटी, सिंजामेई, सेकमाई, लैमसांग, पाटसोई, वांगोई, पोरोम्पैट, हेइंगांग, लामलाई, इरिलबांग, लीमाखोंग, थौबल, बिष्णुपुर, नामबोल, मोइरंग, काकशिंग और जिरीबाम पुलिस थानों को इस आदेश से बाहर रखा गया है।

दो छात्रों की हत्या के बाद बिगड़ा माहौल

दरअसल, इंफाल में मंगलवार को दो छात्रों के अपहरण और हत्याकांड को लेकर पूरे प्रदेश में हिंसक प्रदर्शन हुए। हजारों छात्रों ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया। इस दौरान रेड एक्शन फोर्स के साथ झड़प हुई। जिसमें 45 लोग घायल हो गए। बुधवार को लगातार दूसरे दिन भी प्रदर्शन हुए।

आज इंफाल जाएगी सीबीआई

स्टूडेंट्स की हत्या की जांच के लिए सीबीआई आज इंफाल जाएगी। इसकी जानकारी सीएम एन बीरेन सिंह ने दी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में केंद्र और राज्य सरकार मिलकर काम कर रही है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। जल्द ही सभी आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।

खड़गे ने उठाई ये मांग

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बुधवार को मणिपुर में हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की है। उन्होंने मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह को बर्खास्त करने की मांग की। उन्होंने एक्स पर ट्वीट करते हुए लिखा कि 147 दिनों से मणिपुर के लोग पीड़ित हैं। लेकिन पीएम मादी के पास मणिपुर जाने का समय नहीं है। खूबसूरत मणिपुर को युद्ध के मैदान में बदल दिया गया है। यह सब बीजेपी के कारण है। अब समय आ गया है कि पीएम मोदी बीजेपी के अयोग्य सीएम को बर्खास्त करें।

यह भी पढ़ें: G20 Summit: दिल्ली में लगे शिवलिंग पर तकरार, AAP सांसद बोले- मोदीजी के नेतृत्व में भगवान का अपमान

First published on: Sep 27, 2023 04:19 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें